हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

पुराने से पुराने स्ट्रेच मार्क्स को भी दूर करते हैं ये 4 सस्ते उपाय

By:Rashmi Upadhyay, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Apr 16, 2018
गर्भधारण के दौरान वजन बढ़ने से त्वचा में आने वाले खिंचाव से स्ट्रेच मार्क्स होते हैं, लेकिन डिलीवरी के बाद भी ये स्ट्रेच मार्क्स रह जाते हैं। अगर आप भी पोस्‍ट प्रेग्नेंसी स्‍ट्रेच मार्क्‍स से परेशान हैं तो यहां दिये उपाय आपके लिए मददगार हो सकते हैं।
  • 1

    पोस्‍ट प्रेग्नेंसी स्‍ट्रेच मार्क्स

    किसी भी महिला के लिए गर्भावस्‍था एक खास लम्‍हा होता है और गर्भावस्‍था का हर कदम बहुत खास होता है। लेकिन कहते है ना कि कुछ पाने के लिए कुछ खोना भी पड़ता हैं। गर्भावस्था के समय पेट पर पड़ने वाले स्ट्रेच मार्क्स ऐसा ही कुछ है। हालांकि यह गर्भाशय में बच्चे के बढ़ने के कारण होते हैं, यानी गर्भधारण के दौरान वजन बढ़ने से त्वचा में आने वाले खिंचाव से स्ट्रेच मार्क्स होते हैं, लेकिन डिलीवरी के बाद भी ये स्ट्रेच मार्क्स रह जाते हैं। यूं तो पोस्‍ट प्रेग्नेंसी स्‍ट्रेच मार्क्‍स को दूर करने के लिए बाजार में कई तरह की रिमूवर क्रीम और लोशन उपलब्‍ध हैं लेकिन सभी असरदार हो यह जरूरी नहीं हैं। इनके कारण आपके शरीर पर साइड इफेक्‍ट भी हो जाते हैं। अच्‍छा होगा कि आप प्राकृतिक चीजों का इस्‍तेमाल करें। अगर आप भी पोस्‍ट प्रेग्नेंसी स्‍ट्रेच मार्क्‍स से परेशान हैं तो यहां दिये उपाय आपके लिए मददगार हो सकते हैं।

    पोस्‍ट प्रेग्नेंसी स्‍ट्रेच मार्क्स
    Loading...
  • 2

    जिलेटिन का उपयोग

    जिलेटिन स्‍ट्रेच मार्क्‍स को रोकने का एक शानदार तरीका है। त्‍वचा की फ्लैक्सिबिलिटी में सुधार लाने के लिए कोलेजन का गठन आवश्यक होता है। इसलिए त्‍वचा के कोलेजन के गठन को बढ़ाने के लिए आपको अपने आहार में जिलेटिन वाले आहार को शामिल करना चाहिए। इसके लिए आप अपने सूप, सॉस आदि में जिलेटिन पाउडर का उपयोग कर सकते हैं। जिलेटिन न केवल आपकी त्‍वचा की फ्लैक्सिबिलिटी में मददगार होता है बल्कि चिकित्‍सा, जोड़ों के दर्द, पाचन को दुरुस्‍त, बेहतर नींद और घाव को भरने में भी मदद करता है।

    जिलेटिन का उपयोग
  • 3

    शरीर को हाइड्रेटेड रखें

    स्‍ट्रेच मार्क्‍स से बचने के लिए आपको अपने शरीर को अच्‍छी तरह से हाइड्रेटेड रखना चाहिए। गर्भावस्‍था के दौरान ब्‍लड की मात्रा बढ़ती है, और आपके बच्‍चे को रहने के लिए बहुत ज्‍यादा पानी की जरूरत होती है। इसलिए आपके शरीर की हाइड्रेशन की मात्रा बढ़ जाती है और आपकी त्‍वचा को भी हाइड्रेशन की जरूरत होती है। रोजाना 8 से 10 गिलास पीना चाहिए क्‍योंकि पानी में त्वचा को नमी और त्वचा के रोमछिद्रों को पोषण देने के कुदरती गुण होते हैं जिससे कि चेहरे की लचक बनी रहती है और स्ट्रेच मार्क्स नहीं होते।

    शरीर को हाइड्रेटेड रखें
  • 4

    विटामिन 'सी' और विटामिन 'के'

    शरीर कोलेजन और कार्टिलेज को बनाने के लिए विटामिन का उपयोग करता है। इसके अलावा विटामिन सी मुक्‍त कणों के नुकसान को कम करने में भी बहुत प्रभावी होता है। इसलिए अपने आहार में विटामिन सी को शामिल करें। विटामिन सी आपको संतरे के अलावा लाल और हरी शिमला मिर्च, अमरूद, केल, अजमोद, शलजम और ब्रोकली से भरपूर मात्रा में मिल सकता है। इसके अलावा विटामिन के आपके शरीर से दाग धब्बे हटाने का सबसे अच्छा पोषक तत्व है। हरी सब्जियों जैसे खीरे, बंदगोभी, पालक और प्याज में काफी मात्रा में विटामिन 'के' होता है। हरी सलाद का सेवन रोजाना करने से मार्क्स से छुटकारा प्राप्त होता है।

    विटामिन 'सी' और विटामिन 'के'
  • 5

    कोकोआ बटर और कॉफी

    शरीर के स्ट्रेच मार्क्स पर कोकोआ बटर लगाने से दाग कम होते हैं। कोकोआ बटर त्वचा को नमी देकर लचीला बनाता है जिससे स्ट्रेच मार्क्स होने की संभावना कम हो जाती है। स्ट्रेच मार्क्स वाले भागों पर दिन में दो बार कोकोआ बटर से मसाज करें और एक महीने में ही आप फर्क देखें। इसके अलावा कॉफी भी स्‍ट्रेच मार्क्‍स को दूर करने में मदद करती है। कॉफी में ऐसे गुण पाये जाते हैं जो दाग धब्बों को दूर करते हैं, और त्वचा की रंगत में निखार लाते हैं। कॉफी के कुछ दानों को लें और इन्हें पर्याप्त मात्रा में गर्म पानी के साथ पीसकर एक गाढ़ा और महीन पेस्ट तैयार करें। आप पानी बिना मिलाए भी कॉफी को पीस सकते हैं। इसमें एलोवेरा जेल को मिक्‍स करें और 3 से 5 मिनट तक इस मिश्रण से स्ट्रेच मार्क्स पर लगाकर अच्छे से मालिश करें। इसे कम से कम 15 से 20 मिनट तक रखकर एक गर्म कपड़े या तौलिये से पोंछ लें। इसके बाद इसे पानी से धो लें। इस पर मॉइस्चराइजर के रूप में जैतून के तेल का प्रयोग करें। एक महीने तक रोजाना इस उपाय को अपनाएं।

    कोकोआ बटर और कॉफी
  • 6

    ऑयल मसाज

    सदियों से लोग स्‍ट्रेच मार्क्‍स और मृत कोशिकाओं को दूर करने के लिए ऑयल मसाज करते आ रहे हैं। यह रक्त के संचार में भी वृद्धि करता है तथा त्वचा के स्वरूप को नर्म और स्वस्थ बनाता है। तेल के उपचार से स्ट्रेच मार्क्स दूर होते हैं। इसके मुख्य कारण तेल में मौजूद प्रभावी तत्व हैं जो गर्भावस्था के पश्चात स्ट्रेच मार्क्स से आपको छुटकारा दिलाते हैं। इसके लिए बादाम के तेल, विटामिन ई का तेल, तिल का तेल, जैतून का तेल, नारियल का तेल, कैस्टर ऑयल आदि को लेकर अपने शरीर के प्रभावित हिस्‍से पर मालिश करें और इसे नहाने से पहले एक घंटे के लिए छोड़ दें। इन तेलों में कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट और पोषक तत्व पाये जाते हैं, जो त्वचा की कई समस्याओं से आपको निजात दिलाते हैं।

    ऑयल मसाज
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर