हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

एंग्‍जाइटी डिसऑर्डर के बारे में इन 5 बातों से अनजान हैं आप

By:Aditi Singh , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jun 13, 2016
एंग्जाइटी वैसे तो सुनने में सामान्य सी बेचैनी की समस्या लगती है। पर ये पल भर की बैचैनी के बारे में आप कितना जानते हैं। अगर नहीं जानते हैं तो इस स्‍लाइडशो में इससे जुड़ी सभी बातों के बारे में पढ़ें।
  • 1

    महिलाओं में ज्‍यादा होता है

    पुरूषों की तुलना में महिलाओं को एंग्जाइटी डिसऑर्डर की समस्या ज्यादा होती है। ये अंतर अलग अलग विकासशील और विकसित देशों और समय के हिसाब से बदल भी सकता है। आप भले ही किसी भी देश और सभ्यता से संबंध रखते हो पर शोध के मुताबिक बुजुर्गों की तुलना में 35 साल से कम वर्यु के लोगों मे एंग्जाइटी डिसऑर्डर ज्यादा देखा जाता है।
    Image Source-Getty

    महिलाओं में ज्‍यादा होता है
  • 2

    किसी भी प्रकार की लत

    ड्रग्स,  शराब, तंबाकू, सिगरेट और निकोटिन आदि का ज्यादा सेवन करने से एंग्जाइटी डिसऑर्डर की समस्या बढ़ती है। ड्रग्स के अलावा किसी भी प्रकार की लत का शिकार होना (ऐसी कोई चीज़ जिसके बिना आप नहीं रह सकते), इसके कारण मानसिक व्यग्रता की आशंका बढ़ जाती है। इसमें ताश खेलने से लेकर इंटरनेट की लत भी शामिल है।
    Image Source-Getty

    किसी भी प्रकार की लत
  • 3

    मानसिक बीमारी के कारण

    एंग्जाइटी की समस्या ज्यादातर अन्य मानसिक बीमारियों से पीड़ित लोगों को होती है। बाइपोलर डिसऑर्डर, मल्टीपल स्क्लेरोसिस और सीजोफ्रेनिया आदि के रोगियों को एंग्जाइटी डिसऑर्डर की समस्या ज्यादा होती है। यूरोप में 13 से 28% बाइपोलर डिसऑर्डर के मरीजों को एंग्जाइटी की समस्या है वहीं विश्व के 12 फीसदी सीजोफ्रेनिया से पीड़ित लोगो को ये दिक्कत है।
    Image Source-Getty

    मानसिक बीमारी के कारण
  • 4

    अन्य बीमारियों से संबंध

    हृदय रोग, कैंसर, सांस की बीमारी , मधुमेह जैसी अन्य क्रोनिक स्थिति की वजह से भी लोगों में एंग्जाइटी डिसऑर्डर हो सकता है। दिल के रोगियों में 2 से 49% प्रतिशत तक एंग्जाइटी का लक्षण देखा जाता है। वहीं 10 से 50 फीसदी तक ये लक्षण कोरोनरी धमनी की बीमारी में दिखायी देता है।
    Image Source-Getty

    अन्य बीमारियों से संबंध
  • 5

    गर्भावस्था के कारण

    गर्भावस्था के दौरान महिलाओं में एंग्जाइटी की समस्या हो जाती है। हालांकि इसका कारण मानसिक तनाव ब्लडप्रशर लो होना आदि होता है। कई महिलाओं को ये समस्या गर्भावस्था के बाद भी चलती है। सामान्यत: ये प्रसव के बाद ठीक हो जाती है।
    Image Source-Getty

    गर्भावस्था के कारण
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर