हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

हर समय सेक्स के बारे में सोचना ठीक नहीं जानें कैसे बचें इससे

By:Pradeep Saxena, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Apr 01, 2014
हर समय सेक्स के बारे में सोचना किसी बीमारी से कम नहीं है। अपनी इस आदत पर लगाम लगाने के लिए कुछ खास उपायों को अपनाएं।
  • 1

    सेक्स के बारे में सोचना

    एक स्तर तक सेक्स के बारे में सोचना प्राकृतिक है। हम सब सेक्सुअल हार्मोन है जो जीन्स द्वारा संचालित होते हैं। लेकिन हर समय सेक्स के बारे में सोचना सामान्य नहीं है। यह लक्षण दिखाते हैं कि आप सेक्स के आदी हैं जो आगे चलकर आपके लिए घातक हो सकता है। आइए जानें हर समय सेक्स के बारे में सोचने के लिए खुद को कैसे रोक सकते हैं।

    सेक्स के बारे में सोचना
  • 2

    रचनात्मक बनें

    अपनी सेक्स ड्राइव को रचनात्मक कामों में लगाएं। जितना समय आप सेक्स के बारे में सोचते हैं वो समय अपनी पसंदीदा रचनात्मक कामों को दें जैसे लिखना, पैंटिग करना, म्यूजिक आदि। जब आप अपने आप को अन्य कामों में व्यस्त रखेंगे तो आपका दीमाग सेक्स की ओर नहीं जाएगा।

    रचनात्मक बनें
  • 3

    पार्टनर से बाते करें

    अगर आपके दिमागा में हमेशा सेक्स की बातें आती हैं तो जरूरी है इस बारे में अपने पार्टनर से बात करें। ऐसे में वो आपकी इस समस्या को समझेगा और इसका निवारण करने की कोशिश करेगा। अगर आप उनसे इस बात को छिपाएंगे तो यह आपके रिश्ते और आपके लिए खतरनाक हो सकता है।

    पार्टनर से बाते करें
  • 4

    इंटरनेट से दूर रहें

    अकेले में इंटरनेट का इस्तेमाल करना बंद कर दें। इंटरनेट पर मौजूद पोर्न फिल्म और फोटो आपको सेक्स के बारे में सोचने पर मजबूर कर देती हैं। ऐसे में आपको इंटरनेट से दूरी बना कर रहनी चाहिए। अगर बिना इंटरनेट के आपका काम नहीं चल रहा है तो उस पर कोई भी गलत सामग्री खोलने से खुद को रोकें।

    इंटरनेट से दूर रहें
  • 5

    डॉक्टर के पास जाएं

    जिन लोगों को लगता है कि वे हमेशा सेक्स से जुड़ी बातें ही सोचते हैं तो, उन्हें फौरन साइकॉलजिस्ट या साइकायट्रिस्ट के पास जाना चाहिए। साइकॉलजिस्ट काउंसिलिंग और बिहेवियर मॉडिफिकेशन के आधार पर उसका इसालज करते हैं और मरीज के विचारों में परिवर्तन लाने की कोशिश करते हैं।

    डॉक्टर के पास जाएं
  • 6

    परिवार के साथ समय बिताएं

    इस तरह की समस्या होने पर आपको अपना ज्यादा से ज्यादा समय परिवार को देना चाहिए। बच्चों के साथ खेलना चाहिए और उनसे घिरे रहना चाहिए। एकेले बैठने से आपके दिमाग में वही सारी बातें आ सकती हैं तो अच्छा होगा कि खुद दोस्तों और परिवार से घिरा रखें।

    परिवार के साथ समय बिताएं
  • 7

    धर्म-अध्यात्म

    धार्मिक अनुष्ठानों में मन लगाएं और उनसे जुड़ना चाहिए। सामाजिक गतिविधियों में हिस्सा लें यानी पास-पड़ोस के लोगों से सुख-दुख में शामिल हों। इसके अलावा अपने कमरे में धार्मिक पुस्तकें रखें, कैसेट सुनें, कैलेंडर रखें।

    धर्म-अध्यात्म
  • 8

    योगाभ्यास करें

    सेक्स की सोच को कम करने के लिए कामजयी मुद्रा का इस्तेमाल किया जा सकता है। तर्जनी के अग्रभाग (टिप) से अंगूठे के नाखून को दबाकर रखें। बाकी अंगुलियों सामने की ओर फैली रहेंगी, लेकिन उनमें तनाव नहीं होना चाहिए। कभी-कभी बाकी अंगुलियां आगे की ओर झुक जाएं तो कोई बात नहीं। चलते-फिरते, बैठते-उठते इस मुद्रा को किया जा सकता है। मु्द्रा का अभ्यास करते वक्त मन में सकारात्मक विचार लाने चाहिए, ग्लानि का भाव नहीं होना चाहिए।

    योगाभ्यास करें
  • 9

    स्वप्रबोधन चिकित्सा पद्धति

    इस विधि को नियमित रूप से करने पर सेक्स के खयाल पर काबू पाने में मदद मिलती है। इससे मन को काबू करने की शक्ति बढ़ती है। इसके करने के लिए जमीन पर आसन बिछाकर लेट जाएं या आरामदायक स्थिति में बैठ जाएं। आंखों को बंदकर दोनों हाथों को ज्ञान मुद्रा की स्थिति में रखें। कुछ मिनट तक धीरे-धीरे गहरी, लंबी सांस लें और धीरे-धीरे छोड़ें। सांस को रोकें नहीं। इसके बाद इसी स्थिति में 'ओम' जाप करते हुए सांस लें और भंवरे की तरह गुंजन करते हुए धीरे-धीरे नासिका से सांस छोड़ें। इस क्रिया को लगभग 10 बार करें।

    स्वप्रबोधन चिकित्सा पद्धति
  • 10

    सेक्स से जुड़ी बातें करने से बचें

    अगर आपके दोस्त सेक्स से जुड़े जोक्स या उससे जुड़ी बातों पर बहस करते हैं तो ऐसी बातों में हिस्सा लेने से बचें। क्योंकि जब आप एकेले होते हैं आपके दिमाग में यह सारी बातें जरूर आती हैं और उन्हें अपनी असल जिंदगी में करने की कोशिश करते हैं।

    सेक्स से जुड़ी बातें करने से बचें
  • 11

    खुद से वादा करें

    अपने आप से वादा करें कि आप सेक्स से जुड़ी बातें नहीं सोचेंगे और खुद को हर रोज की गतिविधि में  व्यस्त रखेगें। अगर आपको लगता है कि आप खुद से किए गए इस वादे को भूल सकते हैं तो इसे याद करने के लिए अपने हाथों में छोटी सी ज्वैलरी पहन लें जिससे देखकर आपको अपना वादा याद रहेगा।

    खुद से वादा करें
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर