हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

सेहतमंद रहना चाहते हैं, तो इन सात चीजों से करें तौबा

By:Bharat Malhotra, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Aug 30, 2014
सेहतमंद रहना हमारे अपने हाथ में है। इसके लिए क्‍या करना है ज्‍यादा जरूरी यह जानना है कि आखिर आपको क्‍या नहीं करना है। यही सेहतमंद रहने का असली नुस्‍खा है।
  • 1

    आपके हाथ में है सेहतमंद रहना

    सेहतमंद रहने के लिए क्‍या करना है ज्‍यादा जरूरी यह जानना है कि आपको क्‍या नहीं करना है। सेहतमंद जीवन के लिए आपको अपने जीवन में कुछ सुधार करने की जरूरत होती है। और अपने फिटनेस प्रोग्राम में कुछ सुधार करने चाहिये।

    आपके हाथ में है सेहतमंद रहना
  • 2

    बहाने बनाना बंद करें

    सबके पास बराबर समय होता है। और कैसे आप वक्‍त की कमी का बहाना बनाकर वर्कआउट से दूर भागते हैं और कैसे आपसे ज्‍यादा व्‍यस्‍त लोग व्‍यायाम कर लेते हैं। अपनी ऊर्जा को खत्‍म करने वाले बहानों से दूर रहें। और अपनी दिनचर्या का प्रबंधन इस प्रकार करें कि आपको व्‍यायाम का समय मिल सके। यकीन जानिये व्‍यायाम करके बेशक आप बेहतर महसूस करेंगे।

    बहाने बनाना बंद करें
  • 3

    वर्कआउट न छोड़ें

    सप्‍ताह में एक दो वर्कआउट करने से आप स्‍वस्‍थ नहीं रहेंगे। अपने लिए एक एक्‍सरसाइज प्‍लान बनायें और फिर उस पर टिके रहें। आप सप्‍ताह में तीन बार कार्डियो करें और दो बार वेट ट्रेनिंग। या फिर सप्‍ताह में दो तीन दिन पावर वॉक करें और वीकएंड पर तैराकी का सहारा लें। सप्‍ताह के अधिकतर दिन व्‍यायाम करें। और सप्‍ताह में एक दिन ही आराम करें। लेकिन सप्‍ताह में सिर्फ एक दिन का व्‍यायाम करने से आपको फायदा नहीं होगा।

    वर्कआउट न छोड़ें
  • 4

    निराशा से दूर रहें

    नकारात्‍मक विचारों से दूर रहें। अगर आप खुद से यह कहेंगे कि आपको व्‍यायाम पसंद नहीं है, तो वाकई आपको व्‍यायाम पसंद नहीं होगा। अपना नजरिया बदलने का प्रयास करें। खुद से पूछें कि आपको कौन सा व्‍यायाम पसंद है। किस प्रकार का वर्कआउट आप रोज कर सकते हैं। किस व्‍यायाम को रोज करके आपको ज्‍यादा खुशी मिलती है। इसमें बच्‍चों के साथ फुटबॉल खेलना या फिर पड़ोस के बाजार तक पैदल जाना शामिल हो सकता है। आपके पास कई खेल हैं, जिनका लाभ आप उठा सकते हैं। आप एक जिम का हिस्‍सा बन सकते हैं, बॉलरूम डांस क्‍लास का हिस्‍सा बन सकते हैं। और स्विमिंग जैसी गति‍विधियों के जरिये भी फिट रह सकते हैं। भले ही आपकी उम्र कुछ भी हो, लेकिन आपके लिए कुछ न कुछ जरूर होगा।

    निराशा से दूर रहें
  • 5

    स्‍ट्रेंथ ट्रेनिंग जरूर करें

    मांसपेशी निर्माण के लिए आपके घर पर ही जिम होना जरूरी नहीं है। कई ऐसी ट्रेनिंग एक्‍सरसाइज मौजूद हैं, जो आप अपने शरीर के वजन को इस्‍तेमाल कर कर सकते हैं। और इसके साथ ही पुराने, लेकिन सदाबहार पुश-अप्‍स तो किये ही जा सकते हैं। इसके साथ ही आप स्‍कावट्स और लंजेस भी कर सकते है। इसके अलावा प्‍लैंक को भी ध्‍यान में जरूर रखें। यह आपके पूरे शरीर में स्‍ट्रेंथ का निर्माण करने में मदद करता है।

    स्‍ट्रेंथ ट्रेनिंग जरूर करें
  • 6

    आहार का रखें ध्‍यान

    अपने आहार का ध्‍यान रखें। देखें कि आप क्‍या और क्‍यों खा रहे हैं। अपने तनाव और चिंता को दूर करने के लिए भोजन का सहारा लेने से अच्‍छा है कि आप चिंता के मूल कारण को समझने का प्रयास करें। थोड़ा विचार करें। सबसे पहले सेहतमंद भोजन करें। इससे आपका पेट लंबे समय तक भरा रहेगा। एक बार जब आपकी भूख शांत हो जाएगी, तो फिर अधिक खाने से बचेंगे।

    आहार का रखें ध्‍यान
  • 7

    वजन पर रखें नजर

    अपना वजन तौलते रहें। इससे आपको परिस्थिति पर सही नजर रखने में मदद मिलेगी। कुछ जानकार मानते हैं कि रोजाना अपना वजन करना अच्‍छी आदत नहीं है। इससे आपको कई बार बिना मतलब की चिंता हो जाती है। कई बार पानी पीने से ही वजन बढ़ जाता है। और यह जरा सी बात भी आपको परेशान कर सकती है। लेकिन, दूसरी ओर ऐसे भी लोग हैं, जिनका मानना है कि रोजाना वजन मापने से आपको इस बात का अंदाजा रहता है कि फिटनेस के रास्‍ते पर आपकी प्र‍गति कैसी है। इससे आपको वास्‍तविकता के करीब रहने का मौका मिलेगा। अगर किसी दिन आपका वजन आधा एक किलो ज्‍यादा भी हो जाए, तो चिंता न करें। बस अपने दिन भर की योजना में जरा सा बदलाव कर उस बढ़े वजन को काबू करने का प्रयास करें।

    वजन पर रखें नजर
  • 8

    नींद में कंजूसी अच्‍छी नहीं

    अच्‍छी सेहत के लिए रात को आठ घंटे की पूरी नींद लेना जरूरी है। इसके साथ ही अच्‍छी नींद मोटापे को भी कम करने में मदद करती है। जब आप पूरी नींद नहीं लेते, तो इससे लेप्‍ट‍िन का स्‍तर बढ़ जाता है। इससे भोजन के बाद भी आपकी भूख शांत नहीं होती। इसके अलावा ही नींद पूरी न होने से आपकी भूख भी बढ़ जाती है। आठ घंटे की नींद के बाद आपको पूरा आराम मिलेगा और साथ ही आपको फैसला लेने में भी आसानी होगी।

    नींद में कंजूसी अच्‍छी नहीं
    Tags:
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर