हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

आपको प्रोटीन सम्लीमेंट्स पर ज्यादा रकम खर्च करने की जरूरत नहीं

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Feb 20, 2014
प्रोटीन सप्‍लीमेंट्स मसल्‍स जल्‍दी बनाने का दावा करते हैं और आप इनसे आकर्षित भी हो जाते हैं। लेकिन इन प्रोटीन सप्‍लीमेंट्स पर पैसा खर्च करने से पहले इनकी वास्‍तविकताओं के बारे में अच्‍छे से जान लेना चाहिए।
  • 1

    प्रोटीन सप्‍लीमेंट्स की हकीकत

    आजकल लगभग सभी युवा अपनी बॉडी बनाना पसंद करते हैं। अगर आप भी फिटनेस को लेकर बहुत उत्साही हैं तो आप प्रोटीन सप्लीमेंट्स के नाम से वाकिफ होंगे। ये सप्‍लीमेंट्स जल्‍दी मसल्‍स बनाने का दावा करते हैं। इसी वजह से आप इनकी ओर आकर्षित भी हो जाते हैं। लेकिन आपको इन प्रोटीन सप्‍लीमेंट्स पर पैसा खर्च करने से पहले इनकी वास्‍तविकताओं के बारे में अच्‍छे से जान लेना चाहिए।

    प्रोटीन सप्‍लीमेंट्स की हकीकत
  • 2

    गलतफहमी

    यह एक गलत धारणा है कि बॉडी बनाने के लिए आपको प्रोटीन सप्‍लीमेंट की जरूरत होती है। इन सप्‍लीमेंट की जरूरत तब पड़ती है जब आपके नियमित आहार में जरूरी पोषक तत्‍वों की कमी हो अथवा आपकी फिटनेस सामान्‍य से कम है ।लेकिन पौष्टिक आहार लेने वाले जवान व्‍यक्ति को इसकी जरूरत नहीं होती क्‍योंकि प्रोटीन सप्‍लीमेंट आपके नियमित आहार से बेहतर नहीं होता।

    गलतफहमी
  • 3

    स्वस्थ तरीके से मसल्‍स का निर्माण

    सप्‍लीमेंट लेकर जल्‍दी से बॉडी बनाने की जगह एक स्‍वस्‍थ तरीके से मसल्‍स को बनाना ज्‍यादा बेहतर रहता है। इसके लिए अपने वार्कआउट प्रोग्राम और आहार योजना का पूरे अनुशासन से पालन करें।साथ ही बॉडी बनाने के लक्ष्‍य को प्राप्‍त करने के लिए आपको हेल्‍दी और संतृप्‍त खाद्य पदार्थ खाने लेने की भी जरूरत होती है।

    स्वस्थ तरीके से मसल्‍स का निर्माण
  • 4

    मसल्‍स और ताकत में वृद्धि की धारणा

    मसल्‍स बनाने के लिए आहार लेने से पहले यह निश्‍चित कर लें कि क्‍या सही मायनों में यह आहार तेजी से मसल्‍स बनाने में आपकी मदद कर सकते हैं। साथ ही यह भी क्‍या यह खाद्य पदार्थ पूरक के माध्यम से मसल्‍स की ताकत को बढ़ा सकते हैं। वास्‍तव में अधिक प्रोटीन के सेवन का यह मतलब नहीं है कि यह आपको मसल्‍स बनाने के लिए ज्यादा योगदान देगा बल्कि कई बार यह आपको थुलथुला भी बना सकता है।

    मसल्‍स और ताकत में वृद्धि की धारणा
  • 5

    शरीर को नुकसान

    प्रोटीन सप्‍लीमेंट्स से शरीर को नुकसान भी हो सकता है। अधिक मात्रा में सप्‍लीमेंट्स लेने से शरीर में विषाक्त कीटोन पैदा हो सकता है। इन विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में शरीर कठिनाई महसूस करता है। अगर किडनी कीटोन को निकालने का काम करती हैं तो डिहाइड्रेशन हो सकता है।

    शरीर को नुकसान
  • 6

    प्राकृतिक प्रोटीन

    प्रोटीन किसी भी बॉडी बिल्डिंग प्रोगाम का प्राथमिक चरण है। इस‍के लिए आप प्रोटीन सप्‍लीमेंट की जगह प्राकृतिक स्रोतों से प्रोटीन प्राप्‍त कर सकते हैं। प्रोटीन मछली और पोल्‍ट्री जैसे स्‍वस्‍थ स्रोतों में शामिल होता है। माध्‍यम मात्रा में रेड मीट लेने से भी आप अपने आहार में अनावश्‍यक कैलोरी को जोड़ सकते हैं। प्रोटीन के अन्य स्रोतों के रूप में आप अंडा भी ले सकते हैं, अंडे का सफेद हिस्‍सा प्रोटीन से समृद्ध होता है।

    प्राकृतिक प्रोटीन
  • 7

    शाकाहारी होने पर

    जो मांस खाना पसंद नहीं करते, शाकाहारी हैं वह लोग बॉडी बनाने के लिए सोया से समृद्ध खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल कर प्रोटीन की पूर्ति कर सकते हैं। प्रोटीन के अन्‍य विकल्‍प के रूप में 'वे-प्रोटीन' यानी डेयरी उत्‍पादों से मिलने वाले प्रोटीन का सेवन भी कर सकते हैं। भले ही आहार से मिलने वाले पोषक तत्व का असर देर से दिखाएं, लेकिन उनका लाभ आपको पूरी उम्र मिलता है।

    शाकाहारी होने पर
  • 8

    अतिरिक्त 'वे प्रोटीन' से मोटापा

    यह धारणा सही नहीं है कि बॉडी बनाने के लिए 'वे प्रोटीन' के सेवन मोटा बना सकता है। 'वे प्रोटीन' के सेवन से आप तब मोटे होते हैं जब इसका सेवन अधिक मात्रा में किया जाता है। वह संभावना भी तब होती है जब वे को श्‍ारीर अवशोषित नहीं करता और मसल्‍स नहीं बल्कि मोटापा बढ़ता हैं।

    अतिरिक्त 'वे प्रोटीन' से मोटापा
  • 9

    अधिक बेहतर नहीं होता

    आवश्‍यकता से अधिक मात्रा में प्रोटीन खाने से कोई लाभ नहीं मिलता, लेकिन यह आपको नुकसान पहुंचा सकता है। प्रोटीन सप्‍लीमेंट्स न केवल आपकी जेब पर भारी पड़ते है बल्कि यह प्रोटीन आधारित आहार आपके आहार से महत्‍वपूर्ण कार्बोहाईड्रेट को भी दूर कर देते हैं। मसल्‍स बनाने के लिए कम कार्बोहाइड्रेट की जरूरत होती है, इसलिए ज्‍यादा सेवन करने से आपको फैट मिलेगा मसल्‍स नहीं।

    अधिक बेहतर नहीं होता
  • 10

    वर्कआउट के बाद प्रोटीन

    आपको वर्कआउट करने के बाद अगले सत्र में वर्कआउट करने के लिए अधिकतम खुराक की चिंता रहती हैं। इसलिए ऐसा खाद्य पदार्थों का सेवन करें जिसमें पर्याप्‍त मात्रा में प्रोटीन हो।

    वर्कआउट के बाद प्रोटीन
  • 11

    लंबी अवधि के प्रभाव

    पोषण विशेषज्ञ के अनुसार, कुछ खाद्य पदार्थों की जगह प्रोटीन शेक का सेवन बॉडीबिल्डिंग में तो मदद कर सकता है, लेकिन इसका लंबी अवधि तक इस्‍तेमाल नुकसान पहुंचा सकता है। इससे शरीर में पोषक तत्‍वों में कमी हो जाती है और आप आपका वजन दोबारा बढ़ने लगता है। सप्लीमेंट्स के द्वारा बनाई गई बॉडी केवल बाहर से देखने में ही सुदृ़ढ़ लगती है, जबकि इन प्रोटीन सप्‍लीमेंट्स के कारण अंदर से पूरी तरह खोखली हो जाती है।

    लंबी अवधि के प्रभाव
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर