हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

प्‍यार में कभी न करें ये काम

By:Bharat Malhotra, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Dec 19, 2014
रिश्‍ता ऐसा होता है जिसमें बात कहने की जरूरत नहीं पड़ती। दिल से दिल के तार जुड़़े होते हैं। कुछ बातों का आपको खयाल रखना चाहिये। ऐसे ही कुछ काम हैं जो आपको रिलेशनशिप में नहीं करने चाहिये। इनसे आपके रिश्‍ते को नुकसान पहुंचता है।
  • 1

    लव के लिए... कुछ भी करेगा

    प्‍यार के लिए कुछ भी किया जाए वह कम है। आखिर जिसे सीमा में बांधा जा सके, उस दरिया का नाम तो प्‍यार नहीं। प्‍यार अबाध है। यह तो बहने का नाम है। लेकिन, क्‍या वाकई प्‍यार में कुछ भी करना चाहिये। शायद नहीं। प्‍यार में अपेक्षायें नहीं होनी चाहिये। यहां दूसरे की स्‍वतंत्रता का सम्‍मान करना चाहिये। इसके साथ ही आपको कुछ कामों से बचना चाहिये। काम जो प्‍यार नहीं, कई बार महज दिखावा बनकर रह जाते हैं। याद रखिये, लफ्जों का मोहताज नहीं होता प्‍यार। यह आसानी से एक दिन से दूसरे दिल तक पहुंच जाता है। इस अहसास को बस महसूस किया जा सकता है।
    Image Courtesy : Getty Images

    लव के लिए... कुछ भी करेगा
  • 2

    टैटू बनावाना

    प्‍यार को साबित होने की जरूरत नहीं होती। यह जाहिर हो ही जाता है। कहते हैं जुबां लाख कोशिश करे तबीयत-ए-दिल छुपाने की इश्‍क जाहिर हो ही जाता है किसी न किसी बहाने से। तो क्‍यों सुइयां चुभोकर और परमानेंट स्‍याही का सहारा क्‍यों लिया जाए। हमारा मकसद यह होता है कि यह प्‍यार तब तक कायम रहेगा जब तक यह टैटू मौजूद है, लेकिन इन बनावटी चीजों का मोहताज कब होता है आपका प्‍यार। यह तो दिल की बात है जो दिलबर ही समझता है।
    Image Courtesy : Getty Images

    टैटू बनावाना
  • 3

    हमेशा बिल देना

    हमेशा एक ही व्‍यक्ति क्‍यों बिल दें। माना कि आप कमाते हैं। आत्‍मविश्‍वास से भरपूर हैं। लेकिन, इसका अर्थ यह नहीं कि तुम्‍हें हर बार डेट पर खर्च करने की जरूरत है। कभी-कभार दूसरे को भी भुगतान करने दें। आखिर आपका भी हक बनता है 'पार्टी' लेने का।
    Image Courtesy : Getty Images

    हमेशा बिल देना
  • 4

    अपने दोस्‍तों को धोखा देना

    दोस्‍तों को भला कोई कैसे छोड़ सकता है। दोस्‍त तो हमेशा साथ रहने के लिए होते हैं। शुरुआती कुछ महीनों में आप दोनो हर लम्‍हा साथ बिताना चाहते हैं, लेकिन उसके बाद आपको अपने दोस्‍तों के लिए भी वक्‍त निकालना चाहिये। आप लोगों को कोशिश करनी चाहिये दोनों के दोस्‍तों के साथ घूमने-फिरने की योजना बनायी जाए। यह भी संभव है कि आप दोनों को एक दूसरे के कुछ दोस्‍त पसंद न आएं, लेकिन ऐसा तो होता है। आखिर हर एक से तबीयत मिल भी नहीं सकती।
    Image Courtesy : Getty Images

    अपने दोस्‍तों को धोखा देना
  • 5

    अपना फेवरेट शो न देखना

    हर किसी की अपनी पसंद होती है। अपनी चाह और अपने मनोरंजन के अपने तरीके। आपको जो पसंद करता है वह आपके उस रूप और व्‍यवहार के लिए  पसंद करता है जो आप हैं। लेकिन, कया आप उन चीजों को बदलना चाहते हैं। तो जरा विचार कीजिये। एक शो आपको बहुत पसंद है, लेकिन सिर्फ इसलिए कि आपका साथी वह शो नहीं देखना चाहता, आपको उस शो को देखना बंद नहीं करना चाहिये। वह आपकी पसंद है और आपको अपनी पसंद का सम्‍मान करना चाहिये।
    Image Courtesy : Getty Images

    अपना फेवरेट शो न देखना
  • 6

    अजीब शौक

    हम अपने साथी को खुश करने के लिए बहुत कुछ करते हैं। जो उसके शौक होते हैं, उन्‍हें अपना शौक बना लेते हैं। पहले एक, फिर दूसरा और फिर तीसरा और इस तरह हम अपना खुद का वजूद कहीं खो देते हैं। हमारे अपने शौक कहीं नेपृथ्‍य में चले जाते हैं। हम उन्‍हीं शौक को अपना लेते हैं जो हमारे साथी के शौक होते हैं। ऐसा मत कीजिये। शौक आपके होते हैं और आपको अपने शौक से ही आनंद आता है।
    Image Courtesy : Getty Images

    अजीब शौक
  • 7

    अपना आहार बदलना

    अच्‍छी बात है कि आप वीगन यानी ऐसी शाकहारी हैं जो दूध और उससे बने उत्‍पाद भी नहीं खाते। आप क्‍या खाना चाहते हैं यह आपका फैसला और आपकी मर्जी होनी चाहिये। क्‍या हुआ कि आपके साथी को पनीर या नॉनवेज पसंद है। आप वो खाइये जो आप खाना चाहती हैं। अपने साथी के लिए अपने स्‍वाद में बदलाव मत कीजिये।
    Image Courtesy : Getty Images

    अपना आहार बदलना
  • 8

    अपना वार्डरोब बदलना

    आप किन कपड़़ों में खूबसूरत लगती हैं, यह बात तो आपका साथी बता सकता है। लेकिन, उसे आप पर अपनी पसंद के कपड़े पहनने का दबाव नहीं बनाना चाहिये। खासतौर पर तब जब आपको अपने कपड़े बेहद पसंद हों। छोटे-मोटे बदलाव एक अलग बात है लेकिन आपके सभी कपड़ों पर सवाल उठाना अच्‍छी बात नहीं। हां, यह बात अलग है कि अगर उन कपड़ों में से कुछ भी ऑफिस के हिसाब से सूट न होता हो।
    Image Courtesy : Getty Images

    अपना वार्डरोब बदलना
  • 9

    थोड़ा कॉम्‍प‍ीटिशन बुरा नहीं

    अगर आप और आपका साथी दोनों अलग-अलग टीमों को सपोर्ट करते हैं, तो उसे अपना पक्ष बदलने के लिए न कहें। थोड़ा बहुत मुकाबला होते रहना चाहिये। यह छोटा मोटा मुकाबला प्‍यार में तड़के का काम करता है। आप दोनों के बीच थोड़ी बहुत प्रतिस्‍पर्धा होने से आप करीब ही आएंगे।
    Image Courtesy : Getty Images

    थोड़ा कॉम्‍प‍ीटिशन बुरा नहीं
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर