हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

डायबिटीज के रोगियों में क्‍यों सामान्‍य है दिल की बीमारियां

By:Shabnam Khan , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Feb 24, 2015
जिन लोगों को डायबिटीज होती है, उन्हें दिल की बीमारी होने का खतरा दो से तीन गुना तक बढ़ जाता है। खासतौर पर डायबिटीज से ग्रस्त महिलाओं के लिए ये खतरा अधिक बढ़ता है।
  • 1

    डायबिटीज और दिल की बीमारियों में है संबंध

    डायबिटीज और दिल की बीमारी के बीच एक मजबूत संबंध है। जोसलिन डायबिटीज सेंटर ने कई साल के अध्ययन के बाद पाया कि जिन लोगों को डायबिटीज होती है, उन्हें दिल की बीमारी होने का खतरा दो से तीन गुना तक बढ़ जाता है। खासतौर पर डायबिटीज से ग्रस्त महिलाओं के लिए ये खतरा अधिक बढ़ता है। डायबिटीज से ग्रस्त महिलाओं व पुरूषों दोनों को ही हार्ट अटैक आने की संभावना बढ़ जाती है। इस तरह से डायबिटीज के मामले बढ़ने के साथ-साथ ही दिल की समस्याओं के मामले भी बढ़े हैं।

    Image Source - Getty Images

    डायबिटीज और दिल की बीमारियों में है संबंध
  • 2

    डायबिटीज के मरीजों को कोरोनरी आर्टरी रोग

    डायबिटीज से ग्रस्त लोगों के दिल के दौरे एवं हार्ट अटैक के शिकार होने की आशंका सामान्य लोगों की तुलना में दोगुनी होती है। हमारे देश में जितने डायबिटीज रोगी हैं, उनमें से एक तिहाई लोगों को एहतियात बरतने के बावजूद कोरोनरी आर्टरी रोग सीएडी हो सकते हैं और मधुमेह मरीजों में से 80 फीसदी की मौतों का कारण कोरोनरी आर्टरी रोग हो सकते हैं।

    Image Source - Getty Images

    डायबिटीज के मरीजों को कोरोनरी आर्टरी रोग
  • 3

    क्या हैं कारण

    डायबिटीज की दिक्क्त होने से मेटाबॉलिज्म के विकार होने के कारण इंसुलिन बढ़ जाता है और इंसुलिन शरीर की दूसरी दिक्कतों से जुड़ा होता, जैसे हाई कोलेस्ट्रॉल, मोटापा और हाइपरटेंशन। इन कारणों से कारण दिल की बीमारी होने का खतरा और ज़्यादा बढ़ जाता है।

    Image Source - Getty Images

    क्या हैं कारण
  • 4

    दिल की बीमारियों से कैसे बचें डायबिटीज के रोगी

    डायबिटीज के रोगियों के लिए दिल की बीमारियों से बचने का सबसे अच्छा तरीका है डायबिटीज को नियंत्रित रखें। सप्ताह में 5 दिन आधे घंटे व्यायाम करने से टाइप 2 डायबिटीज होने के 50% चांस कम हो जाते हैं। इसके अलावा जिन लोगों को डायबिटीज होता है वो अपने रक्तचाप पर भी नियमित रूप से नजर रखें। आइये जानते हैं इनके अलावा, ऐसी कौन सी बातें हैं जिनका ध्यान रखकर डायबिटीज के रोगी दिल की बीमारियों का जोखिम कम कर सकते हैं।

    Image Source - Getty Images

    दिल की बीमारियों से कैसे बचें डायबिटीज के रोगी
  • 5

    धूम्रपान छोड़ें

    निकोटिन का बुरा असर रक्त वाहिकाओं पर पड़ता है। जिन लोगों को डायबिटीज है उनपर भी इसका बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है। आप डायबिटीज की समस्या को तो समाप्त नहीं कर सकते लेकिन आप धूम्रपान की वजह से उसमें होने वाले नुकसान को कम कर सकते हैं।

    Image Source - Getty Images

    धूम्रपान छोड़ें
  • 6

    मोटे लोग वजन कम करें

    वजन अधिक होने से ब्लड ग्लूकोज, ब्लड प्रेशर और ब्लड फैट लेवल बढ़ता है। इसलिए अगर आपका वजन अधिक है तो उसे कम करें। वजन कम करने के लिए ऐसा आहार लें जिसमें फैट कम व फाइबर ज्यादा हो। साथ ही साथ, अपनी फिजिकल एक्टिविटी को भी बढ़ाएं। इससे आपका ब्लड ग्लूकोज और ब्लड फैट लेवल नियंत्रित रहेंगे।

    Image Source - Getty Images

    मोटे लोग वजन कम करें
  • 7

    ब्लड प्रैशर को नियंत्रित रखें

    हाई ब्लड प्रैशर से हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। साल में कम से कम दो बार ब्लड प्रैशर टेस्ट कराएं। अगर आपका ब्लड प्रैशर 130/80 से अधिक है तो इस पर नियंत्रण लाएं। कम नमक वाला खाना खाएं। फिजिकल एक्टिविटी बढ़ाएं। जरूरत पड़ने पर अपने डॉक्टर से सलाह लेकर इसके लिए दवा भी ले सकते हैं।

    Image Source - Getty Images

    ब्लड प्रैशर को नियंत्रित रखें
  • 8

    ब्लड फैट और कॉलेस्ट्रॉल पर नियंत्रण

    ब्लड फैट का उच्च स्तर, जिसमें कोलेस्ट्रॉल भी शामिल होता है, दिल की बीमारियों का जोखिम बढ़ाता है। क्योंकि आपको डायबिटीज है इसलिए आपका ब्लड फैट लेवल अधिक रहता होगा। इसलिए इस ओर ध्यान दें! अपने ब्लड फैट लेवल की जानकारी रखें। आपका ब्लड फैट लेवल उन लोगों से भी कम होना चाहिए जिन्हें डायबिटीज नहीं होता।

    Image Source - Getty Images

    ब्लड फैट और कॉलेस्ट्रॉल पर नियंत्रण
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर