हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

जानें फिटनेस के दीवानों के लिए मसल्‍स रिकवरी टिप्‍स

By:Meera Roy, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Aug 08, 2016
मसल्स रिकवरी के लिए सिर्फ वर्कआउट जरूरी नहीं है। अपनी जीवनशैली में तमाम किस्म के परिवर्तन करने होते हैं, सही खानपान से लेकर पर्याप्त नींद भी आवश्यक है। बहरहाल मसल्स रिकवरी के लिए नीचे दिये जा रहे मास्टर टिप्स को आजमाएं।
  • 1

    मसल्‍स रिकवरी टिप्‍स

    ज्यादातर लोगों का मानना है कि हार्ड वर्कआउट कर हम बेहतरीन मसल्स के मालिक बन सकते हैं। इसमें तथ्य में जरा भी हेरफेर नहीं है। बावजूद इसके अकसर लोग यह शिकायत करते दिखते हैं कि तमामा कोशिशों के बावजूद उन्हें मनचाहा परिणाम नहीं मिलता। जानते हैं क्यों? क्योंकि मसल्स रिकवरी के लिए सिर्फ वर्कआउट जरूरी नहीं है। अपनी जीवनशैली में तमाम किस्म के परिवर्तन करने होते हैं, सही खानपान से लेकर पर्याप्त नींद भी आवश्यक है। बहरहाल मसल्स रिकवरी के लिए नीचे दिये जा रहे मास्टर टिप्स को आजमाएं।

    मसल्‍स रिकवरी टिप्‍स
  • 2

    पर्याप्त नींद

    अपने शरीर की सुनें। सिर्फ और सिर्फ वर्कआउट कर आप अपने शरीर को थका रहे हैं। वसा बर्न कर रहे हैं। इससे क्या होता है? इससे आपका शरीर अंदरूनी रूप से कमजोर होने लगता है। शरीर की ऊर्जा और सक्रियता के लिए पर्याप्त नींद लेना आवश्यक है। इसमें भी गहरी नींद महत्वपूर्ण है। अपने इंस्ट्रक्ट से जानें कि एक दिन में कितने घंटे की नींद आपके लिए आवश्यक है। यूं तो प्रतिदिन 8 घंटे की नींद लेना जरूरी है। इसमें भी 4 घंटे की गहरी नींद होनी चाहिए।

    पर्याप्त नींद
  • 3

    मसाज

    सामान्यतः लोगों को लगता है कि मसाज सिर्फ अराम तलबी के लिए ही लिया जाना चाहिए। शायद आपको यह नहीं पता कि शरीर को रिलैक्स करना हो और बेहतर स्वास्थ्य पाना है तो कुछ कुछ समयावधि में शरीर को मसाज की आवश्यक होता है। इससे ट्श्यिू रिलैक्स मोड में आते हैं। यही नहीं आप मानसिक और शारीरिक रूप से खुद को बेहतर महसूस करते हैं। वर्कआउट के बाद मसल्स रिकवरी के लिए ये एक बेहतरीन विकल्प है। लेकिन ध्यान रखें कि मसाज कम अंतराल में करवाएं तभी इसके परिणाम मनचाहा हो सकते हैं।

    मसाज
  • 4

    काइरोप्रैक्टिक

    वर्कआउट का मतलब भारी वजन उठाना भी होता है। निःसंदेह सालों तक वर्कआउट कर आपने भी भारी वजन उठाए होंगे। लेकिन क्या कभी इसके प्रभाव के बारे में जाना है? शायद नहीं। इसका प्रभाव आपके जोड़ों पर पड़ता है। सालों तक भारी वजन उठाने से स्पाइनल हड्डी और घुटने विशेषकर प्रभावित होते हैं। ऐसे में काइरोप्रैक्टिक एक बेहतरीन विकल्प है। असल में यह एक चिकित्सा पद्धती है। इसके तहत काइरोप्रैक्टर आपके ज्वाइंट्स और रीढ़ की हड्डी से जुड़े दर्द को ठीक करने में सहायता करते हैं। यकीन मानिए मसल्स रिकवरी के इसका चयन कारगर सिद्ध होता है। इससे शरीर के विभिन्न अंगों के दर्द से पूर्ण रूप से मुक्ति मिल सकती है।
    Image Source : flodius.com

    काइरोप्रैक्टिक
  • 5

    एक्यूपंचर

    मसल्स रिलैक्स करने हो, तनाव दूर भगाना हो या फिर शरीर के टाक्सिन बाहर निकालने हो। एक्यूपंचर इन सबके लिए बेहतरीन विकल्प हैं। जो लोग मसल्स रिकवरी करना चाहते हैं उन्हें समय समय पर एक्यूपंचर का भी सहारा लेना चाहिए। इससे शरीर को रिलैक्स मोड में जाता ही साथ ही फिटनेस फ्रीक लोगों के लिए यह बेहतरीन विकल्प है। असल में जो लोग निरंतर वर्कआउट करते हैं, उनका शरीर अकसर थकन से भरा होता है। ऐसे में यदि वे एक्यूपंचर का सहारा लें तो शरीर में मौजूद खराब रसायन तो बाहर निकल ही जाते हैं और शरीर पहले की तुलना में ज्यादा सक्रिय हो जाता है।

    एक्यूपंचर
  • 6

    स्ट्रेचिंग

    मसल्स रिकवरी के लिए स्ट्रेचिंग महत्वपूर्ण एक्रसाइज है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप तुरंत स्ट्रेचिंग शुरु कर दें। याद रखें कि शरीर यदि जाम है यानी आप समय समय पर स्ट्रेचिंग नहीं करते तो शुरुआती स्तर मंे कुछ परेशानियां आ सकती हैं। ऐसे में जरूरी है कि विशेषज्ञों की सलाह लें। शुरुआती स्तर पर कितना स्ट्रेच करना है, कितनी देर तक स्ट्रेच करना और इसके तुरंत बाद क्या करना है। इस तरह के तमाम सवाल अपने इंस्ट्रक्टर से करें। सामान्यतः स्ट्रेचिंग रात को सोने से पहले करना चाहिए। याद रखिए कि स्ट्रेचिंग शरीर में लचीलापन बनाए रखने के लिए करना होता है। अध्ययन इस बात की तस्दीक करते हैं कि जो लोग स्ट्रेचिंग करते हैं, वे शुरुआती दिनों में पतले और कमजोर लगने लगते हैं। लेकिन नियमित रूप से करना मसल्स रिकवरी के लिए आवश्यक है। खासकर उनके लिए जो फिटनस फ्रीक हैं।

    स्ट्रेचिंग
  • 7

    तैराकी

    यदि आप फिटनेस फ्रीक हैं और तैराकी के शौकीन भी तो फिर यह आपके लिए खुशखबरी है। दरअसल मसल्स रिकवरी के लिए यह बेहद जरूरी है। अतः अगर आप तैराकी करते हैं तो इससे आपको कई किस्म के लाभ हासिल होते हैं। आपका शरीर रिलैक्स होता है, अच्छी खासी वर्कआउट होती है और स्वास्थ्य भी बेहतर होता है। इनके सबके इतर तैराकी मस्ती का पर्याय भी है।
    Image Source : Getty

    तैराकी
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर