हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

मीठा खाने की आदत है तो खायें ये 7 लो-शुगर फूड

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:May 07, 2015
ज्यादा मीठा खाने की आदत सेहत के लिये नुकसानदेह होती है। मीठा खाने की आदत को कंट्रोल करने के लिए ऐसे फूड का चुनाव कीजिए जिनमें शुगर की मात्रा कम हो, ऐसे आहार के बारे में विस्‍तार से जानिये।
  • 1

    लो-शुगर फूड

    पार्टी हो या घर पर संडे स्‍पेशल का प्‍लान, कुछ लोगों के दिल में मिठाई का ख्‍याल सबसे पहले आता है। कई बार लोग तनाव में भी मीठा खाना पसंद करते है। मीठा खाने का मन, कभी भी और कहीं भी हो सकता है। हालांकि ज्यादा मीठा खाने की आदत सेहत के लिये नुकसानदायक होती है। कई बार सोचते है कि ज्‍यादा मीठा खाना छोड़ दें लेकिन छोड़ नहीं पाते। तो आपके लिये हम कुछ लो-शुगर फूड लेकर आए हैं जो मीठा खाने की आदत को बिना बदले आपको हेल्‍दी रखेगा। तो चलिये जानें की ये लो-शुगर फूड के विकल्प क्या हैं।
    Images source : © Getty Images

    लो-शुगर फूड
  • 2

    लो जीआई फूड

    मीठा खाने की आदत को कंट्रोल करने के लिए लो-जीआई फूड को चुनें। जीआई अर्थात ग्‍लेसेमिक इंडेक्‍स वाले मीठे पदार्थों का सेवन ही करें। इससे शरीर को ऊर्जा मिलेगी और आपका हर टाइम समय खाने का मन भी पूरा हो जाएगा।
    Images source : © Getty Images

    लो जीआई फूड
  • 3

    वनिला की महक वाले उत्‍पाद


    हर समय कुछ मीठा खाने की गंदी आदत को रोक ने के लिये इस तरीके को आजमाकर देखें। आइसक्रीम, चॉकलेट या केक को वनीला फ्लेवर में ही खाएं। अपने कमरे में वनिला की खुशबु वाला एयरफ्रेशनर इस्‍तेमाल करें और वनिला एरोमा वाली कैंडल प्रयोग करें। इससे आपकी बहुत ज्यादा चीनी खाने की आदि कम होगी।
    Images source : © Getty Images

    वनिला की महक वाले उत्‍पाद
  • 4

    फाइबर युक्त आहार


    अगर आपके आहार में फाइबर की मात्रा कम हैं तो पेट में चर्बी जमने की आशंका बढ़ जाती है। इसलिए अपने आहार में घुलनशील और अघुलनशील फाइबर (soluble and insoluble fibre) को भी शुमार करें। अदाहरण के तौर पर जैसे, बंदगोभी, संतरा, ब्रोक्ली, मशरूम आदि।
    Images source : © Getty Images

    फाइबर युक्त आहार
  • 5

    गन्ने का जूस या ब्राउन राइस का शर्बत


    जो चीनी हम घर में इस्तेमाल करते हैं, वह कई रिफाइनिंग प्रोसेस से होकर गुजरती है, जिसमें उसके न्यूट्रिएंट्स, विटामिन बी, विटामिन सी, कैल्शियम, आयरन और मैगनीज आदि नष्ट हो जाते हैं। लेकिन यदि आप शुगर मिनरल्स के साथ खाना चाहते हैं, तो गन्ने का जूस पिएं। इसके अलावा आप राइस शर्बत भी ले सकते हैं, थोड़ा-थोड़ा बटर जैसे स्वाद वाले इस शरबत को आप दलिये में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
    Images source : © Getty Images

    गन्ने का जूस या ब्राउन राइस का शर्बत
  • 6

    शहद

    शहद, चीनी से भी अधिक मीठा होता है, इसलिए यह कम मात्रा में ही मिठास पैदा कर देता है। शहद में कई औषधीय गुण भी मौजूद होते हैं और यह कई रोगों में भी उपयोग किया जाता है। इसलिये चीनी की की जगह आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।  
    Images source : © Getty Images

    शहद
  • 7

    ताजे और सूखे फल


    खजूर, अंगूर, आडू और खुबानी ऐसे मीठे फल, सूखे मेवे के रूप में इस्तेमाल होते हैं, जिनमें जरूरी पौष्टिक तत्व और खनिज मौजूद होते हैं। ये प्राकृतिक स्वीटनर होते हैं। इसके अलावा मेवे जैसे अखरोट व बादाम आदि में भी ग्लाइस्मिक इंडेक्स बहुत कम होता है और ये कैलोरी, वजन और खून में शुगर के स्तर को नियंत्रण में रखने में सहाक होते हैं।
    Images source : © Getty Images

    ताजे और सूखे फल
  • 8

    पाइनएप्पल का हलवा

    पाइनएप्‍पल का हलवा खाने में बहुत ही स्‍वादिष्‍ट होता है। इसमें कोलेस्‍टॉल और फैट की मात्रा बहुत कम और विटामिन, प्रोटीन और मिनरल से भरपूर होता है। या फिर आप पनीर की खीर भी खा सकते हैं। इन्हें मीठा बनान के लिये प्रकृतिक स्वीटनर का प्रयोग करें।
    Images source : © Getty Images

    पाइनएप्पल का हलवा
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर