हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

ओवेरियन सिस्ट के लिए प्राकृतिक उपचार

By:Shabnam Khan , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Apr 14, 2015
अल्ट्रासाउंड के बढ़ते प्रचलन के कारण ओवेरियन सिस्ट का दिखायी देना भी सामान्य हो गया है, यह एक तरफ तो महिला को सचेत करता है, वहीं दूसरी ओर चिंता का कारण भी बनता है, लेकिन प्राकृतिक तरीकों से इसका उपचार किया जा सकता है।
  • 1

    ओवेरियन सिस्ट की समस्या

    हर महीने पीरियड के दौरान अंडाणु बनने और खंडित होने की प्रक्रिया में वे कभी-कभी बड़े आकार के हो जाते हैं, इसे ही सिस्ट कहते हैं। ये अपने आप दो-तीन सप्ताह में खत्म हो जाते हैं। अक्सर अंडा बनानेवाली दवाइयों के प्रयोग से भी अंडाशय में सिस्ट बन जाता है। इसके कारण पेट के निचले हिस्से में दर्द और पेशाब करने में दिक्कत जैसी समस्‍या होती है। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए कुछ प्राकृतिक उपचारों को अपनाया जा सकता है।
    Image Source - Getty Images

    ओवेरियन सिस्ट की समस्या
  • 2

    कैस्टर ऑयल पैक

    ओवेरियन सिस्ट के लिए कैस्टर ऑयल पैक एक ऐसा उपचार है जो कई वर्षों से अपनाया जा रहा है। कैस्टर ऑयल शरीर से अतिरिक्त टिशू और टॉक्सिन्स को अलग कर देता है। ये लिम्पेटिक और सर्कुलेटरी सिस्टम को भी बढ़ावा देता है जिससे ओवेरियन सिस्ट की समस्या दूर होती है। इसके लिए आप एक कपड़ा लें और उसे मोड़कर तीन चार परतों का बना लें। इस कपड़े में दो चम्मच कैस्टर ऑयल डालें। इसे पेट पर रखें और उसके ऊपर हॉट वॉटर बॉटल रखकर तौलिये की मदद से पेट को कवर कर लें। 30 मिनट के लिए इसे लगाए रखें। ऐसा तीन महीने तक हफ्ते में तीन बार करें।
    Image Source - Getty Images

    कैस्टर ऑयल पैक
  • 3

    एप्पल साइडर विनेगर

    पोटेशियम की कमी से होने वाले ओवेरियन सिस्ट को खत्म करने में एप्पल साइडर विनेगर काफी मददगार साबित हो सकता है। इसमें उच्च मात्रा में पोटेशियम मौजूद होता है। एक ग्लास गर्म पानी में एक चम्मच एप्पल साइडर विनेगर डालें। एक चम्मच गुड़रस मिलाएं। हर रोज एक दो ग्लास ये घोल पियें। जल्द आपकी सिस्ट की समस्या दूर हो जाएगी। इससे आपको मासिकधर्म से जुड़ी समस्याओं से भी राहत मिल सकती है।
    Image Source - Getty Images

    एप्पल साइडर विनेगर
  • 4

    चुकन्दर का प्रयोग

    चुकन्दर में बेटासाइनिन होता है जो लिवर की टॉक्सिन्स को साफ करने की क्षमता बढ़ाता है। इसके अलावा चुकन्दर से आपके शरीर में एसिडिटी की समस्या भी दूर होती है। बहुत से मामलों में ओवेरियन सिस्ट की समस्या इसी से कम हो जाती है। आधा कप ताज़े चुकन्दर के जूस में एक चम्मच एलोविरा जेल और गुड़रस मिलाएं। इसे नाश्ते से पहले दिन में एक बार कुछ दिन तक पियें।
    Image Source - Getty Images

    चुकन्दर का प्रयोग
  • 5

    अदरक का रस

    अदरक में सूजन दूर करने वाले गुण होते हैं, साथ ही इससे दर्द में भी बहुत जल्दी आराम मिलता है। अदरक शरीर में गर्माहट पैदा करता है और रूके हुए मासिकधर्म को भी शुरू कर देता है। थोड़े से अदरक, एक ग्लास एप्पल जूस और एक चौथाई अन्नानास के जूस निकाल कर साथ में मिक्सी में चला लें। सिस्ट के खत्म हो जाने तक रोज पियें। अदरक वाली चाय भी पी जा सकती है।
    Image Source - Getty Images

    अदरक का रस
  • 6

    अलसी के बीज

    अलसी के बीज से शरीर में एस्ट्रोजन का संतुलन बना रहता है। इससे सिस्ट कम होने में मदद मिलती है। अलसी के बीज में फाइबर अधिक होता है जिससे शरीर में से नुकसानदायक टॉक्सिन्स, कोलेस्ट्रॉल और अन्य लिवर को नुकसान करने वाले तत्व बाहर निकल जाते हैं। एक चम्मच असली के बीज को पीस कर एक ग्लास गर्म पानी में पिलाएं। रोज इसे खाली पेट पियें।
    Image Source - Getty Images

    अलसी के बीज
  • 7

    बादाम खायें

    बादाम में मैग्नीशियम की मात्रा अधिक होती है जिससे ओवेरियन सिस्ट के दौरान होने वाले दर्द से राहत मिलती है। इसके लिए भुने हुए बादाम खाएं। साथ ही, आप बादाम के तेल से पेट के आसपास की जगह पर मालिश भी कर सकते हैं। बादाम के तेल में जैसमीन का तेल मिला लें तो और अच्छे परिणाम सामने आएंगे।
    Image Source - Getty Images

    बादाम खायें
  • 8

    सिंकाई करें

    ओवेरियन सिस्ट की वजह से जब पेट में दर्द या क्रैंप्स होते हैं तो उन्हें कम करने के लिए गर्माहट काफी कारगर साबित होती है। अपने पेट या निचले पेल्विक स्थान पर हॉट बॉटल से सिकाई करें। ऐसा कम से कम 15 मिनट के लिए करें। इससे बहुत जल्दी राहत मिलती है।
    Image Source - Getty Images

    सिंकाई करें
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर