हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

अपने बच्‍चे को यौन शोषण के प्रति ऐसे करें सावधान!

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Nov 30, 2016
मासूम बच्‍चे आये दिन किसी न किसी की गंदी मानसिकता का शिकार हो रहे हैं। ऐसे में मां-बाप का फर्ज बनता है कि वह अपने बच्‍चों को यौन शोषण के बारे में पूरी जानकारी दें और उन्‍हें सतर्क रहने के लिए कहें।
  • 1

    यौन शोषण के प्रति बच्‍चों को करें सावधान

    आजकल अपराध इस कदर बढ़ गये है कि लोगों का जीना मुहाल हो गया है। और ऐसे ही अपराधों में से एक अपराध है मासूम बच्‍चों के साथ यौन शोषण। मासूम बच्‍चे आये दिन किसी न किसी की गंदी मानसिकता का शिकार हो रहे हैं। ऐसे में मां-बाप के कलेजे का टुकड़ा जब दूर स्‍कूल पढ़ने या बाहर खेलने जाता है, तो उनकी टेंशन बढ़ जाती है। ऐसे में मां-बाप का फर्ज बनता है कि वह अपने बच्‍चों को यौन शोषण के बारे में पूरी जानकारी दें और उन्‍हें सतर्क रहने के लिए कहें। जी हां बढ़ते हुए बच्‍चों के आगे मां-बाप को चुप नहीं रहना चाहिए, बल्‍कि उनसे खुल कर बात करके, अच्छे व बुरे के बारे में समझाना चाहिए। यहां दिये तरीको से आप अपने मासूम बच्‍चों को यौन शोषण के बारे में जानकारी दे सकते हैं।

    यौन शोषण के प्रति बच्‍चों को करें सावधान
  • 2

    बैड और गुड टच के बारे में बताये

    बच्‍चे बहुत मासम होते हैं उन्‍हें गंदी मानसिकता के लोगों की पहचान करने के लिए बैड और गुड टच के बारे में बताएं। उन्‍हें बताये कि गुड टच वह होता है, जब मां बच्‍चों को नहलाते समय बिना उसे नुकसान पहुंचाए उसके प्राइवेट पार्ट को छूती है। जबकि बैड टच में कोई अंजान व्‍यक्‍ति या अन्‍य सदस्‍य बच्‍चे के प्राइवेट पार्ट को छूता या उसे नुकसान पहुंचाने की कोशिश करता है।
    Image Source : scoopwhoop.com

    बैड और गुड टच के बारे में बताये
  • 3

    सुरक्षा टिप्स की जानकारी दें

    अपने बच्चे को सुरक्षा टिप्स की जानकारी सरल रूप से दें, जैसे किसी अंजान व्यक्ति कुछ नहीं लेना चीजें, अनजान व्यक्ति के साथ नहीं जाना, चाहे वो आपसे ये कहें कि आपके पेरेंट्स ने ही उन्हें स्कूल से लाने के लिए भेजा है।

    सुरक्षा टिप्स की जानकारी दें
  • 4

    बच्‍चों को बोलने के लिये कहें

    कुछ न बोल पाने के कारण बहुत से बच्‍चे बहुत आसानी से अंजान व्‍यक्‍ति की गंदी मानसिकता के शिकार बन जाते हैं। इसलिए  बच्‍चों के अंदर किसी अंजान को मना करने की क्षमता पैदा करें। इसके अलावा बच्‍चे को बोलने के लिये प्रोत्‍साहित करें और आगे आने को कहें।

    बच्‍चों को बोलने के लिये कहें
  • 5

    अपने शरीर का सम्मान करना सिखाये

    बच्चों को अपने शरीर का सम्‍मान करना सिखाये, इससे उन्‍हें समझ आयेगा कि किसी अजनबी का उन्‍हें छूना गलत है। इसके साथ-साथ आप अपने बच्‍चे को उनके प्राइवेट पार्ट के बारे में सारी जानकारी दें। उन्‍हें बताएं कि यह अंग प्राइवेट है और इसे छूने का हक किसी का नहीं है। इस तरह बच्‍चे अलर्ट हो जाएंगे।

    अपने शरीर का सम्मान करना सिखाये
  • 6

    बच्‍चों से दोस्‍ती करें

    अपने बच्‍चों में बचपन से ही ऐसी आदतें बनाये कि वो दिनभर में होने वाली घटनाओं के बारे में आपसे बात करें। बच्चो की इन बातों से आप उनकी पसंद, नापसंद, उनके दोस्त, उनकी अच्छी बुरी आदत का सहज और सटीक अनुमान लगा पाएंगे साथ ही उनके व्यवहार में आने वाले आकस्मिक परिवर्तन भी जान और सुलझा पाएंगे। साथ ही उन्‍हें बताएं कि आप हमेशा और हर कदम पर उनके साथ बने रहेंगे। इससे उन्‍हें आप पर पूरा भरोसा रहेगा और वह आपसे कुछ भी नहीं छुपाएंगे।
    Image Source : Getty

    बच्‍चों से दोस्‍ती करें
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर