हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

रिलेशनशिप में इन 5 चीजों का कभी भी न करें त्‍याग

By:Gayatree Verma , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Aug 11, 2016
कई बार रिलेशनशिप में इंसान को कॉम्परमाइजेशन के नाम पर कई सारी चीजें छोड़नी पड़ती है। रिश्ते चलाने के लिए कॉम्परमाइज करना एक-दूसरे से प्यार करने की निशानी है। लेकिन कई बार इंसान इतना अधिक कॉम्परमाइज कर लेता है कि उसका खुद का वजूद ही नहीं बचता। अपने वजूद को बचाने के लिए कभी भी इन 5 चीजों का कभी भी त्‍याग न करें।
  • 1

    दोस्ती

    रिलेशनशिप के शुरुआती समय में अट्रेक्शन, अटैचमेंट, इंटिमेसी, प्यार आदि भावनाएं सबसे उच्च स्तर पर होती हैं और आप अपने आपको सबसे सुखी इंसान समझते हैं। लेकिन धीरे-धीरे चीजें सामान्य होने लगती हैं और आप फिर से सामान्य होकर दोस्तों के लिए भी समय निकालने लगते हैं। ऐसे समय में कई बार आपके पार्टनर को आपका या आपकी कोई अमुक दोस्त पसंद नहीं आते और उससे दूर रहने की हिदायत दी जाती है। अगर आपका/आपकी भी पार्टनर आपको ऐसी हिदायत देती है तो उसे साफ कह दें आप ऐसा नहीं कर सकते। पहले तो दोस्ती और प्यार को मिलवाने की कोशिश करो लेकिन फिर भी आपका प्यार आपके दोस्त को नापसंद करे तो अपने प्यार को टाटा-टाटा बाय-बाय कह दें। दोस्ती कभी ना त्यागें। ये वही दोस्त हैं जो आपको एक्जाम पास करवाने से लेकर नौकरी खोजने तक के दिनों में मदद करते हैं।

    दोस्ती
  • 2

    आपकी आजादी

    क्या आप अपने पार्टनर के साथ खुल कर हंसते हैं? क्या उनके साथ नई चीजें ट्राय करते हैं? क्या वो आप उसके साथ कमर्टेबली कहीं भी कैसे भी अपनी इच्छानुसार तैयार होकर जा सकती या सकते हैं? क्या आपको उनसे मिलने के लिए विशेष तौर पर तैयार नहीं होना पड़ता? अगर इसका जवाब हां है तो आपका रिश्ता मजबूत है। लेकिन अगर जवाब ना है तो एक बार सोचें। क्योंकि कई लड़कियां काफी जोर से हंसती है जिसपर उसके पार्टनर रोक-टोक करने लगते हैं। ये रोक-टोक केवल हंसने में ही नहीं बल्कि पहनावे, आने-जाने व अन्य कई चीजों को लेकर भी करते हैं। तो अगर आपका पार्टनर रोक-टोक करने वाला है और उसकी रोक-टोक आपके मस्ती को और आपको नियंत्रित कर लेती है तो रिश्ते के बारे में फिर से सोचें। क्योंकि जो रिश्ता आपको मस्ती करने और खुलकर जीने की अनुमति अभी नहीं दे रहा तो आगे हालात और बिगड़ सकते हैं।

    आपकी आजादी
  • 3

    आपका व्यक्तित्व

    आपका व्यक्तित्व आपसे झलकता है। आप जो हैं वही आपका वयक्तित्व है और सही इंसान आपको आफके व्यक्तित्व के साथ प्यार करता है। एक खुशहाल रिश्ते में, कोई भी किसी को भी बदलता नहीं है। लेकिन अगर आपका/आपकी पार्टनर आपके पहनावे और चाल-चलन को बदलने की हिदायत देता या देती है तो तुरंत इस रिश्ते के लिए एक बार सोचें। अगर आप इसे कॉम्परमाइजेशन का नाम देकर एक और मौका देते हैं तो आप अपने साथ गलत कर रहे हैं। क्योंकि कॉम्परमाइज करना सामान्य बात है और ये एक रिश्ते के लिए हेल्दी भी है। लेकिन जब व्यक्तित्व में बदलाव करने की बात आए तो ये आपको बदलने और आपके पसंद को बदलने की बात होगी जो कि पूरी तरह से गलत है।

    आपका व्यक्तित्व
  • 4

    आपके आदर्श व विश्वास

    आपका आस्तिक या नास्तिक होना आपका निजी मामला है। इस पर जब आपके अभिभावकों ने आज तक कोई सवाल नहीं किया तो आपका पार्टनर कौन होता है ये सवाल करने वाला। आपके आदर्श, आपके विश्वास... आपका पूरा व्यक्तित्व आपके अब तक के जीवन के अनुभवों के आधार पर बना होता है। ऐसे में अगर कोई आपके आदर्श को बदलने की बात करता है तो मतलब है कि आपके अनुभवों को बदलना। इसका मतलब है कि आपने आज तक जो भी परिस्थितियों से सीखा और अनुभव किया, वो सारे गलत हैं। यानि की आपका अब तक का पूरा जीवन ही गलत है। तो फिर सोच लें कि आपका अब तक का जीवन गलत है या ये रिश्ता?

    आपके आदर्श व विश्वास
  • 5

    आपके सपने - आपका करियर

    अंत में बात करते हैं आपके जिंदगी के सपनों के बारे में... आपके करियर के बारे में। एक रितु थी जिसके ब्वॉयफ्रैंड को उसका मीडिया का कोर्स करना बिल्कुल पसंद नहीं आया। इसलिए रितु मीडिया के जगह बीएड का कोर्स करने लगी। किसी कारण से उन दोनों का ब्रेकअप हो गया। आज ना उसका ब्वॉयफ्रैंड है और ना उसे बीएड करने का मन होता है। अब वो अपने फसले को लेकर बहुत पछताती है और मीडिया का कोर्स करने के बारे में बार-बार सोचती है। ऐसे में आप समझ सकते हैं कि अपने सपने किसी के लिए भी त्यागना बहुत बड़ी बेवकूफी है।

    आपके सपने - आपका करियर
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर