हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

अपने नन्‍हे-मुन्‍ने के आहार में शामिल करें ये 7 सुपरफूड

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jan 15, 2015
बच्‍चों को विकास और प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए विभिन्‍न पोषक तत्‍वों की जरूरत होती है। इसलिए बच्चों को ऐसा आहार दिया जाना चाहिए, जिससे उनके शरीर के लिए जरूरी सभी पोषक तत्व उन्हें मिल सकें।
  • 1

    बच्‍चों के लिए सुपरफूड

    आजकल के बच्चों को फास्ट फूड पीढ़ी के रूप जाना जा सकता है। ऐसा बच्‍चों के जीवनशैली और खानपान के तरीके में बेहद बदलाव का नतीजा है। फास्‍ट फूड चलते बच्‍चों को पोषण बिल्‍कुल भी नहीं मिल पाता है। जबकि वयस्‍कों के विपरित बच्‍चों को विकास और प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए विभिन्‍न पोषक तत्‍वों की जरूरत होती है। कई अध्ययनों के विश्लेषण के बाद आहार और बाल रोग विशेषज्ञों ने भी यह दावा किया है कि बच्चों को ऐसा आहार दिया जाना चाहिए, जिससे उनके शरीर के लिए जरूरी सभी पोषक तत्व उन्हें मिल सकें। अपने बच्‍चों को सभी और सही प्रकार के पोषक तत्‍व देने के लिए आप उनके आहार में यहां दिये सुपरफूड को शामिल कर सकते हैं।
    Image Courtesy : Getty Images

    बच्‍चों के लिए सुपरफूड
  • 2

    दूध

    दूध कैल्शियम,‍ विटामिन डी और फास्‍फोरस का एक अच्‍छा स्रोत है। जो हड्डियों और दांतों के विकास के लिए महत्वपूर्ण होता है। इसके अलावा, दूध में प्रोटीन, जिंक, विटामिन ए, बी 2 और बी 12 जैसे अन्य आवश्यक पोषक तत्व भी होते हैं। लेकिन अगर आपका बच्‍चा दूध पसंद नहीं करता हैं तो उसे दूध आधारित कस्टर्ड या मिल्क शेक जैसे खाद्य पदार्थ देने का प्रयास करें।
    Image Courtesy : Getty Images

    दूध
  • 3

    अंडे

    प्रोटीन और विटामिन बी से भरपूर, अंडा बच्‍चों के विकास के वर्षों के दौरान फायदेमंद होता हैं। अलग-अलग तरीकों से अंडा खाना पकाने की कोशिश करे, जैसे इसे आप उबालकर, फ्राई करके या भुर्जी बनाकर भी अपने बच्‍चों को खिला सकते हैं। ऐसा करने से बच्‍चा खाने में ऊब महसूस नहीं करता। इसके अलावा इसे विभिन्न व्यंजनों में उन्हें जोड़ने के लिए प्रयास करें, ताकी आप इसे संभव रूप से उसके भोजन में अक्‍सर जोड़ सकें।
    Image Courtesy : Getty Images

    अंडे
  • 4

    स्‍ट्रॉबेरी और ब्‍लूबेरी

    स्‍ट्रॉबेरी और ब्‍लूबेरी इन दोनों ही प्रकार की बेरी में एंटीऑक्‍सीडेंट होता है जो, कि दिमाग के संज्ञानात्मक कार्य को बढ़ाती हैं। इसके अलावा इनमें मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट दिमाग के कार्य करनी भी छमता को भी तेज बनाती है। साथ ही विटामिन सी और ई से भरपूर ब्लूबेरी दिमाग को स्वस्थ रखने के साथ ही बढ़ती उम्र में होने वाली आंखों संबंधी समस्या से भी बचाता है। इसे अलावा इसको खाने से शरीर में खून बनता है और मसूडे़ भी स्‍वस्‍थ रहते हैं। आप अपने बच्‍चों को इसे जैम या शेक के रूप में दे सकते हैं।
    Image Courtesy : Getty Images

    स्‍ट्रॉबेरी और ब्‍लूबेरी
  • 5

    मीठा आलू

    बीटा कैरोटीन, विटामिन ए, सी और ई, फाइबर, कैल्शियम और आयरन से भरपूर मीठा आलू सबसे स्वास्थ्यप्रद सब्जियों में से एक हैं। यह सब्‍जी अक्‍सर बच्‍चों को पसंद भी होती है। आप इस नाश्‍ते को ग्रीलिंग करके, उबालकर या सेंककर स्‍वादिष्‍ट बना सकते हैं। अगर आपका बच्‍चा फ्रेंच फ्राइज खाने का शौकीन हैं तो आप आलू की जगह इस स्‍वस्‍थ मीठे आलू को बदल सकते हैं।
    Image Courtesy : Getty Images

    मीठा आलू
  • 6

    ओटमील

    ओटमील भी प्रोटीन का बेहतरीन स्त्रोत है। यह मांसपेशियां मजबूत करने में मदद करता है। नाश्ते में 50 ग्राम ओटमील लेना बच्चों के विकास के लिए अच्छा होता है। विभिन्‍न प्रकार के शोधों से भी इस बात का पता चला है कि ओटमील खाने वाले बच्‍चे स्‍कूल में बेहतर तरीके से पढ़ाई करते हैं और उनकी एकाग्रता भी अच्‍छी होती है। फाइबर युक्त अनाज जैसे साबुत अनाज और दलिया धीरे पचते है और बच्‍चों की चयापचय को मजबूत बनाते हैं। आप अपने बच्‍चे को इसकी कुकीज बनाकर भी दे सकते हैं। इससे बनी कुकीज इतनी कुरकरी होती हैं कि बच्चे इनका मजा खुशी-खुशी लेते हैं।
    Image Courtesy : Getty Images

    ओटमील
  • 7

    फलियां

    प्रोटीन, कैल्शियम, फाइबर और एंटीऑक्‍सीडेंट से भरपूर होने के कारण बींस एक स्‍वस्‍थ आहार है। इसके अलावा बींस में फैट, कैलोरी और सोडियम बहुत कम होता है। अपने बच्‍चे के नियमित आहार में बींस को शामिल कर आप उसे सही मात्रा में एनर्जी और पोषक तत्‍व उपलब्‍ध कराते हैं। बींस जैसे सोयाबीन, सूखे मटर और मसूर आदि बहुत ही स्‍वस्‍थ होते हैं।  
    Image Courtesy : Getty Images

    फलियां
  • 8

    मछली

    मछली में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड बच्‍चों के मस्तिष्‍क के विकास को बढ़ावा देने और दृष्टि में सुधार में मदद करता हैं। इलिनॉय यूनिवर्सिटी के कॉलेज ऑफ एग्रीकल्चर साइंस की खानपान विशेषज्ञ सुजान ब्रेवेर के अनुसार बच्चों को काफी मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड की जरूरत होती है। यह दिमाग, स्नायु और आंखों के विकास के लिए बहुत जरूरी है। बच्चों के लिए मछली खाना उस समय ज्यादा जरूरी होता है, जब वे मां का दूध छोड़ने के बाद ठोस आहार अपनाने लगते हैं। नियमित रूप अपने बच्‍चे के आहार में सामन और ट्यूना जैसी मछलियों को शामिल करें।
    Image Courtesy : Getty Images

    मछली
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर