हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

इन सात मसालों में होते हैं हीलिंग गुण

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jun 05, 2015
क्‍या आप जानते है की हमारे किचन में कितने ही ऐसे मसाले मौजूद है! अगर नही, तो फिर चलिए मिलकर जानते है, उन मसालों के बारें में जिनके प्रयोग से हम खाने में स्‍वाद बढ़ाने के साथ-साथ के औषधि के तौर पर हर रोज करते है।
  • 1

    हीलिंग गुणों से भरपूर मसाले

    मसाले हमारे भोजन को जायका प्रदान करने के अलावा, कुछ मसाले औषधीय गुणों से भरपूर होते है। मसाले हमारे भोजन का स्वाद तो बढ़ाते ही हैं, हमारी सेहत की रक्षा भी करते हैं। कुछ मसाले तो अपने खास गुणों के कारण घरेलू औषधि के रूप में भी काम आते हैं। आइए ऐसे ही कुछ मसालों के बारे में जानकारी लेते हैं, जो कुछ बुनयादी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं के इलाज के लिए इस्‍तेमाल किये जा सकते हैं।
    Image Source : Getty

    हीलिंग गुणों से भरपूर मसाले
  • 2

    एंटी-बैक्‍टीरियल हल्दी

    हल्दी के बिना खाने के रंग और स्वाद की कल्‍पना भी नहीं की जा सकती है। हल्दी हीलिंग के मामले में सबसे पहले नंबर पर आती है। ऐसा माना जाता है कि हल्दी सबसे शक्तिशाली मसाला है, जिसमें प्राकृतिक रूप से मिलने वाला एंटी-सेप्टिक और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते है। हल्दी में करक्यूमिन नाम का एक प्राकृतिक तत्व होता है, जो सूजन कम करने में मदद करता है। हल्दी त्वचा संबंधी परेशानियों को दूर करने में भी मददगार है। यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाती है, जिससे शरीर बीमारियों से लड़ने के लिए खुद को तैयार कर लेता है।
    Image Source : Getty

    एंटी-बैक्‍टीरियल हल्दी
  • 3

    आयरन का स्रोत जीरा

    जीरे में भी एंटी-बैक्टीरियल विशेषताएं पाई जाती है। जीरा आयरन का सबसे अच्‍छा स्रोत है, जिसे नियमित रूप से खाने से खून की कमी दूर होती है। खाना हजम नहीं होता या फिर एसीडिटी है तो कच्‍चा जीरा मुंह में डाल कर खा लें, आराम मिलेगा। वैसे जीरे की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इससे खाने से गैस, अपच जैसी समस्याओं से बचा जा सकता है। कई लोग जीरे की इसी विशेषता के कारण जीरे का प्रयोग रोटियों या परांठों में भी करते है।
    Image Source : Getty

    आयरन का स्रोत जीरा
  • 4

    तीखी लाल मिर्च

    लालमिर्च भोजन में स्वादिष्ट तीखा स्वाद डालने वाला प्रमुख मसाला है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट बुरे कोलेस्ट्रॉल से बचाव में सहायता करता है। यह कैलोरी जलाने में भी अहम भूमिका निभाता है। साथ ही लाल मिर्च पाचन शक्ति बढ़ाती है।
    Image Source : Getty

    तीखी लाल मिर्च
  • 5

    सुगंधित दालचीनी

    एक शोध के अनुसार, खाने को सुगंधित करने वाली यह छाल डायबिटीज रोगियों के लिये बहुत लाभकारी होती है। दालचीनी कैल्शियम और फाइबर का एक बहुत अच्छा स्रोत है। दालचीनी मधुमेह को संतुलित करने के लिए एक प्रभावी औषधि है, इसलिए इसे गरीब आदमी का इंसुलिन भी कहते हैं। दालचीनी ना सिर्फ खाने का जायका बढ़ाती  है, बल्कि यह शरीर में रक्त शर्करा को भी नियंत्रण में रखता है। जिन लोगों को मधुमेह नहीं है वे इसका सेवन करके मधुमेह से बच सकते हैं। और जो मधुमेह के मरीज हैं वे इसके सेवन से ब्लड शुगर को कम कर सकते है। इसके अलावा डायरिया, खराब खून का दौरा, पेट की खराबी और मासिक के दौरान खराब मूड को यह ठीक करती है।
    Image Source : Getty

    सुगंधित दालचीनी
  • 6

    पेट के लिए अजवायन

    अजवायन को किसी से कम न समझे! अजवायन में स्वास्थ्य सौंदर्य, सुगंध तथा ऊर्जा प्रदान करने वाले तत्व होते हैं। यह बहुत ही उपयोगी होती है। अजवायन गैस या एसिडिटी की समस्या में बहुत की असरदार होता है। अगर आपको बहुत अधिक एसिडिटी हो तो आप थोड़े से गुनगुने पानी के साथ अजवायन को ले सकते है। मगर इसका ज्यादा सेवान करने से पेट में जलन हो सकती है।
    Image Source : Getty

    पेट के लिए अजवायन
  • 7

    गर्म मसाले की शान जायफल

    जायफल बहुत ही थोड़ी मात्रा में गर्म मसाले में प्रयोग किया जाने वाला एक मसाला है। यह बहुत ही गुणकारी होता है। इसके औषधीय गुण इसे और महत्वपूर्ण बनाते हैं। एक जायफल कई बीमारियों में काम आता है। जायफल में एंटी बैक्‍टीरियल तत्‍व पाये जाते हैं। यह दांतों की सड़न से लड़ता है। साथ ही दिमाग को मजबूत कर के एल्‍जाइमर से लड़ता है। इसे खाने में मिला कर खाने से भूख बढती है।
    Image Source : Getty

    गर्म मसाले की शान जायफल
  • 8

    स्वास्थ्य को दुरुस्त रखें लौंग

    लौंग की भारतीय खाने में खास जगह है। इसके उपयोग से खाने में स्वाद के साथ-साथ कुछ अहम गुण भी जुड जाते हैं। इसका उपयोग तेल व एंटीसेप्टिक रुप में किया जाता है। लौंग में आपके स्वास्थ्य को दुरुस्त रखने के कई गुण होते हैं। दांत या मसूढ़े में दर्द है तो मुंह में एक लौंग रख लें। दर्द में लाभ मिलेगा। सीने में दर्द, बुखार, पेट की परेशानियां और सर्दी-जुकाम में भी लौंग फायदेमंद साबित होता है।
    Image Source : Getty

    स्वास्थ्य को दुरुस्त रखें लौंग
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर