हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

व्यायाम को बनाएं अपने जीवन का मजेदार हिस्सा

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Mar 06, 2014
यदि आप एक्सरसाइज को अपने जीवन का हिस्सा बनाना चाहते हैं, लेकिन सोचते हैं कि एक्सरसाइज शुरू करने के लिए आपको ऊर्जा, समय व इच्छा शक्ति कैसे मिलेंगे, तो अब बेफिकर हो जाएं।
  • 1

    व्यायाम के फायदों को समझें

    यदि आप एक्सरसाइज नहीं करते हैं, और इसे अपने जीवन का हिस्सा बनाना चाहते हैं, लेकिन आप सोचते हैं कि एक्सरसाइज शुरू करने के लिए आपको ऊर्जा, समय व सबसे महत्वपूर्ण, इच्छा शक्ति कैसे मिलेगी। तो यदि आप वाकई एक्सरसाइज को अपने रोजाना के नियम में शामिल करना चाहते हैं तो आपको इससे खुद को होने वाले अनगिनत शारीरिक और भावनात्मक फायदों को समझना होगा, ताकि आपके दिल में इसे शुरू करने के लिए जोश भर सके।

    व्यायाम के फायदों को समझें
  • 2

    एक दिन में नहीं होता जादूई बदलाव

    आपको रातों रात एक एथलीट तो बनना नहीं है, और ऐसा संभव भी नहीं है, जिसके लिए आप एक्सरसाइज को अपनी जीवन शैली का एक अभिन्न हिस्सा बनाने जा रहे हैं। तो बेहतर होगा कि बजाय रातों-रात खुद को बदलने के आप अपनी दिनचर्या में कुछ छोटे और जरूरी बदलाव करने के लिए प्रतिबद्ध हो जाएं। आदतों में किये गए छोटे परिवर्तन, स्थायी बदलाव के लिए नेतृत्व करते हैं। तो शुरुआत में छोटे कदम लें और निम्न सुझावों के साथ अपने दैनिक जीवन में व्यायाम को एक मजेदार आदत की तरह शामिल करें।

    एक दिन में नहीं होता जादूई बदलाव
  • 3

    धीरे धीरे शुरू करें

    स्थायी बदलाव लाने के क्रम में, अपने दिमाग को व्यायाम और सुखद भावनाओं और शारीरिक अनुभूतियां के बीच संबंध को विकसित करना होगा। लेकिन ये अधिक तनावपूर्ण नहीं होना चाहिए। तो, आसान और हल्के व्यायमों से शुरू करें और मुस्कान और मज़े के साथ इसे करें। यदि आपके लिए एक्सरसाइज नई है यै कफी समय से आपने एक्सरसाइज नहीं की है तो 5 से 10 मिनट के सेशन से शुरुआत करें। धीरे-धीरे आप घंटे तक पहुंच जाएंगे और मजे से 45

    धीरे धीरे शुरू करें
  • 4

    अपनी आदत न छोड़ें

    एक बार व्यायाम की आदत पड़ जाए तो इसे न छोड़ें। इसे चलने देने का सबसे बेहतर उपाय है - न रुकने देना। क्योंकि एक बार आदत छूट जाने पर दौबारा आदत होने में समय लगता है। तो यदि आपको व्यायाम की आदत है तो इसे रोके नहीं। क्योंकि अच्छी आदतें कभी नहीं छोड़नी चाहिए।

    अपनी आदत न छोड़ें
  • 5

    बेहतर प्रदर्शन करते रहें

    जीवन भर हम प्रयास करते रहते हैं, और ऐसा करना बुरा भी नहीं। बशर्ते प्रयास सफल भी होते रहें। एक्सरसाइज के संदर्भ में बात करें तो अपनी आदत का 90% तो ध्येय की प्राप्ति के प्रयास में ही चला जाता है। इसलिए ऐसा लक्ष्य निर्धारित करें जिसे पूरा करना संभव हो। कहने का मतलब है कि आप आर्नोल्ड से भी ज्यादा बेहतर फिजीक बनाने का ध्येय न बना लें। आपको निरोग और हस्ट-पुस्ट रहने के लिए व्यायाम करना है, इसलिए नियमित होकर हल्की और अलग-अलग एक्सरसाइज करें।

    बेहतर प्रदर्शन करते रहें
  • 6

    नियमित होने का संकल्प करें

    एक महीने तक प्रतिदिन (भले ही 20 मिनट) व्यायाम करने का संकल्प करें। यह आपके व्यायाम की आदत को दृढ़ करता है। संकल्प करने पर पहले सप्ताह में आपको जाने के लिए स्वयं को जरूर तैयार करना पड़ेगा। लेकिन देखते ही देखते एक महीने का संकल्प पूरा होकर सालों में बदल जाएगा।

    नियमित होने का संकल्प करें
  • 7

    नयापन लाएं

    आप बोर न हो जाएं, इसलिए व्यायाम के नये तरीके अपनाएं जैसे डॉंस, पॉवर योग, एरोबिक्स, बैली डॉंस, ताईची, पिलेट्‌स आदि। ये सब आपकी दिचर्या को ज्यादा मजेदार बनाते हैं और आपके वजन को कम करने में भी सहायक होते हैं। तो सप्ताह में एक दिन का निश्चय करें और इन्हें एकान्तर में करें। इससे आप प्रतिदिन कुछ नया करते रहेंगे और आपका अच्छा व्यायाम भी हो जाएगा।

    नयापन लाएं
  • 8

    जगह व समय का निर्धारण

    ऐसी जगह व्यायाम न करें, जहां पर आपको व्यायाम करते समय असुविधा हो। हो सके तो जगह बदलते रहें। व्यायाम के लिए सुबह का समय सबसे अच्छा होता है। इसके लिए दोपहर का समय उपयुक्त नहीं क्योंकि इससे न तो फायदा होता है और आपके काम में भी बाधा पहुंचती है।

    जगह व समय का निर्धारण
  • 9

    तनाव से हों मुक्त

    कई बार तनाव ग्रसित होने पर आप व्यायाम करना छोड़ देते हैं। लेकिन ऐसा करना गलत है, व्यायाम न छोड़ें। व्यायाम से तनाव कम होने में सहायता होती है। इससे एण्डोरफिन नामक रसायन निकलता है जिससे आपका मूड ठीक रहता है। हां ऐसे में कठोर व्यायाम न करें, पावर योग, डांस व रनिंग से आपका तनाव दूर हो जाता है।

    तनाव से हों मुक्त
  • 10

    खुद को सराहें

    यकीन मानिये व्यायाम एक अच्छी आदत है, जो एक बार पड़ जाए तो आपको स्वस्थ रहने का जुनून हो जाता है। लेकिन व्यायाम को नियमित रखने और जोश बनाए रखने के लिए खुद की सराहना जरूरी है। नियमित होने पर खुद को सराहें, अपने स्वस्थ शरीर को देख कर हर्ष महसूस करें और अपने हष्ट-पुष्ट स्वस्थ शरीर से प्यार करें।

    खुद को सराहें
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर