हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

आपकी ये बेवकूफियां न बना दें उन्‍हें गर्भवती

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jul 04, 2014
अगर आप वास्तव में अपनी साथी से प्यार करते हैं तो जाहिर है कि आप ऐसी कोई गलती नहीं करना चाहेंगे जिससे आपको और आपकी साथी को अनचाहे गर्भ का सामाना करना पड़े। लोग अक्सर जानकारी के अभाव में ये गलतियां कर बैठते हैं।
  • 1

    अनचाहे गर्भधारण से जुड़ी गलतियां

    यदि आप वाकई अपनी साथी से प्यार करते हैं तो प्यार से भरे उन अंतरग पलों में ऐसी कोई बेवकूफी नहीं करेंगे जिसकी वजह से आपकी साथी को अंनचाहे गर्भधारण जैसी समस्या का सामना करना पड़े। लेकिन कई बार यौन अज्ञानता या लापरवाही के चलते कुछ लोग ऐसी गलतियां कर बैठते हैं जिसका दुष्परिणाम उन्हें अनचाहे गर्भधारण के रूप में झेलना पड़ता है। आइये जानें कौंन सी हैं ये गलतियां कम बेवकूफियां....
    Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    अनचाहे गर्भधारण से जुड़ी गलतियां
  • 2

    पीरियड्स के दौरान असुरक्षित सेक्स

    कुछ लोग सोचते हैं कि पीरियड्स के दौरान असुरक्षित सेक्स से गर्भ नहीं ठहरेगा। लेकिन अगर आप यह सोचते हैं कि पीरियड्स के दौरान असुरक्षित सेक्स करने में कोई जोखिम नहीं है तो आपको इस मुगालते से बाहर आने की सक्त जरूरत है। दरअसल मासिक चक्र के दौरान असुरक्षित सेक्स से गर्भ ठहरने की आशंका कम जरूर होती है लेकिन यह सौ प्रतिशत सुरक्षित नहीं है।
    Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    पीरियड्स के दौरान असुरक्षित सेक्स
  • 3

    ऑर्गेज्म और गर्भधारण

    कई बार कुछ लोग यह मानकर कि ऑर्गेज्म न होने से प्रेग्नेंसी नहीं होती, बेफिक्र हो जाते हैं। लेकिन यह धारणा बिल्कुल गलत है। गर्भधारण के लिए ऑर्गेज्म हो ही ऐसा जरूरी नहीं। यदि ऑर्गेज्म के बिना भी फर्टाइल अंडों तक अगर वीर्य पहुंचता है तो भी गर्भ ठहर सकता है।
    Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    ऑर्गेज्म और गर्भधारण
  • 4

    बाहर स्खलन कर देने से

    अगर आप यह सोचते हैं कि स्खलन से पहले ही लिंग को बाहर कर देंगे तो आपकी साथी को गर्भधारण नहीं होगा। तो जान लें कि यह बस एक मिथक है और सच से इसका कोई वास्ता नहीं। कई बार बिना ऑर्गेज्म के ही स्पर्म स्खलित हो जाता है और अनचाहे गर्भ का कारण बन सकता है। दूसरा यह सुनने में आसान भले ही लगता हो, लेकिन असल में उतना आसान नहीं है। ज्यादातर मामलों में उत्तेजना में वीर्य अंदर ही स्खलित हो जाता है।
    Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    बाहर स्खलन कर देने से
  • 5

    गर्भ निरोधक गोलियां हमेशा सुरक्षित होती हैं

    जो पुरुष और महिलाएं जो यह सोचते हैं कि गर्भ निरोधक गोलियां गर्भ रोकने में सौ प्रतिशत कारगर उपाय हैं, वे जान लें कि यह उनका भ्रम है। गर्भ निरोधक गोलियां शरीर में उन हार्मोन को डालती हैं जिससे गर्भ को रोकने में आसानी हो लेकिन कई बार शरीर में ऐसे हार्मोन के बनने में अधिक समय भी लग सकता है। ऐसे में सुरक्षित सेक्स के लिए बैकअप कंट्रासेप्टिव का विकल्प जरूर रखें।
    Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    गर्भ निरोधक गोलियां हमेशा सुरक्षित होती हैं
  • 6

    कंडोम कर देता है मज़ा कम

    अधिकांश लोगों में यह गलत धारणा होती है कि कंडोम का इस्तेमाल यौन-आनंद को कम कर देता है। लेकिन यह एक बड़ा मिथक है, जो सेक्स को लेकर बेहद जागरूक लोगों में भी घर किये हुए है। हालांकि, इंडियाना यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ़ पब्लिक हेल्थ के एक अध्ययन के अनुसार कंडोम के इस्तेमाल के बाद भी मर्द इरेक्शन और ऑर्गेज्म के उसी चरम पर पहुंच सकते हैं जहां तक वे बिना कंडोम के पहुंच पाते हैं।
    Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    कंडोम कर देता है मज़ा कम
  • 7

    दो कंडोम का एक साथ

    कई लोग होशियारी की हदें ही पार कर देते हैं और सोचते हैं कि दो कंडोम का एक साथ इस्तेमाल करने से वे गर्भधारण के खतरे को कम कर देंगे। हालांकि यह सच नहीं है। दो कंडोम का इस्तेमाल उन दोनों के बीच घर्षण पैदा करेगा जिसके कारण उनके फटने का खतरा पहले से कहीं ज़्यादा बढ़ जाएगा और अनचाहे गर्भधारण की संभावना बढ़ जाएगी।
    Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    दो कंडोम का एक साथ
  • 8

    कंडोम की जांच न करना

    कई बार पुरुष उत्तोजना और जल्दबाजी में कंडोम की ठीक प्रकार से जांच नहीं करते, जो गलत हैं। अगर आप कंडोम का इस्तेमाल कर रहे हैं तो पूरी तरह सुनिश्चित कर लें कि वह कही से कटा - फटा तो नहीं है और आपने उसे ठीक प्रकार से पहना है।
    Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    कंडोम की जांच न करना
  • 9

    कंडोम में हवा रह जाना

    कई बार जानकारी की कमी या जल्दबाजी में कंडोम पहनने से इसमें हवा रह जाती है। जिस कारण उसमें हल्का सा उभार रह जाता है। कंडोम में हवा होने से ना सिर्फ कंडोम के फटने की आशंका कई गुना बढ़ जाती है बल्कि इससे लेटेक्स पर भी ज्यादा दबाव पड़ता है।
    Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    कंडोम में हवा रह जाना
  • 10

    कंडोम खोलने का गलत तरीका

    अनचाहे गर्भ से बचने के लिए कंडोम को ठीक से इस्‍तेमाल करना बेहद जरूरी होता है। इसलिए सावधानी और सही तरीके से कंडोम को पैकेट से बाहर निकालें। कंडोम के पैकेट को कैंची या दांत से काटकर न खोलें। ऐसे करने से इसमें कट लग सकता है। कंडोम के पैकेट को हमेशा अंगुलियो की मदद से एक किनारे से ही खोलें। इसे बीच से न खोलें।
    Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    कंडोम खोलने का गलत तरीका
  • 11

    पुराने कंडोम का इस्तेमाल

    यदि आप सोचते हैं कि नया कंडोम न होने पर पहले से उपयोग किया कंडोम इस्तेमाल सकते हैं तो यह बहुत बड़ा बेवकूफी होगी। एक कंडोम केवल एक बार इस्तेमाल होने के लिए बना होता है, फिर चाहे आप इसे कितना भी धो लें, वह दोबारा इस्तेमाल के लायक कतई नहीं रहता। यदि आपके पास कंडोम नहीं है तो आप पेनिट्रेटिव सेक्स के बजाए बिना इंटरकोर्स किए सेक्स के कई दूसरे तरीकों उपयोग कर सकते हैं।
    Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    पुराने कंडोम का इस्तेमाल
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर