हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

ग्रीन टी के नकारात्‍मक प्रभाव

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Oct 09, 2014
ग्रीन टी स्‍वस्‍थ के लिए लाभदायक होती है। यह तो आपने सुना ही होगा लेकिन क्‍या आप जानते है कि ग्रीन टी का अगर सही से सेवन ना किया जाए तो ये आपके स्‍वस्‍थ को बिगाड़ भी सकती है।
  • 1

    ग्रीन टी के साइड इफेक्‍ट

    ग्रीन टी स्‍वस्‍थ के लिए लाभदायक होती है। यह तो आपने सुना ही होगा लेकिन क्‍या आप जानते है कि ग्रीन टी का अगर सही से सेवन ना किया जाए तो ये आपके स्‍वस्‍थ को बिगाड भी सकती है। साथ ही इसका जरूरत से ज्यादा ग्रीन टी सेहत को फायदा कम और नुकसान अधिक पहुंचाती है। तो आइये जानते है कि इसके सेवन को करने से पहले किन बातों का ध्‍यान रखना जरूरी है। image courtesy : getty images

    ग्रीन टी के साइड इफेक्‍ट
  • 2

    फ्रेश ग्रीन टी का ही सेवन करें

    इस बात का खास ध्‍यान रखें कि जब भी ग्रीन टी पीये, ताजा ही पीये। चूंकि उसे बाद में ठंडी होने के बाद या दोबारा से गर्म करके पीने से उसके पोषक तत्‍व नष्‍ट हो जाते है जो आपके पाचन प्रक्रिया के लिए नुकसानदेह होते है। image courtesy : getty images

    फ्रेश ग्रीन टी का ही सेवन करें
  • 3

    ना ज्‍यादा गर्म, ना ज्‍यादा ठंडी

    ग्रीन टी को सही तापमान के पानी के साथ न पीने से यह पेट की समस्या का कारण बन सकती है। ग्रीन टी बनाते समय यह ध्यान रखना चाहिये कि इसका पानी बिल्कुल उबला हुआ न हो। उबला हुआ होने पर जब आप उसमें चाय डालते हैं तो एसिडिटी हो सकती है।

    ना ज्‍यादा गर्म, ना ज्‍यादा ठंडी
  • 4

    एक ही पत्ती में बार-बार बनाना

    सामान्‍य चाय में लोग दूसरी बार उसी चाय पत्ती का इस्‍तेमाल कर लेते है, अगर उसी तरह से ग्रीन टी में भी समान पत्ती का उपयोग किया जाए तो उस पत्ती से कैंसर होने वाले पदार्थ पनपने लगते है। image courtesy : getty images

    एक ही पत्ती में बार-बार बनाना
  • 5

    कैफीन

    ग्रीन टी को कभी भी अधिक गाढा करके ना पीएं चूंकि इससे चाय में अधिक मात्रा में कैफीन और पोलिफिनोल पाएं जाते है। इसके अलावा हालांकि ग्रीन टी में ज्यादा मात्रा में कैफीन नहीं होता लेकिन इनका अधिक सेवन करने से हृदय गति में अनियमितता, अनिद्रा की समस्या, चिंता, चिड़चिड़ापन जैसे लक्षण देखने को मिल सकते हैं।  image courtesy : getty images

    कैफीन
  • 6

    दवाई के साथ ना लें

    चाय में मौजूद पदार्थ हो सकता है उस दवाई के साथ मेल ना खाएं। इसलिए चाय के साथ किसी भी दवाई को लेने से पहले अपने डाक्‍टर से सलाह अवश्‍य लें। image courtesy : getty images

    दवाई के साथ ना लें
  • 7

    हद से ज्‍यादा ना पीएं

    चाय तो चाय होती है इसलिए चाहे वे चाय ग्रीन ही क्‍यों ना हो उसका सेवन भी हद से अधिक ना करें। व्‍यक्ति एक दिन में 6 कप से ज्‍यादा इसका सेवन ना करें। और अच्‍छी सेहत के लिए डाक्‍टर भी एक दिन में 3 से 4 कप ग्रीन टी लेने की सलाह देते है। image courtesy : getty images

    हद से ज्‍यादा ना पीएं
  • 8

    खाने के एक घंटा पहले या बाद में पीना

    कई ऐसे पदार्थ चाय में होते है, जो कैल्शियम के समावेश में बाधा उत्‍पन्‍न करते है। जिससे हमारे शरीर में आयरन व कैल्‍शियम की पूर्ति सही से नहीं हो पाती है। इसलिए खाने के तुंरत बाद या उससे तुरंत पहले चाय का सेवन ना करें। image courtesy : getty images

    खाने के एक घंटा पहले या बाद में पीना
  • 9

    दूध के साथ ना पीएं

    ग्रीन टी को हमेशा सिर्फ पत्ती में पानी डालकर ही पीएं। क्‍योंकि इसे दूध के साथ पीने से यह आपके शरीर में कैल्शियम के समावेश को होने से रोकती है। image courtesy : getty images

    दूध के साथ ना पीएं
  • 10

    आयरन की कमी

    ग्रीन टी आयरन को अवशोषित करती है, जिससे शरीर में आयरन की कमी हो सकती है, इसलिये एनीमिया के शिकार लोगों को ग्रीन टी पीते समय सावधानी बरतनी चाहिये। इस प्रभाव से बचने के लिये आप चाहें तो खाने के बीच में ग्रीन टी ले सकते हैं। image courtesy : getty images

    आयरन की कमी
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर