हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

रोजमर्रा की ये 7 आदतें बन सकती हैं नपुंसकता का कारण

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Mar 26, 2015
इनफर्टीलिटी अर्थात नपुंसकता की समस्या पुरुषों में तेजी से बढ़ रही है। इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे - मानसिक तनाव और अवसाद, शराब का सेवन, धुम्रपान, मोटापा, मधुमेह, हृदय रोग या उच्च रक्तचाप व कई अन्य।
  • 1

    नपुंसकता के कारण

    आजकल इनफर्टीलिटी अर्थात नपुंसकता की समस्या पुरुषों में तेजी से बढ़ रही है। बहुत से युवा अपने काम और आदतों के चलते काफी समय तक जान भी नहीं पाते की उनकी फर्टिलिटी क्षमता घट रही है। नपुंसकता के कई कारण हो सकते हैं जैसे, मानसिक तनाव और अवसाद, शराब का सेवन, धुम्रपान, मोटापा, मधुमेह, हृदय रोग या उच्च रक्त चाप व कई अन्य। तो चलिये जानते हैं ऐसे कुछ कारण जो जाने-अंजाने रोज हमें नपुंसकता की ओर धकेल रहे होते हैं।
    Images courtesy: © Getty Images

    नपुंसकता के कारण
  • 2

    लैपटॉप का ज्यादा इस्तेमाल

    लैपटॉप के ज्यादा या गलत तरीके से इस्तेमाल से भी स्पर्म क्वालिटी घटती है। खासतौर पर यदि आप जांघों पर रखकर लैपटॉप का देर तक उपयोग करते हैं तो ये आपको आगे चलकर नंपुसक बना सकता है। द जनरल फर्टिलिटी एंड स्टेर्लिटी में प्रकाशित हुई एक रिपोर्ट के अनुसार, काफी देर तक जांघों पर लैपटॉप करने से स्पर्म क्वालिटी को काफी नुकसान होता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    लैपटॉप का ज्यादा इस्तेमाल
  • 3

    मोटापा

    यूं तो मोटापा कई बीमारियां की वजह बन सकता है। लेकिन क्या आप जानते हैं मोटापा नपुंसकता का भी एक प्रमुख कारण होता है। न केवल पुरुषों को बल्कि महिलाओं में भी मोटापे की वजह से प्रजनन क्षमता घट जाती है। पुरुषों में अधिक मोटापे से स्पर्म संख्या घटने लगती है। वहीं महिलाओं को ‌गर्भपात आदि समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है और महावारी भी अनियमित होने लगती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    मोटापा
  • 4

    धूम्रपान व शराब का सेवन

    यूं तो धूम्रपान करने के स्वास्थ्य को कई नुकसान होते हैं, लेकिन धूम्रपान नपुंसकता का भी एक बड़ा कारण बन सकता है। ब्रिटीश मेडिकल एसोसिएशन की रिपोर्ट के मुताबिक, 10 से 40 फीसदी लोगों में धूम्रपान से नंपुसकता का खतरा बढ़ जाता है। ठीक यही बात शराब के अधिक सेवन पर भी लागू होती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    धूम्रपान व शराब का सेवन
  • 5

    अधूरी नींद

    खर्राटे लेने का मतलब है कि आप सोते वक्त ठीक से सांस नहीं ले पा रहे हैं। मार्डन रिसर्च में ठीक प्रकार से न सो पाने और नपुंसकता के बीच गहरा संबंध होनी की बात कही गयी है। यदि आप रोज 8 घंटे की नींद नहीं ले रहे हैं तो शरीर में हार्मोनल इंबैलेस हो सकता है जिससे नपुंसकता भी पैदा हो सकती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    अधूरी नींद
  • 6

    प्रोसेस्ड मीट व सप्‍लीमेंट

    डिब्बाबंद प्रोसेस्ड मीट से ब्रेस्ट कैंसर तक हो सकता है। इनमें हेट्रोसाइकिलिक एमाइन्स, पोलीसाइकिलिक अरोमाटिक हाइड्रोकार्बन और एडवांस्ड ग्लाइसेशन्सइंड प्रोडक्ट्स जैसे तत्व होते हैं। जोकि कोलोन कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर, दिल के रोग, किडनी के रोग और डायबिटीज तथा नपुंसकता के कारण बन सकते हैं। इसके अलावा सप्‍लीमेंट का असर पर फर्टीलिटी पर पड़ सकता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    प्रोसेस्ड मीट व सप्‍लीमेंट
  • 7

    बहुत साइकिल चलाना

    एक रिसर्च के मुताबिक जिन पुरुषों को हफ्ते में तीन घंटे साइकिल चलाने की आदत होती है, उनमें नपुंसक होने का जोखिम उन पुरुषों की तुलना में बढ जाता है जो बिल्‍कुल भी या कम समय के लिये साइकिल चलाते हैं।
    Images courtesy: © Getty Images

    बहुत साइकिल चलाना
  • 8

    टाइट अंडरगारमेंट्स

    ज्यादा टाइट अंडरगारमेंट्स स्पर्म के लिए नुकसानदायक होते हैं। दरअसल स्पर्म के निर्माण के लिए अनुकूल तापमान की जरूरत होती है। यदि आपके अंडरगारमेंट बहुत टाइट होंगे तो स्पर्म का निर्माण ठीक से नहीं हो पाएगा। हालांकि इस मुद्दे पर दो मत हैं।
    Images courtesy: © Getty Images

    टाइट अंडरगारमेंट्स
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर