हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

क्या पढ़ने के इन फायदों से वाकिफ़ हैं आप?

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Dec 29, 2014
पढ़ना एक ऐसी गतिविधि है जिसके कई स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं। यदि आप नियमित रूप से नहीं पढ़ते हैं तो आपको रीडिंग को एक शौक के रूप में लेने पर विचार करना चाहिए।
  • 1

    पढ़ने के फायदे

    अक्सर लोगों के पढ़ने के पीछे के प्रयोजनों में कोई काम या शौक होता है। लेकिन वास्तव में पढ़ना एक ऐसी गतिविधि है जिसके कई  स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं। यदि आप नियमित रूप से नहीं पढ़ते हैं तो आपको रीडिंग को एक शौक के रूप में लेने पर विचार करना चाहिए। हर दिन एक किताब के कुछ पन्नों को पढ़ने के साथ धीरे-धीरे इसे शुरू करें या फिर समाचार देखने के बजाय अख़बार पढ़ें। जल्द ही आपको अहसास होगा कि आप फिल्में देखने के बजाय किताबें पढ़ने की अच्छी आदद के मालिक हो चुके हैं। तो चलिये जानते हैं पढ़ने के कई अनजाने लाभ। -   
    Images courtesy: © Getty Images

    पढ़ने के फायदे
  • 2

    मस्तिष्क का व्यायाम

    पढ़ना एक प्रकार बेहतर तरीके से मस्तिष्क को उद्दीप्त करना करता है, जोकि टीवी देखने या रेडियो सुनने से कभी नहीं हो सकता। फिर भले ही आप कोई नया थ्रिलर पढ़ रहे हों या फिर अपने डीवीडी प्लेयर का अनुदेश मैनुअल, पढ़ने से आपका मस्तिष्क संलग्न रहता है और उसकी एक्सरसाइज होती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    मस्तिष्क का व्यायाम
  • 3

    तनाव करे करता है

    किताबें तनाव दूर करने का कारगर माध्यम हैं। इंग्लेंड में हुए एक शोध के मुताबिक अच्छी किताबें पढ़ने से तनाव के हार्मोन यानी कार्टिसोल का स्तर कम होता है। तो यदि आप अपने दिन को खुशनुमा बनाना चाहते हैं तो पढ़ने की आदत इसमें मददगार हो सकती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    तनाव करे करता है
  • 4

    बेहतर नींद

    रात में देर तक टीवी देखने और कंप्यूटर पर काम करने से नींद न आने की समस्या हो सकती है, लेकिन रात में सोने से पहले थोड़ी देर किताब पढ़ने से आपको अच्छी नींद लेने में मदद मिलती है। इसलिए रात को सोने से पहले किताब थोड़ी देर किताब पढ़ें।
    Images courtesy: © Getty Images

    बेहतर नींद
  • 5

    याददाश्त बढ़ती है

    जो लोगो पढ़ाई करते रहते हैं उनकी याददाश्त तेज होती है। टीवी देखने और कंप्यूटर पर काम करने के बनिस्पद पढ़ाई करने वालों का दिमाग अधिक तेज होता है। इसके अलावा पढ़ने की आदत व्यक्ति के सोचने और समझने की क्षमता को भी बढ़ाती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    याददाश्त बढ़ती है
  • 6

    दिमाग जवां रहता है

    पढ़ने की आदत से इंसान का दिमाग हमेशा जवां-जवां रहता है। रश विश्वविद्यालय के एक शोध के अनुसार, वे लोग जोर चनात्मक कामों जैसे पढ़ाई आदि में अधिक समय बिताते हैं, उनका दिमाग ऐसा न करने वाले लोगों की तुलना में 32 प्रतिशत तक अधिक युवा बना रहता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    दिमाग जवां रहता है
  • 7

    अल्जाइमर से बचाव

    अल्जाइमर उम्रदराज लोगों में होने वाला एक प्रकार का मानसिक रोग है जिसके कारण व्यक्ति की अल्जाइमर कमजोर हो जाती है। एक शोध के अनुसार जो लोग दिमागी गतिविधियों जैसे, पढ़ाई, चेस खेलना, पज़ल सौल्व करना आदि में व्यस्त रहते हैं, उनमें अल्जाइमर रोग होने की संभावना कम होती है। इसलिए अल्जाइमर से बचाव के लिए किताबें पढ़ने की आदत डाल सकते हैं।
    Images courtesy: © Getty Images

    अल्जाइमर से बचाव
  • 8

    एकाग्रता में सुधार

    पढ़ने से आपकी एकाग्रता अर्थात कंसंट्रेशन बेहतर होती है। क्योंकि पढ़ने की उस अवधि के लिए आपका सारा ध्यान केवल एक ही बात पर केंद्रित रहता है। जैसा कि आज के दौर में लोगों का ध्यान भटकाने वाली कई चीजें जैसे, मोबाइल, लेपटॉप आदि कई सारी चीजें आ गई हैं, पढ़ने की आदत से एकाग्रता में सुधार होता है।  
    Images courtesy: © Getty Images

    एकाग्रता में सुधार
  • 9

    क्या कहता है शोध

    स्कॉटलैंड में हुए एक शोध के अनुसार नाचने, पढ़ने और नाटक देखने वाले लोगों का स्वास्थ्य अच्छा होता है। इस शोध के मुताबिक, वोलोग जो गत वर्ष पुस्तकालय या संग्रहालय में गए उनका स्वास्थ्य ऐसा न करने वाले लोगों कि तुलना में 20 प्रतिशत ज्यादा बेहतर रहा। शोध में यह भी बताया गया कि जो लोग शौकिया तौर पर किताबें पढ़ते थे उनका स्वास्थ्य ऐसा न करने वालों की तुलना में 33 प्रतिशत बेहतर रहा।
    Images courtesy: © Getty Images

    क्या कहता है शोध
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर