हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

नकारात्‍मक भावनाओं से शरीर को क्‍या होता है नुकसान

By:Aditi Singh , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Sep 14, 2015
हमारी भावनाओं का शरीर पर बहुत असर पड़ता है, नकारात्‍मक भावनाओं के कारण शरीर को कई तरह के नुकसान उठाने पड़ते हैं, अधिक जानने के लिए ये स्‍लाइडशो पढ़ें।
  • 1

    भावनायें और शरीर पर इनका असर

    हमारी फीलिंग्‍स यानी भावनाएं आपके शरीर को नुकसान कैसे पहुंचाती हैं? इस बात से शायद ही कोई इत्‍तेफाक रखता हो, लेकिन यह सच है। सकारात्मक भावनाएं खुशनुमा रसायन और नकारात्मक भावनाएं स्ट्रेस हार्मोन और एड्रेनालाईन का स्राव करती हैं। हालांकि, वे पूरी तरह से नकारात्मक नहीं होते लेकिन, इनके रिलीज़ होने पर शरीर तनाव में आ जाता है। इसलिए, यह एक वैज्ञानिक तथ्य है कि नकारात्मक भावनाएं शरीर को प्रभावित करती हैं। इसके बारे में यहां विस्‍तार से चर्चा करते हैं।
    Image Source-Getty

    भावनायें और शरीर पर इनका असर
  • 2

    क्रोध जिगर को कमज़ोर करता है

    विषेशज्ञों की मानें तो गुस्‍सा दिल के लिए ठीक नहीं है। क्रोध के कारण अपच, दस्त और यहां तक कि महिलाओं में मासिक धर्म के मामलों में गड़बड़ हो सकती है। जब आप क्रोध को दबाते हैं तो, यह आपके जिगर को सीधे तौर पर प्रभावित करता है। चिंता आपकी तिल्ली को नुकसान पहुचाती है। इसके कारण  थकान और अपच हो सकती है। ऐसी भावना से आपके पेट के पास स्थित तिल्ली भी प्रभावित होती है।
    Image Source-Getty

    क्रोध जिगर को कमज़ोर करता है
  • 3

    खुशी हृदय को प्रभावित करती है

    उत्तेजना के चरम स्तर से कभी-कभी आपके दिल को झटका लग सकता है। तनाव का मूल कारण सकारात्मक हो अथवा नकारात्मक; चिंता, अनिद्रा और हृदय रोग जैसे साइड इफेक्ट हो सकते है।किसी मामले के कारण यदि आपकी नींद कम हो रही है तो आपकी तिल्ली भी प्रभावित हो सकती है। आपको भूख संबंधी परेशानी हो सकती है और आपकी त्वचा पीली हो सकती है।
    Image Source-Getty

    खुशी हृदय को प्रभावित करती है
  • 4

    भय से आपके गुर्दे को खतरा हो सकता है

    जब आप डर जाते हैं, तो आपका पेशाब निकल सकता है, सही? चिंता और डर के चरम स्तर सीधे आपके गुर्दों पर तनाव डालते हैं क्या आप यह जानते हैं कि भविष्य को लेकर आपकी चिंता आपके गुर्दों को नुकसान पहुचा सकती है। आपकी उदासी भी आपके फेफड़ों को प्रभावित कर सकती है। आप उदास, थकान या सांस लेने में कठिनाई महसूस कर सकते हैं, आपका रोने का मन हो सकता है।
    Image Source-Getty

    भय से आपके गुर्दे को खतरा हो सकता है
  • 5

    हंसी तनाव कम करती है

    हंसने से आपका तनाव कम हो जाता है, प्यार से डर दूर हो जाता है और खुश होने पर आपका डिप्रेशन कम हो जाता है। तो, आपने जाना कि किस प्रकार सकारात्मक भावनाएं आपका जीवन बचा सकती हैं और आपकी जिंदगी में साल जोड़कर उसे बढ़ा सकती है।
    Image Source-Getty

    हंसी तनाव कम करती है
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर