हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

कामसूत्र : प्‍यार जताने के 64 तरीके, भाग-2

By: ओन्लीमाईहैल्थ लेखक, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Apr 23, 2013
कामसूत्र में जीवनशैली के साथ-साथ सेक्‍स और संसर्ग पर वात्‍स्‍यायन ने लिखा है। इसमें वर्णित 64 आसनों के बारे में जानिए इस स्‍लाइड शो में।
  • 1

    बंद आसन

    यह कामसूत्र का बहुत ही कठिन आसन है। इस आसन को आराम से नही किया जा सकता है। इसमें महिला दूसरी तरफ मुंह करके लेट जाती है और पुरुष के दोनों पैर उसकी जांघों में होते हैं। इस स्थिति में पुरुष के दोनों हाथ खाली होते हैं जिनसे वह अन्‍य रति क्रियाओं को कर सकता है।

    बंद आसन
  • 2

    तितली आसन

    यह कामसूत्र का बहुत अच्‍छा आसन है। इसे करने के लिए किसी टेबल का सहारा लिया जाता है। महिला टेबल या अन्‍य फर्नीचर पर पीठ के बल लेट जाती है, उसके दोनों पैर पुरुष के कंधे पर होते हैं। महिला की कमर उठी होती है और वह अपने हाथों से कूल्‍हों को सहारा देती है। इस क्रिया को करने में पुरुष और महिला दोनों को सुखद एहसास होता है।

    तितली आसन
  • 3

    पारंपरिक आसन

    महिला पीठ के बल लेट जाती है, उसके दोनों पैर अलग होते हैं। पुरुष उसकी जांघों पर सहारा देकर ऊपर होता है। पुरुष दोनों हाथों से अपने कमर के हिस्‍से को ऊपर उठाये रखता है, महिला अपने हाथों से पुरुष के कूल्‍हों को सहारा देती है जिससे रति क्रिया में आसानी होती है। यह बहुत ही पारंपरिक क्रिया है जिसे बड़ी आसानी से किया जा सकता है।

    पारंपरिक आसन
  • 4

    आरोहड़ आसन

    इस आसन में पुरुष का बलिष्‍ठ होना जरूरी है। पुरुष जमीन पर खड़ा हो जाता है, महिला पुरुष के ऊपर बैठ जाती है। महिला के दोनों पैर पुरुष की जांघों पर होते हैं। पुरुष के दोनों हाथ महिला के कूल्‍हों से सपोर्ट करते हैं, जबकि महिला के दोनों हाथ पुरुष की गर्दन पर होते हैं। पुरुष अपने हाथों के सहारा देता है।

    आरोहड़ आसन
  • 5

    खूंटी आसन

    इस आसन को देखकर ऐसा लगता है कि इस आसन को वही लोग कर सकते हैं जिनको इसमे महारत हासिल हो, लेकिन ऐसा नही है। सेक्‍स के इस आसन में पुरुष और महिला एक दूसरे के विपरीत दिशा में लेट जाते हैं, पुरुष का पैर महिला के मुंह के पास होता है। महिला अपने दोनों पैरों में पुरुष की जांघ होती है और महिला अपने पैरों को लिपटाकर उसकी जांघों पर अपना सिर रख देती है। पुरुष रति क्रिया करने के लिए अपने दोनों हाथों का सहारा लेता है।

    खूंटी आसन
  • 6

    कमल आसन

    सेक्‍स के इस पोजीशन में महिला कमल की स्थिति में होती है, वह पीठ के बल लेट जाती है और उसके दोनों पैर कमल की स्थिति में ऊपर की तरफ होते हैं। पुरुष उन दोनों पैरों के बीच में लेट जाता है और रति क्रिया शुरू करता है। इसमें महिला के ऊपर पुरुष का पूरा भार नही होता है क्‍योंकि, पुरुष का भार उसके दोनों हाथों पर होता है। महिला के दोनों हाथ खाली होते हैं जिससे वह संभोग की क्रिया को रोचक बनाती है।

    कमल आसन
  • 7

    प्रसुप्‍त कैंची आसन

    इस आसन को करने में बल की आवश्‍यकता होती है, इसलिए इस आसन को ऊर्जावान लोगों को ही करना चाहिए। महिला अपने हाथों पर शरीर के आधे हिस्‍से का भार रखती है। महिला की एक टांग पुरुष के जांघों के बीच से निकलती है और पुरुष दोनों बाजुओं से महिला के कूल्‍हों और कमर को पकड़ लेता है। इस आसन को करने के लिए अतिरिक्‍त ऊर्जा और शक्ति की जरूरत होती है।

    प्रसुप्‍त कैंची आसन
  • 8

    मनोरथ आसन

    पुरुष और महिला दोनों घुटनों के बल बैठ जाते हैं। पुरुष अपने बायें पैरों को सीधा जमीन पर महिला के सामने (इसमें ऐसा लगता है कि पुरुष महिला को प्रपोज कर रहा हो) रखता है, महिला का दाहिना पैर पुरुष के सामने होता है। दोनों एक-दूसरे से लिपट जाते हैं। इस स्थिति में रति क्रिया के एक-दूसरे के पैर सहयोग करते हैं।

    मनोरथ आसन
    Tags:
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर