हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

माहवारी में अधिक रक्‍तस्राव के लिए दस घरेलू उपाय

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Nov 28, 2014
मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को कई प्रकार की समस्‍याओं का सामना करना पड़ता है। भारी रक्‍तस्राव उनमें से एक है। यहां दिये घरेलू नुस्खे, मासिक धर्म के दौरान होने अत्‍यधिक रक्‍तस्राव से आपको राहत दिलाने का काम कर सकते हैं।
  • 1

    पीरियड्स में होने वाला अति रक्तस्राव

    मासिक धर्म महिला में होने वाली एक स्वाभाविक और प्राकृतिक प्रक्रिया है। इस दौरान महिलाओं को कई प्रकार की समस्‍याओं का सामना करना पड़ता है। भारी रक्‍तस्राव उनमें से एक है। अगर आपको एक दो घंटे के अन्दर पैड बदलना पड़ रहा है या आपकी माहवारी एक हफ्ते से ज्यादा समय तक रहती है, तो यह अति रक्‍तस्राव माना जाता है। अक्सर फाइब्रायड, रसौली, ट्यूमर जैसी बीमारियों के कारण भी माहवारी में अधिक रक्‍तस्राव होता है। लड़कियों में भारी माहवारी का कारण कुछ समय के लिए हार्मोन में होने वाला बदलाव होता है। अधिक उम्र की महिलाओं में रजोनिवृत्ति के कारण होने वाले हार्मोन असंतुलन से भारी माहवारी हो सकती है। हम आपको बताऐंगे ऐसे ही कुछ घरेलू नुस्खे जो मासिक धर्म के दौरान होने अत्‍यधिक रक्‍तस्राव से आपको राहत दिलाने का काम कर सकते हैं।
    image courtesy : getty images

    पीरियड्स में होने वाला अति रक्तस्राव
  • 2

    बबूल

    कई महिलाओं और लड़कियों को पीरियड्स के दौरान बहुत ज्‍यादा ब्‍लीडिग होती है। इस तरह की समस्‍या होने पर बबूल का गोंद को घी में भून कर पीस लें अब इसमें बराबर वजन में असली सोना गेरू पीसकर मिला कर तीन बार छान कर शीशी में भर लें। पीरियड्स के दिनों में सुबह शाम 1-1 चम्मच चूर्ण ताजे पानी के साथ लेने से अधिक मात्रा में स्राव होना बन्द हो जाता है।
    image courtesy : getty images

    बबूल
  • 3

    अदरक

    कुछ मिनट पानी में अदरक को उबालकर तैयार मिश्रण मासिक धर्म में अत्‍यधिक प्रवाह को रोकने में मदद करता है। इस मिश्रण को आप चीनी या शहद की मदद से मीठा भी कर सकते है। इस मिश्रण को आप भोजन करने के बाद दिन में तीन बार ले सकते हैं।
    image courtesy : getty images

    अदरक
  • 4

    दालचीनी

    एक कप उबलते पानी में दालचीनी की एक स्टिक द्वारा तैयार चाय पीरियड्स में होने वाला अति रक्तस्राव के लिए बहुत ही प्रभावी घरेलू उपाय है। आप वैकल्पिक रूप से इसमें दालचीनी की छाल से निकली कुछ बूंदों को भी मिला सकते हैं। दिन में दो बार इसका इस्‍तेमाल भारी माहवारी रक्‍तस्राव को रोकने में मदद करता है।
    image courtesy : getty images

    दालचीनी
  • 5

    सरसों के बीज

    40 ग्राम सरसों के सूखे बीज लेकर उन्‍हें पीसकर बारीक पाउडर बना लें। अत्‍यधिक रक्‍तस्राव की परेशानी से बचने के लिए इसमें से 2 ग्राम सरसों के बीज का पाउडर लेकर दिन में दो बार दूध के साथ मासिक धर्म से पहले या दौरान लें। यह भारी पीरियड्स को रोकने का एक प्रभावी घरेलू उपाय है।   image courtesy : getty images

    सरसों के बीज
  • 6

    धनिया

    धनिया महिलाओं में मासिक धर्म संबंधी समस्‍याओं को दूर करने में बहुत मदद करता है। यदि मासिक धर्म के दौरान रक्तस्राव  साधारण से ज्यादा हो तो आधा लीटर पानी में लगभग 6 ग्राम धनिया के बीज डालकर खौलाएं और इसमें शक्‍कर मिला लें। मासिक चक्र के दौरान इस काढ़े का सेवन अत्यधिक रक्तस्राव को रोकने के सबसे अच्छे घरेलू उपचारों में से एक है।
    image courtesy : getty images

    धनिया
  • 7

    अजवायन के फूल

    अजवायन के फूल की पत्तियों द्वारा तैयार चाय मासिक धर्म के दौरान अत्यधिक माहवारी रक्तस्राव को रोकने में बहुत प्रभावी होती है। एक कप पानी में एक चम्‍मच अजवायन के फूल की पत्तियों डालकर 10 मिनट के लिए उबालकर इस चाय को तैयार किया जा सकता है। अजवायन की चाय को बर्फ क्‍यूब के साथ मिलाकर माहवारी के दौरान भारी रक्‍तस्राव की गिरफ्त में आने पर पेट पर ठंडा सेक करने के रूप में भी इस्‍तेमाल किया जा सकता है।
    image courtesy : getty images

    अजवायन के फूल
  • 8

    केले के फूल

    पके हुए केले के फूल के साथ दही का एक कप खाने से प्रोजेस्‍टेरोन बढ़ने लगता है, जिससे अत्‍यधिक रक्‍तस्राव पर नियंत्रण में मदद मिलती है। माहवारी के दौरान अत्‍यधिक रक्तस्राव के लिए एक प्रभावी प्राकृतिक उपाय है।
    image courtesy : getty images

    केले के फूल
  • 9

    अशोक की छाल

    माहवारी में अधिक रक्‍तस्राव के लिए यदि अशोक की छाल उपलब्ध हो जाए तो इससे बेहतर कुछ नहीं। आयुर्वेद में भी इस फार्मुले का जिक्र है। इसे इस्‍तेमाल करने के लिए लगभग 50 ग्राम अशोक की छाल को 2 कप पानी में तब तक खौलाएं जब तक कि यह आधा शेष न जाये। इस काढ़े को ठंडा होने पर प्रतिदिन एक गिलास पीने से तेजी से फायदा होता है।
    image courtesy : getty images

    अशोक की छाल
  • 10

    अंजीर

    अंजीर की ताजा और कोमल पत्तियों से तैयार रस भारी रक्‍तस्राव को रोकने में कारगर होता है। मासिक धर्म चक्र के दौरान एक दिन में दो बार लिया अंजीर का रस अत्यधिक माहवारी रक्तस्राव के लिए एक प्रभावी उपचार है। इस काढ़े को बनाने के लिए एक कप पानी में थोड़ी सी अंजीर की ताजा पत्तियों को लेकर उबाल लें।
    image courtesy : getty images

    अंजीर
  • 11

    मैग्नीशियम युक्त आहार

    शोधों से पता चला है कि माहवारी में रक्‍तस्राव का एक सबसे बड़ा और आम कारण मैग्‍नीशियम की कमी है। इसलिए तिल के बीज, तरबूज के बीज, जई, कोको, कद्दू, स्क्वैश और मैग्नीशियम युक्‍त अन्‍य खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल करें। मैगनीशियम माहवारी रक्तस्राव को रोकने में मदद करता है।
    image courtesy : getty images

    मैग्नीशियम युक्त आहार
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर