हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

इन स्वास्थ्य संकेतों के प्रति सचेत रहें पुरुष

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Dec 10, 2014
अमेरिकन अकादमी ऑफ़ फैमिली फीजिशियन्स के एक सर्वे के अनुसार, 38 प्रतिशत पुरुष केवल तभी चिकित्सक के पास जाते हैं, जब वे बेहद बीमार होते हैं या फिर लक्षण खुद दूर नहीं होते हैं।
  • 1

    पुरुषों के लिए स्वास्थ्य संकेत

    अमेरिकन अकादमी ऑफ़ फैमिली फीजिशियन्स के एक सर्वे के अनुसार, 38 प्रतिशत पुरुष केवल तभी चिकित्सक के पास जाते हैं, जब वे बेहद बीमार होते हैं या फिर लक्षण खुद ब खुद दूर नहीं होते हैं। लेकिन स्वस्थ महसूस करने का मतलब ही स्वस्थ होना नहीं होता है। कई बार चेतावनी के संकेत आपके गौर करने के कुछ समय पहले से ही मौजूद हो सकते हैं। तो चलिये जानें किन स्वास्थ्य संकेतों के प्रति पुरुषों को सचेत रहना चाहिए।  
    Images courtesy: © Getty Images

    पुरुषों के लिए स्वास्थ्य संकेत
  • 2

    सीने में दर्द

    ज्यादातर लोग सीने में दर्द को दिल का दौरा पड़ने के साथ जोड़कर देखते हैं। लेकिन यह अलग-अलग वजहों से हो सकता है। इसके पीछे कुछ अन्य कारण जैसे कि हृदय समस्याएं या एक फेफड़ों में कोई समस्या (जैसे निमोनिया, पल्मोनरी एम्बोलिस्म या अस्थमा) हो सकती है। इसके अवाला, जठरांत्र स्वास्थ्य की स्थिति जैसे पेट में अल्सर आदि हो सकता है। इन सभी स्थितियों में डॉक्टर को दिखाने की जरूरत होती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    सीने में दर्द
  • 3

    मूत्र में खून

    अपने मूत्र में रक्त आना चिंता का कारण होता है। विशेष रूप से तब जबकि यह इतनी मात्रा में हो कि आप अपनी नग्न आंखों से इसे देख सकते हों। मूत्र में रक्त प्रोस्टेट कैंसर या बढ़े हुए प्रोस्टेट का एक प्रमुख लक्षण होता है। यह मूत्राशय या गुर्दे में कैंसर या पथरी की वजह से भी हो सकता है। गुर्दे की बीमारी या कोई चोट भी मूत्र में रक्त पैदा कर सकती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    मूत्र में खून
  • 4

    सांस की तकलीफ

    सांस की तकलीफ पुरुषों की कई बीमारियों की ओर संकेत करती है। यह दिल का दौरा या कंजेस्टिव हार्ट फेलियर का संकेत हो सकता है या फिर आपको कोई फेफड़ों का रोग जैसे, फेफड़ों का कैंसर, क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (सीओपीडी), क्रोनिक ब्रोंकाइटिस, वातस्फीति, अस्थमा या पल्मोनरी हाइपरटेंशन का संकेत हो सकता है। सांस की तकलीफ एनीमिया के साथ जुड़ा लक्षण भी होता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    सांस की तकलीफ
  • 5

    बैक पेन

    पसलियों और कूल्हे के बीच तेज दर्द महसूस होना किडनी का संकेत हो सकता है। हालांकि जरूरी नहीं है कि बैक पेन का मतलब यही है कि किडनी में समस्या है। विशेषज्ञ बताते हैं कि अधिकांशतः इस प्रकार के दर्द होने पर 10 में से एक पुरुष को स्टोन होता है। यदि इस समस्या को नज़रअंदाज कर दिया जाए तो गुर्दों में सूजन या मूत्र प्रवाह अवरुद्ध हो सकता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    बैक पेन
  • 6

    बालों का झड़ना

    बालों का झड़ना मध्यम आयु वर्ग के पुरुषों की एक आम चिंता का विषय है। किसी बड़ी सर्जरी या बीमारी से उबरने पर पुरुषों को अस्थायी रूप बालों के झड़ने की समस्या हो सकती है, या फिर गंभीर मानसिक तनाव के कारण भी ऐसा हो सकता है। हालांकि यह उम्र बढ़ने का एक स्वाभाविक हिस्सा है। बालों का झड़ना पुरुष स्वास्थ्य की अधिक गंभीर स्थिति जैसे, ऑटोइम्यून डिजीज (ल्यूपस), संक्रामक रोग जैसे सिफलिस, थायराइड रोग या दाद आदि की चेतावनी भी हो सकता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    बालों का झड़ना
  • 7

    इरेक्टाइल डिसफंक्शन

    इरेक्टाइल डिसफंक्शन 70 प्रतिशत एक अन्य बीमारी की वजह से होते हैं। जैसे, मधुमेह, हृदय रोग, गुर्दे की बीमारी, तंत्रिका संबंधी रोग, क्रोनिक अलकोहॉलिस्म, मल्टीपल स्क्लेरोसिस तथा वैस्कुलर डिजीज। ये स्थितियां नसों, चिकनी मांसपेशियों, धमनियों, और ऊतकों को नष्ट कर पुरुष की इरेक्शन प्राप्त करने क्षमता को प्रभावित करती हैं।
    Images courtesy: © Getty Images

    इरेक्टाइल डिसफंक्शन
  • 8

    अत्यधिक प्यास लगना

    हर आदमी को अपने स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए खूब पानी पीना चाहिए। हालांकि अत्यधिक प्यास लगना आपके स्वास्थ्य के ठीक न होने का संकेत हो सकता है। यह ह्य्पेरग्ल्य्समिया का एक प्रमुख लक्षण होता है, और इसलिए यह आपके मधुमेह होने का संकेत हो सकता है। अत्यधिक प्यास लगना आंतरिक रक्तस्राव, गंभीर संक्रमण, दिल, जिगर या गुर्दे की विफलता का एक संकेत भी हो सकता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    अत्यधिक प्यास लगना
  • 9

    बहुत अधिक पसीना आना या शरीर में सूजन

    बहुत अधिक पसीना आना या शरीर में सूजन थाइरॉइड का संकेत हो सकते हैं। शरीर में मेटाबॉलिज्म बहुत अधिक बढ़ जाने पर या तो पुरुषों को बहुत अधिक पसीना आता है या फिर बहुत कम। कई बार पसीना आने के साथ बहुत बेचैनी भी होती है। इसके अलावा शरीर के कुछ हिस्सों जैसे चेहरे, आंखों, उंगलियों आदि में सूजन होना भी थाइरॉइड का संकेत हो सकता है।   
    Images courtesy: © Getty Images

    बहुत अधिक पसीना आना या शरीर में सूजन
  • 10

    मुंह से बदबू आना

    मुंह से बदबू आना फेफड़ों की बीमारी का लक्षण हो सकता है। इसलिए यदि आपके मुंह से बदबू आती है, तो बीती रात खाए लहसुन को ना कोसें। यह गंभीर समस्या का संकेत भी हो सकता है। फेफड़ों के रोग, दमा और सिस्टिक फाइब्रोसिस सभी में उच्च अम्लीय बदबू की समस्या होती है। बदबू जितनी अधिक अम्लीय होगी, स्थिति भी उतनी ही खराब होती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    मुंह से बदबू आना
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर