हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

रेट्रोग्रेड इजैक्यूलेशन के लक्षण, कारण और उपचार

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jan 04, 2014
रेट्रग्रेड इजैक्यूलेशन एक प्रकार की सामान्‍य यौन समस्‍या है, इस स्‍लाइडशो में इसके लक्षण, कारण और उपचार के बारे में जानिए।
  • 1

    रेट्रग्रेड इजैक्यूलेशनः कारण, लक्षण व उपचार

    किसी पुरुष का ऑर्गैज़म (चरम-आनन्द) के समय, इजैक्यूलेशन अर्थात वीर्य का स्त्राव, मूत्रमार्ग के बाहर वीर्य के निष्कासन को कहा जाता है (लिंग के अंदर पारित होना)। समान्यतः इजैक्यूलेशन लिंग की नोक से बाहर वीर्य को आगे की ओर ढकेलता है। ऐसा एक बहुत छोटे से स्फिंगक्टर (वॉल्व) की वजह से होता है जो मूत्राशय के द्वार (मूत्राशय नैक) को खुलने से रोकता है और उसमें वीर्य को प्रवेश करने बचाता है।

    रेट्रग्रेड इजैक्यूलेशनः कारण, लक्षण व उपचार
  • 2

    रेट्रग्रेड इजैक्यूलेशन की सामान्‍य स्थिति

    रेट्रग्रेड इजैक्यूलेशन (पतन होना) तब होता है, जबकि वीर्य मूत्राशय में पीछे की ओर जाने लगता है। और ऐसा मूत्राशय नेक पर मौजूद वाल्व के सामान्य रूप से काम न करने की स्थिति में होता है। यह स्थिति इजैक्यूलेशन के समय, पूरे वीर्य या उसके अंशिक भाग को मूत्राशय में पीछे की ओर जाने को बाध्य करता है। ऐसा होने पर एक बूंद वीर्य भी लिंग के बाहर नहीं आता है।

    रेट्रग्रेड इजैक्यूलेशन की सामान्‍य स्थिति
  • 3

    क्यों होता है ऐसा

    यह एक असामान्य स्थिति है, जोकि आंशिक या पूर्ण रूप से उत्पन्न हो सकती है। मूत्राशय में जाने वाला वीर्य हानिरहित होता है। यह मूत्र के साथ घूल जाता है और शरीर पर बिना कोई बुरा असर किए पेशाब के माध्यम से शरीर से बाहर निकल जाता है।

    क्यों होता है ऐसा
  • 4

    अन्‍य कारण

    डाइबिटीज कुछ प्रकार की दवाएं उच्च रक्तचाप के लिए ली गई ड्रग्स कुछ मूड-ऑल्ट्रिंग ड्रग्स, आदि फ्लूऑक्सट्रीन, सैट्रीलीन, क्लोप्रोमोजीन, थियोरडिजीन और रिसपेरीडोन आदि पौरुष ग्रंथि के लिए ली गई दवाओं के कारण ऐसी स्थिति हो सकती है।

    अन्‍य कारण
  • 5

    सर्जरी भी है कारण

    प्रोस्टेट या मूत्रमार्ग सर्जरी और व्यापक पैल्विक सर्जरी, जिसके कारण श्रोणि नसों को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से नुकसान हो सकता है भी इसके पीछे की वजह हो सकता है। लोअर स्पाइन (रीढ़) की डिस्क और कशेरुकाओं पर लगी चोट की किसी सर्जरी के कारण किसी बीमारी की वजह से तंत्रिका क्षति भी रेट्रग्रेड इजैक्यूलेशन का कारण होती है।

    सर्जरी भी है कारण
  • 6

    कैसे पहचानें

    हालांकि भोग करने की क्षमता को प्रभावित नहीं करता है। लेकिन, इसे आप ऐसे ऑर्गैजम से पहचान सकते हैं, जिसमें या तो बहुत कम वीर्य लिंग से बाहर बाहर आता है या बाहर  आता ही नहीं है। इसके अलावा संभोग के बाद झागदार मूत्र का आना भी एक लक्षण है। ऐसा मूत्र के साथ वीर्य आने के कारण होता है।

    कैसे पहचानें
  • 7

    पुरुष बांझपन: जांच और जटिलतायें

    यदि रेट्रग्रेड इजैक्यूलेशन के रोगी के मूत्र की जांच होने पर यह मूत्र में शुक्राणु की एक बड़ी राशि दिखाए। रेट्रग्रेड इजैक्यूलेशन केवल बांझपन का कारण बनता है। यह वीर्य के निर्माण या संभोग करने की क्षमता के खतम होने का कारण नहीं बनता है।

    पुरुष बांझपन: जांच और जटिलतायें
  • 8

    उपचार

    एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या न होने के कारण, रेट्रग्रेड इजैक्यूलेशन के लिए कोई विशेष उपचार नहीं है। लेकिन विशेषज्ञ की मदद से आप बांझपन से लड़ने के लिए इस समस्या का इलाज करवा सकते हैं। इस बात को सुनिश्चित करें कि आपके द्वारा ली जा रही कोई दवा तो रेट्रग्रेड इजैक्यूलेशन का कारण तो नहीं बन रही है। मधुमेह या किसी सर्जरी की दवाओं के कारण हुए रेट्रग्रेड इजैक्यूलेशन को दवाओं की मदद से ठीक किया जा सकता है।

    उपचार
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर