हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

जानें क्‍या सेक्‍स लाइफ को खराब कर देते हैं हृदय रोग

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jul 08, 2016
शोधकर्ताओं ने 50 साल या इससे बड़ी उम्र के 3,000 पुरुषों व 3700 महिलाओं, जिनमें हृदय रोग से पीड़ित 376 पुरुष और 279 महिलाएं भी शामिल थीं, के सर्वेक्षण के आंकड़ों का विश्लेषण किया और परिणाम प्राप्त किए। तो चलिए विस्तार से जानें क्या कहता है ये शोध और इसके परिणामों का विश्लेषण।
  • 1

    हृदय रोग और सेक्‍स लाइफ पर प्रभाव


    हाल ही में ब्रिटेन के अध्ययन से पता चला कि, स्वस्थ लोगों की तुलना में हृदय रोग से प्रभावित मध्यम आयु वर्ग के वयस्क यौन रूप से कम सक्रिय होते हैं। शोधकर्ताओं ने 50 साल या इससे बड़ी उम्र के 3,000 पुरुषों व 3700 महिलाओं, जिनमें हृदय रोग से पीड़ित 376 पुरुष और 279 महिलाएं भी शामिल थीं, के सर्वेक्षण के आंकड़ों का विश्लेषण किया और परिणाम प्राप्त किए। तो चलिए विस्तार से जानें क्या कहता है ये शोध और इसके परिणामों का विश्लेषण।

    हृदय रोग और सेक्‍स लाइफ पर प्रभाव
  • 2

    सर्वेक्षण के परिणाम



    सर्वेक्षण से चार साल पहले कम से निदान हुए दिल के रोगी (महिला व पुरुष दोनों) ने बीते एक साल में बिना किसी दिल की बीमारी वाले लोगों की तुलना में ना के बराबर सेक्स करने की बात स्वीकारी। शोध के मुख्य शोधकर्ता व ब्रिटिश हार्ट फाउंडेशन एंड यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन के एंड्रू स्टेप्टो के मुताबिक, हम यौन गतिविधियों में इन मतभेद का कोई निष्चित कारण नहीं बता सकते हैं। मेरा शक है कि यह रोगियों और उनके सहयोगियों की सावधानी और घबराहट के मिश्रण की वजह से होता है।

    सर्वेक्षण के परिणाम
  • 3

    कुछ साबित करने के लिये नहीं था शोध


    स्टेप्टो ने बताया कि कुल मिलाकर, अध्ययन में शामिल 79 प्रतिशत पुरुषों और 55 प्रतिशत महिलाओं ने बताया कि वे यौन रूप से सक्रिय थे। हालांकि दिल की समस्याओं से पीड़ित अधिक उम्र के महिलाओँ व पुरुषों ने सेक्स में अपनी कम रुची होने की बात कही। शोध के लेखक कहते हैं कि, अध्ययन साबित करने के लिए तैयार नहीं किया गया था कि दिल की बीमारी होना यौन स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बनता है।

     कुछ साबित करने के लिये नहीं था शोध
  • 4

    सेक्स से होता है फायदा



    अमेरिकन कार्डियोलोजी जर्नल के अनुसार जो व्यक्ति सप्ताह में दो बार सेक्स करता है उसे एक बार सेक्स करने वालों के अपेक्षा हृद्य रोग का खतरा कम होता है। इस तरह आप हृद्य संबंधी रोगों से बच सकते हैं। इसलिए लोगों को सेक्सुअल लाइफ में एक्टिव रहना चाहिए। जैविक मनोविज्ञान के शोध से पता चला है कि जो लोग बराबर संभोग (सेक्स) करते हैं। सिस्टोलिक ब्लड प्रेशर कम होता है। इससे हृद्य रोग का खतरा कम होता है। इस प्रकार सप्ताह में दो बार सेक्स करने से ना केवल आपका हृद्य स्वस्थ्य रहेगा बल्कि आपको स्वास्थ्य संबंधी कई फायदे भी होंगे।

    सेक्स से होता है फायदा
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर