हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

सेक्स के दौरान सिरदर्द की बीमारी कोइटल सिफैल्जिया

By:Pradeep Saxena, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Nov 19, 2014
सेक्स के दौरान सिरदर्द की समस्या कोइटल सिफैल्जिया हो सकती है। यह एक दुर्लभ बीमारी है। इसकी शुरूआती स्टेज में सेक्स से पहले और दौरान सर में हल्का दर्द होता है। लेकिन, कभी कभी सिरदर्द घातक भी हो जाता है।
  • 1

    सेक्स के दौरान सिरदर्द की बीमारी

    किसी भी प्रकार के सेक्स के दौरान सर में दर्द की समस्या हो सकती है। इस समस्या का नाम है कोइटल सिफैल्जिया। वैसे सेक्स के दौरान होने वाला ये सिरदर्द दुर्लभ बिमारी है। 360 प्रकार के सर दर्दों से ग्रस्त लोगों में से केवल एक को कोइटल सिफैल्जिया होता है। ये  दर्द कुछ घंटों या फिर एक दिन का होता है लेकिन, इसमें काफी तकलीफ होती है।

    Image Source - Getty Images

    सेक्स के दौरान सिरदर्द की बीमारी
  • 2

    पुरूषों को ज्यादा खतरा

    माना जाता है कि पुरूषों की तुलना में महिलाओं को सिरदर्द अधिक होता है, लेकिन कोइटल सिफैल्जिया की समस्या का सामना पुरूषों  का ज्यादा करना पड़ता है। यदि महिलाओं में देखा जाए तो 40 से अधिक उम्र वाली महिलाओं को ये सेक्स संबंधी सिरदर्द होता है। कुछ ऐसे भी तथ्य है जिनके अनुसार प्रसव के 6 हफ्ते बाद का वक्त भी हाई रिस्क का होता है। यदि किसी महिला को पहले सरदर्द की समस्या रही है तो उसे कोइटल सिफैल्जिया होने की संभावना होती है।

    Image Source - Getty Images

    पुरूषों को ज्यादा खतरा
  • 3

    सामान्य कोइटल सिफैल्जिया के लक्षण

    कोइटल सिफैल्जिया के दो प्रकार हैं। इसके सामान्य प्रकार के लक्षण इस प्रकार हैं: अचानक सिरदर्द। आमतौर पर ऑर्गेज्म के तुरंत बाद शुरू होता है। इसकी प्रकृति थ्रॉबिंग या स्पंदनशील होती है। ये दर्द आमतौर पर कुछ देर तक होता है। फिर अपने आप ही कम होते होते  ठीक भी हो जाता है।

    Image Source - Getty Images

    सामान्य कोइटल सिफैल्जिया के लक्षण
  • 4

    असामान्य कोइटल सिफैल्जिया के लक्षण

    इसमें सर के दोनों ओर हल्का दर्द शुरू होता है। साथ में गर्दन में अकड़न और जबड़ों की मांसपेशियों में खिंचाव होता है। ये सिरदर्द ऑर्गेज्म की अवस्था से कुछ देर पहले होता है। सेक्स की उत्सुकता के साथ दर्द बढ़ने लगता है।

    Image Source - Getty Images

    असामान्य कोइटल सिफैल्जिया के लक्षण
  • 5

    कोइटल सिफैल्जिया के गंभीर लक्षण

    कोइटल सिफैल्जिया के कुछ गंभीर लक्षण भी होते है। इन लक्षणों की पहचान करना बहुत जरूरी होता है, अन्यथा बहुत बुरा हो सकता है।इसमें भयंकर सिरदर्द होता है और बेहोशी आने लगती है। उल्टी होती है और गर्दन जकड़ी हुई लगती है। धुंधला दिखाई देने लगता है। दिमागी सजगता में परिवर्तन आने लगता है।

    Image Source - Getty Images

    कोइटल सिफैल्जिया के गंभीर लक्षण
  • 6

    कोइटल सिफैल्जिया में तीन प्रकार के दर्द

    इस सिरदर्द के तीन प्रकार होते हैं। पहला, हल्का सिरदर्द, जो जल्दी ठीक हो जाता है। दूसरा, ऑर्गेज्म के दौरान होने वाला सिरदर्द, जो कि अचानक होता है और बहुत दर्दनाक भी। एक पोस्ट-कोइटल सिरदर्द भी होता है जो एक दिन तक परेशान कर सकता है।

    Image Source - Getty Images

    कोइटल सिफैल्जिया में तीन प्रकार के दर्द
  • 7

    परहेज भी हो सकता है उपचार

    कोइटल सिफैल्जिया के ज्यादातर मामले घातक नहीं होते। उनके बारे में परेशान होने की ज्यादा जरूरत नहीं होती है और न ही उपचार  की जरूरत पड़ती है। अगर आपको लगता है कि किसी खास सैक्शुअल गतिविधि के दौरान ही आपको इस समस्या का सामना करना  पड़ता है तो आप उससे परहेज कर सकते हैं। डॉक्टर भी ऐसे मामूली मामलों में यही सलाह देते हैं।

    Image Source - Getty Images

    परहेज भी हो सकता है उपचार
  • 8

    गंभीर मामलों में डॉक्टरी उपचार

    जब ये समस्या बहतु ज्यादा होती है, और डॉक्टर को लगता है कि ये रोगी के लिए घातक हो सकती है तो फिर वो इसके लिए कुछ दवाओं की सलाह भी देते हैं। इसमें प्रोप्रेनोलोल जैसी दवा दी जाती है। ये दवाएं ज्यादातर तभी दी जाती हैं जब मरीज का इस बीमारी का इतिहास होता है। इसके अलावा, सेक्स से एक घंटा पहले ट्रिप्टन्स की सलाह दी जाती है। वहीं उत्तेजना कम करने वाली दवाएं भी दी जाती हैं।

    Image Source - Getty Images

    गंभीर मामलों में डॉक्टरी उपचार
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर