हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

मानसिक स्वास्थ्य का त्वचा पर प्रभाव

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Nov 14, 2014
मानसिक स्वास्थ्य का असर आपकी त्वचा पर भी पड़ता है। तनाव, क्रोध, अवसाद आदि त्वचा पर बुरा प्रभाव डालते हैं। त्वचा पर तनाव का सीधा असर देखा जा सकता है।
  • 1

    मानसिक स्वास्थ्य व त्वचा

    मानसिक स्वास्थ्य का असर आपकी त्वचा पर भी पड़ता है। तनाव, क्रोध, अवसाद आदि त्वचा पर बुरा प्रभाव डालते हैं। तनाव का संकेत आपके शरीर तथा सौंदर्य पर साफ‍ दिखाई पड़ सकता है। खासतौर पर त्वचा पर तनाव का सीधा असर देखा जा सकता है। इसके कारण बुढापा जल्‍दी झलकने लगता है जो कि सुंदरता पर दाग लगाता है। चलिये जानें कि मानसिक स्वास्थ्य का त्वचा पर प्रभाव पड़ता है और किसी नुकसान की स्थिति से कैसा निपटा जाए।
    Image courtesy: © Getty Images

    मानसिक स्वास्थ्य व त्वचा
  • 2

    तनाव

    तनाव कोर्टिसोल पैदा करता है। कोर्टिसोल का बढ़ा हुआ स्तर आपके चेहरे की त्वचा की कोशिकाओं को नुकसान पहुंचा सकता है, क्योंकि यह आपके रक्त प्रवाह पैटर्न के साथ हस्तक्षेप करता है। इस हस्तक्षेप के कारण चेहरे की रक्त वाहिकाएं कमजोर हो जाती हैं। यदि किसी को पहले से त्वचा संबंधी समस्याएं जैसे, मुंहासे, सोरायसिस या एक्जिमा आदि हैं तो ऐसे में तनाव हालात को और भी खराब कर सकता है।
    Image courtesy: © Getty Images

    तनाव
  • 3

    क्रोध

    क्रोध भी आपकी त्वचा के लिए हानिकारक होता है। यह आपके चेहरे की मांसपेशियों को प्रभावित करता है और त्वचा की चिकित्सा प्रणाली को धीमा कर देता है। क्रोध त्वचा पर काले धब्बे पैदा करता है और इसके कारण रिंकल्स भी पड़ने लगते हैं।
    Image courtesy: © Getty Images

    क्रोध
  • 4

    शर्मिंदगी

    शर्मिंदगी मुंहासे की समस्या को बढ़ाने वाली भावना है। इससे हमारी त्वचा की कोशिकाओं के जैविक संरचना का कमजोर होता है और एंजाइम उत्पादन दर बदली है। कई शोधों में पाया गया कि शर्मिंदगी की भावना रहने पर त्वचा पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।
    Image courtesy: © Getty Images

    शर्मिंदगी
  • 5

    अवसाद

    जब हम उदास होते हैं, तो ऐसे में लगातार नाक-भौं चढ़ाने की प्रवृत्ति होती है। लगातार नाक-भौं चढ़ाने की प्रवृत्ति से रिंकल्स की समस्या होती है। लंबे समय तक अवसाद का त्वचा पर और भी अधिक गंभीर और प्रतिकूल असर पड़ता है।
    Image courtesy: © Getty Images

    अवसाद
  • 6

    बालों पर दुष्प्रभाव

    बालों पर भी स्‍ट्रेस का बुरा असर हो सकता है। अगर आपके बाल असमय ग्रे या फिर झड़ना शुरु हो गए हैं, तो संभवतः इसके पीछे तनाव भी एक कारण हो सकता है। असमय गंजापन भी टेंशन के कारण होने वाली एक समस्या है।
    Image courtesy: © Getty Images

    बालों पर दुष्प्रभाव
  • 7

    अंडर आई बैग

    अंडर आई बैग मतलब कि आंखों के नीचे की त्वचा में सूजन होने की समस्या न सिर्फ लुक्स खराब करते हैं बल्कि आंखों के लिए नुकसान दायक ही होते हैं। तनाव और अवसाद इसके कारण होते हैं। इनकी वजह से आपकी आखें थकी और तनाव से भरी रहती हैं।   Image courtesy: © Getty Images

     अंडर आई बैग
  • 8

    कैसे करें बचाव

    मानसिक समसयाओं से त्वचा को होने वाले नुकसान को दूर करने के लिए बुब्लगम फुलाएं, खुले वातावरण में निकलें, मुसकुराहट को मेकअप बनाएं, संगीत सुनें, योग करें, एक्सरसाइज करें या फिर ब्रीदिंग एक्सरसाइज करें। ये चीजों आपको तनाव से तो दूर रखेंगी ही साथ ही आपकी त्वचा को भी खूबसूरत बनाने में मदद करेंगी।
    Image courtesy: © Getty Images

     कैसे करें बचाव
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर