हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

वर्कआउट के बाद मांसपेशियों के दर्द से छुटकारा पाने के 5 तरीके

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Mar 21, 2015
यदि आप अपनी क्षमता से ज्यादा वेट लिफ्टिंग या वर्कआउट करेंगे तो मसल्स को नुकसान पहुंचेगा और वो दर्द करने लगेंगी। ध्यान रखें, आपको वर्कआउट करना है, लेकिन खुद को तकलीफ पहुंचाए बिना।
  • 1

    वर्कआउट के बाद मांसपेशियों का दर्द

    कुछ लोगों कोलगता है कि वर्कआउट करते या बाद में समय जब तक शरीर में दर्द न हो, तब तक रिजल्ट बेहतर नहीं मिलते हैं। लेकिन यह सोच गलत है। यदि आप अपनी क्षमता से ज्यादा वेट लिफ्टिंग या वर्कआउट करेंगे तो मसल्स को नुकसान पहुंचेगा और वो दर्द करने लगेंगी। ध्यान रखें, आपको वर्कआउट करना है, लेकिन खुद को तकलीफ पहुंचाए बिना। तो चलिये जानते हैं वर्कआउट के बाद मांसपेशियों के दर्द से छुटकारा पाने के कुछ तरीके।  
    Images courtesy: © Getty Images

    वर्कआउट के बाद मांसपेशियों का दर्द
  • 2

    स्ट्रेचिंग

    मांसपेंशियों में तनाव व वर्कआउट के बाद इनमें दर्ध संबंधी समस्याओं के उपचार का सबसे असरदार तरीका है स्ट्रेचिंग। वे मांसपेशियां जो ज्यादा मजबूत  और लचीली होती हैं, उनमें चोट लगने की संभावना कम होती है। इसलिये एक्सरसाइज के पहले व बाद में स्ट्रेचिंग करें। और एक्सरसाइज के पहले वार्मअप जरूर करें।  
    Images courtesy: © Getty Images

    स्ट्रेचिंग
  • 3

    हीट थेरेपी

    गर्म तापमान के दर्द वाली मांसपेशियों के लिए रक्त के प्रवाह में वृद्धि करती है। तो यदि एक्सरसाइज के बाद यदि मांसपेशियों में दर्द हो तो हल्के गुनगुने पानी से एक आरामदायक हॉट बाथ लें। इससे मांसपेशियां शांत होंगी और उनमें दर्द भी नहीं होगा। दर्द वाली मांसपेशियों पर हीटिंग पैड का प्रयोग करने से भी आराम मिलता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    हीट थेरेपी
  • 4

    ओमेगा 3 एस

    क्लीनिकल जर्नल ऑफ़ स्पोर्ट्स मेडिसिन में छपे एक शोध के अनुसार दिन में मछली के तेल की एक गोली स्ट्रेंथ ट्रेनिंग के बाद सूजी और दर्द भरी मांसपेशियों के दर्द से राहत दिला सकती है। सामन, पालक, और नट्स आदि में भी ओमेगा 3-एस प्राकृतिक रूप से पाया जाता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    ओमेगा 3 एस
  • 5

    मांसपेशियों को ज्यादा थकान से बचाएं

    मांसपेशियां ऊर्जा के अवशोषण में मदद करती हैं और मांसपेशियों के दोबारा मजबूत होने से उनमें चोट लगने से बचाव होता है। वहीं यदि मांसेपेशियों के थके होने पर उनमें चोट लगने की संभावना अधिक होती है। खासतौर पर खिलाड़ियों को तो इस बात का ख्याल जरूर रखना चाहिए।
    Images courtesy: © Getty Images

    मांसपेशियों को ज्यादा थकान से बचाएं
  • 6

    बर्फ

    दर्द वाले स्थान पर बर्फ से सिकाई करने से सूजन और दर्द में आराम मिलता है। मांसपेशियों में खिंचाव आने के बाद जितनी जल्दी आप उन पर बर्फ  लगा सकते हैं, लगाएं। आप जितनी बार चाहें थोड़ी-थोड़ी देर के लिये बार बर्फ लगा सकते हैं। बस ये ध्यान रखें कि जब भी बर्फ लगाएं, 15 मिनट से ज्यादा न लगाएं।    
    Images courtesy: © Getty Images

    बर्फ
  • 7

    मसाज थेरेपी

    वैसे तो मसाज थेरेपी हर तरह मांसपेशियों के दर्द के लिये फायदेमंद होता, लेकिन खासतौर पर यह थेरेपी लुम्‍बर बैक पेन में बेहद लाभदायक होती है। कुछ  अध्‍ययन से भी ये बात साफ हो चुकी है कि मसाज मांसपेशियों के दर्द के उपचार में कारगर होती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    मसाज थेरेपी
  • 8

    एक्‍यूपंचर थेरेपी

    एक्‍यूपंचर से मसल्स पेन में आराम मिल सकता है। हालांकि इस पर अभी एक राय नहीं है। एक्‍यूपंचर थेरेपी से लो मसल्स पेन का उपचार करने पर लोगों की कई अलग-अलग राय हैं। कुछ लोगों का मत है कि इससे उन्‍हें आराम मिला है जबकि कुछ का कहना है कि यह पेन के इलाज में कारगर नहीं है।
    Images courtesy: © Getty Images

    एक्‍यूपंचर थेरेपी
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर