हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

सेक्स समस्यायें पुरुषों को कैसे करती है प्रभावित

By: ओन्लीमाईहैल्थ लेखक, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jan 08, 2014
पुरूषों में तनाव के कारण यौन समस्याएं होती है, विटामिन बी के सेवन से सेक्स संबंधी कई समस्याओं से बचाव किया जा सकता है।
  • 1

    पुरुषों की सेक्‍स समस्‍यायें

    पुरुषों में भी सेक्‍स समस्‍यायें होती हैं, लेकिन महिलाओं की तुलना में पुरुषों को यौन समस्‍यायें कम होती हैं। पुरूषों में अकसर तनाव संबंधी समस्याओं के कारण यौन समस्याएं होती है। विटामिन बी के सेवन से पुरूष सेक्स संबंधी कई समस्याओं से अपना बचाव कर सकते हैं। आगे के स्‍लाइडशो में जानिए ये सेक्‍स समस्‍यायें कैसे करती हैं पुरुषों को प्रभावित।

    पुरुषों की सेक्‍स समस्‍यायें
  • 2

    टेस्टोस्टेरॉन की कमी

    सेक्स क्षमता में कमी पुरुषों में आम समस्या बन चुकी है। इसके वास्तविक कारण होते हैं सेक्स हॉर्मोन टेस्टोस्टेरॉन की कमी। पुरुषों में 40 की उम्र के पार होने पर रक्त में टेस्टोस्टेरॉन की मात्रा में कमी आना एक आम बात है। हार्मोन में कमी उम्र के साथ जुड़ी समस्या है लेकिन कुछ लोग अपनी उम्र की शुरुआत में ही इससे पीड़ित हो जाते हैं। ये डाइबिटीज या अन्य तनाव संबंधी कारणों से भी पनप सकता है। रक्त में टेस्टोस्टेरॉन की कमी से शरीर में थकान, दिमागी परिवर्तन, अनिद्रा के साथ ही सेक्स की चाहत में कमी हो जाती है।

    टेस्टोस्टेरॉन की कमी
  • 3

    शीघ्रपतन होना

    यौन समस्याओं में सबसे आम समस्या है पुरुषों में शीघ्रपतन यानी प्रीमेच्‍यौर इजैकुलेशन। पुरूषों का स्त्री के सामने आते ही घबरा जाना, वीर्य निकल जाना इत्यादि भी सेक्स समस्याओं के अंतर्गत ही आता है। जिससे पुरूष स्त्री से दूर-दूर भागने लगते हैं और अपनी बीमारी को छिपाने की कोशिश करते हैं। या फिर सेक्स क्रिया के दौरान पुरुष स्खलन होने के साथ ही पुरुष की उत्तेजना शांत हो जाती है फिर चाहे उसकी महिला साथी की कामोत्तेजना शांत न भी हो।

    शीघ्रपतन होना
  • 4

    इरेक्‍टाइल डिस्‍फंक्‍शन

    ज्‍यादार पुरुषों में सेक्‍स में दिलचस्‍पी कम होती है। इसका सबसे बड़ा कारण इरेक्टाइल डिस्फंक्शन यानी लिंग की मांसपेशियां कमजोर पड़ना है। ये समस्या कई बार विटामिन बी के सेवन न करने से और कई बार बुरी आदतें व अनियमित दिनचर्या के कारण हो सकती है। कई लोगों में तनाव संबंधी समस्याओं के कारण भी ऐसा होता है।

    इरेक्‍टाइल डिस्‍फंक्‍शन
  • 5

    सेक्स शक्ति में कमी

    बहुत से लोगों को यह भम्र हो जाता है कि एक उम्र के बाद शरीर में सेक्स शक्ति में कमी आ जाती है। लेकिन ये धारणा गलत है, कई बार अस्‍वस्‍थ खानपान के कारण भी युवाओं की सेक्‍स क्षमता कम हो जाती है, और वे सेक्‍स के प्रति उदासीन हो जाते हैं। ऊर्जा में कमी के लिए धूम्रपान, शराब आदि का सेवन करना भी जिम्‍मेदार है।

    सेक्स शक्ति में कमी
  • 6

    यौन संचारित रोग

    इसे एसटीडीज भी कहते हैं। एसटीडीज़ यानी यौन सं‍चारित रोग ऐसे संक्रमण रोग हैं जो यौन संपर्क द्वारा एक व्‍यक्ति से दूसरे में फैलते हैं। भारत में यौन संचारित रोगों के मरीजों की संख्‍या बहुत अधिक है। यौन संचारित रोगों में एड्स एक गंभीर चिन्‍ता का विषय है। यौनसंचारित रोग तीन प्रकार के होते हैं - जीवाणुओं से होने वाले (बैक्टीरियल), विषाणुओं से होने वाले (वायरल) और परजीवियों से होने वाले (पैरसिटिक)। इसके कारण भी पुरुषों की सेक्‍स की इच्‍छा में कमी हो जाती है।

    यौन संचारित रोग
  • 7

    ओलिगोस्पर्मिया

    पुरुष में शुक्राणु होते हैं। ये शुक्राणु स्त्री के डिम्बाणु को निषेचित कर गर्भ धारण के लिये जिम्मेदार होते हैं। वीर्य में इन शुक्राणुओं की तादाद कम होने को शुक्राणु अल्पता की स्थिति कहा जाता है। शुक्राणु अल्पता को ओलिगोस्पर्मिया कहते हैं। यह पुरूषों में होने वाली एक गंभीर सेक्स समस्या है। इसके कारण यौन उत्‍तेजना में कमी आ सकती है, पुरुष सेक्‍स के प्रति उदासीन हो जाता है।

    ओलिगोस्पर्मिया
  • 8

    एजूस्पर्मिया

    कई पुरूषों के वीर्य में शुक्राणु ही नहीं होते, इस स्थिति को एजूस्पर्मिया कहा जाता है। इस समस्या के होने पर पुरुष संतान पैदा करने योग्य नहीं होते हैं। यह भी पुरूषों के लिए एक गंभीर सेक्स समस्या है। सेक्‍स के प्रति उदासीनता, यौन इच्‍छा में कमी इस सेक्‍स समस्‍या के बाद होती है।

    एजूस्पर्मिया
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर