हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

गर्भावस्‍था में सहजन खाने के होते हैं अनेक फायदे

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Mar 09, 2016
क्‍या कभी आपको किसी ने गर्भावस्‍था में सहजन यानी ड्रमस्ट‍िक्स खाने के फायदों के बारे में बताया हैं। शायद नहीं आइए हम आपको गर्भावस्‍था में सहजन खाने के फायदों के बारे में बताते हैं।
  • 1

    गर्भावस्‍था में सहजन

    गर्भावस्‍था हर महिला के जीवन का वह समय है जब उसे अपने खानपान पर विशेष ध्‍यान देना होता है, ताकी मां और बच्‍चा दोनों स्‍वस्‍थ रहें। इस समय मां के आहार से बच्‍चे को भी पोषण मिलता है। गर्भवती को लगभग हर शख्स तरह-तरह के उपाय और पौष्ट‍िक खाने की विधि बताता है, लेकिन क्‍या कभी आपको किसी ने गर्भावस्‍था में सहजन यानी ड्रमस्ट‍िक्स खाने के गुणों के बारे में बताया हैं। शायद नहीं आइए हम आपको गर्भावस्‍था में सहजन खाने के फायदों के बारे में बताते हैं।

    गर्भावस्‍था में सहजन
  • 2

    फायदों से भरपूर सहजन

    गर्भावस्था में सहजन खाना बहुत फायदेमंद और बेहद सुरक्षित होता है। इसमें पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम, कैरोटीन फॉस्फोरस और विटामिन सी पाया जाता है। अगर आपको सहजन की फली खाने से परहेज है तो आप इसकी पत्तियों को पानी में उबालकर भी प्रयोग में ला सकती हैं। इसकी पत्त‍ियों में भी वह सभी गुण होते हैं जो सहजन की फली में होते हैं। गर्भावस्था में सहजन खाने से सुबह के समय महसूस होने वाली कमजोरी दूर हो जाती है। साथ ही डिलिवरी भी आसान हो जाती है।

    फायदों से भरपूर सहजन
  • 3

    स्वस्थ हड्डियां

    गर्भावस्था में डॉक्टर खासतौर पर कैल्शियम के सेवन की सलाह देते हैं, ऐसे में कैल्शियम की गोलियां लेने से बेहतर है आप प्राकृतिक तरीके से कैल्शियम लें। सहजन में भरपूर मात्रा में कैल्शियम, आयरन और विटामिन पाए जाते हैं। जिससे हड्ड‍ियां मजबूत बनती हैं।

    स्वस्थ हड्डियां
  • 4

    डिलीवरी के समय कम परेशानी

    सहजन खाने से प्रसव के वक्‍त होने वाले दर्द में आराम मिलता है। इससे खून की कमी नहीं होती है साथ ही मां बनाने के बाद होने वाली समस्या कम हो जाती है। इसलिए गर्भवती को सहजन का सेवन करना चाहिए।

    डिलीवरी के समय कम परेशानी
  • 5

    मॉर्निंग सिकनेस से छुटकारा

    गर्भावस्था में सुबह के समय महिला को कमजोरी महसूस होती है। कई बार लगातार उल्ट‍ियां होने लगती हैं। सहजन खाने से गर्भवती को मतली, चक्‍कर आना जैसी मॉनिंग सिकनेस आदि सभी परेशानियों से छुटकारा मिल जाता है।

    मॉर्निंग सिकनेस से छुटकारा
  • 6

    डायबिटीज को नियंत्रित रखें

    सहजन की पत्तियां गर्भावस्था में ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित रखने में मदद करता हैं। इसे अपने आहार में शामिल करने से आप डायबिटीज से बची रहेंगी। साथ ही अक्‍सर गर्भवती को होने वाला गर्भावधि मधुमेह से भी सहजन बचाता है।

     डायबिटीज को नियंत्रित रखें
  • 7

    इंफेक्‍शन के खतरे को कम करें

    गर्भावस्था में इंफेक्‍शन का खतरा बहुत बढ़ जाता है। ऐसे में सहजन में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल इंफेक्शन का खतरा कम करने में मदद करता है। सहजन गले, त्वचा और छाती में होने वाले संक्रमण से बचाता है।
    Image Source : Getty

    इंफेक्‍शन के खतरे को कम करें
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर