हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

सेक्स के दौरान यूटीआई से कैसे बच सकते हैं

By: ओन्लीमाईहैल्थ लेखक, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jan 20, 2014
यूरीनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन यानी मूत्र मार्ग में संक्रमण महिलाओं को होने वाली बीमारी है, सेक्‍स संबंध के समय इस संक्रमण के फैलने की आशंका अधिक होती है।
  • 1

    महिलाओं में यूटीआई

    यूरीनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन यानी मूत्र मार्ग में संक्रमण महिलाओं को होने वाली बीमारी है। एक अनुमान के मुताबिक करीब 40 प्रतिशत महिलाएं जीवन में कभी न कभी यूटीआई से ग्रसित होती हैं और इनमें यह संक्रमण सेक्‍स के दौरान अधिक फैलता है। आगे के स्‍लाइडशो में जानिए सेक्‍स के दौरान यूटीआई से कैसे बचें।

    महिलाओं में यूटीआई
  • 2

    जननांगों की सफाई

    सेक्‍स के दौरान और सेक्‍स के बाद यूरीनरी ट्रेक्‍ट इंफेक्‍शन से बचने के लिए जरूरी है कि आप अपने जननांगों की नियमित रूप से सफाई करें। मलत्याग करने के बाद, जीवाणु को पिछले मार्ग से मूत्रनली में फैलने से रोकने के लिए अपने आपको आगे से पीछे की तरफ धोयें। ध्यान रहे कि बाथरूम में अगर टायलेट पेपर से गुदा द्वार को साफ करें तो एक बार में आगे से पीछे की ओर साफ करें।

    जननांगों की सफाई
  • 3

    सेक्‍स के बाद सफाई

    सेक्‍स के बाद यूरीनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन सबसे ज्‍यादा फलता है। इसलिए सेक्‍स संबंध बनाने के बाद तुरंत बाथरूम जायें, और अपने जननांगों की सफाई अच्‍छे से करें।

    सेक्‍स के बाद सफाई
  • 4

    कंडोम का प्रयोग

    यूरीनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन पुरुष मित्र से महिला को होने की संभावना कम होती है, लेकिन यह संक्रमण महिला से पुरुष को हो सकता है, इसलिए सेक्‍स के दौरान कंडोम का प्रयोग करें। कंडोम से कई यौन संबंधित बीमारियों को होने से भी बचाया जा सकता है।

    कंडोम का प्रयोग
  • 5

    सेक्‍स के बाद बाथरूम जायें

    सेक्स के बाद मूत्र त्याग करें। इससे मूत्रमार्ग साफ हो जाता है और जीवाणु अन्दर नहीं प्रवेश कर पाते हैं। पेशाब को कभी भी रोके नहीं, पेशाब आते ही शौचालय उपयोग करें। मूत्राशय में ज्यादा समय तक पेशाब रोकने से संक्रमण होने की संभावना बढ़ जाती है।

    सेक्‍स के बाद बाथरूम जायें
  • 6

    सार्वजनि‍क शौचालय से बचें

    यौन संबंध बनाने के बाद सार्वजनिक शौचालय का प्रयोग करें से बचें। ये गन्दे हो सकते हैं और उनमें कीटाणु हो सकते हैं। इसलिए वहां मूत्रनली संक्रमण होने का खतरा अधिक हो सकता है।

    सार्वजनि‍क शौचालय से बचें
  • 7

    ढीले और सूती कपड़े पहनें

    हमेशा कॉटन फैब्रिक से ही बनी अंडरवेयर पहने, जिससे त्‍वचा हमेशा सूखी बनी रहे और बैक्‍टीरियल फॉर्मेशन न हो। तंग फिटिंग कपड़े भी पहनने से बचें, पोलीस्टर-कृत्रिम कपड़े न पहने, ये नमी को रोक लेते हैं और जीवाणु के विकास को बढ़ावा देते हैं। इसलिए सेक्‍स के बाद ढीले कपड़े ही पहने।

    ढीले और सूती कपड़े पहनें
  • 8

    शॉवर में नहायें

    सेक्‍स संबंध बनाने के बाद यूरीनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन से बचने के लिए शॉवर में नहायें, शॉवर लेने से यह संक्रमण कम फैलता है। टब में नहाने की अपेक्षा शॉवर के नीचे या बाल्टी-मग से स्नान करने से बैक्टीरिया पानी के साथ तुरंत धुल जाते हैं। बाथ-टब में बैठकर नहाने से गुदा के जीवाणु मूत्रमार्ग के संपर्क में आ सकते हैं।

    शॉवर में नहायें
  • 9

    करौंदा खायें

    यूरीनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन से बचाने में करौंदा बहुत मददगार है। कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने शोध में पाया कि जो लोग करौंदे के जूस का नियमित सेवन करते हैं वे यूटीआई से बचे रहते हैं। वैज्ञानिकों का मानना है कि करौंदा मूत्र नलिका के ऊतकों को जीवाणुओं के संपर्क में आने से बचाता है।

    करौंदा खायें
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर