हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

इस बार हैपी ही नहीं हेल्थी भी होगी दिवाली

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Oct 14, 2014
रोशनी और उल्लास से भरा दिवाली का त्योहार नजदीक है। लेकिन इसमें मिठाईयों और नमकीन आदि की भरमार सेहत के लिए नुकसानदायक भी हो सकती है। तो आइए इस बार हैपी और हेल्‍थी दिवाली मनाये।
  • 1

    सेहत वाली दिवाली

    भारत उत्सवों और त्योहारों का देश कहा जाता है। और इन त्योहारों के मौसम में सेहत पर असर पड़ना भी स्वाभाविक है। तो ऐसे में आपको अपनी सेहत का भी खास ख्याल रखने की जरूरत होती है। रोशनी और उल्लास से भरा दिवाली का त्योहार भी नजदीक है। जिसमें मिठाईयों और नमकीन आदि की भरमार सेहत के लिए समस्या बन सकती है। लेकिन इस त्योहार को फिट रहकर भी मनाया जा सकता है। बस जरूरत होती है थोड़ी सी सावधानी बरतने की। और फिर ये दिवाली होगी आपके लिए हेल्दी एंड हैपी दिवाली।  
    Image courtesy: © Getty Images

    सेहत वाली दिवाली
  • 2

    खान-पान पर रखें नियंत्रण

    दिवाली के समय अक्सर हम अपना डाइट चार्ट भूल, अपनी सेहत के प्रति लापरवाह हो जाते हैं। और इस लापरवाही के चलते काफी सारी एक्स्ट्रा कैलोरीज जो हमारे शरीर पर असर दिखाने लगती है। इस मौके पर खूब मिठाई, चॉकलेट और पकवान इत्यादि खाने से शरीर का वजन बेवजह बढ़ जाता है। जो कि स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हैं। ऐसे में आपको त्योहार के समय में भी अपने खान-पान पर नियंत्रण रखने की जरूरत है।
    Image courtesy: © Getty Images

    खान-पान पर रखें नियंत्रण
  • 3

    कैलोरी की जगह प्रोटीन

    घी, चीनी से भरा और डेयरी आइटम (जैसे दूध व खोया) वाली मिठाईयां तथा तले हुए खाद्य पदार्थ कैलोरी से भरे होते हैं। और ये इस  त्योहार पर काफी खाये जाते हैं। तो हो सके तो इनकी जगह ड्राई फ्रूट्स (मेवे) आदि की डिशिज बनाएं और खाएं। बदलते समय के साथ ड्राई फ्रूट्स अब दीवाली पर काफी प्रचलित भी हो रहे हैं। यही नहीं दिवाली पर उपहार के रूप में बादाम, अंजीर आदि ड्राइ फ्रूट्स के साथ ब्राउन राइस, रागी, सूप के पैकेट आदि मिलाकर सेहत से भरा दिवाली गिफ्ट बना सकते हैं।  
    Image courtesy: © Getty Images

    कैलोरी की जगह प्रोटीन
  • 4

    कम वसा व चीनी के उत्पाद

    कम वसा वाले डेयरी प्रोडक्ट्स व कम चीनी वाले उत्पादों की सामग्री का उपयोग करें। हो सके तो घर पर ही मिठाइयां तैयार करें। और इनमें ज्यादा घी, तेल का इस्तेमाल न करें, मिठास के लिए नेचुरल स्वीटनर्स का कम मात्रा में प्रयोग करें। आप चाहें तो शुगर फ्री भी उपयोग कर सकते हैं या शहद का प्रयोग कर सकते हैं। साथ ही स्वीट्स में संदेश, पेड़े के स्थान पर श्रीखंड व खीर आदि को प्राथमिकता दें। अगर स्वीट डिश में मिठाइयों की जगह फ्रूट्स लें। कोल्ड ड्रिक्स के स्थान पर नींबू पानी, नारियल पानी या अन्य फ्रूट्स जूस आदि नेचुरल ड्रिंक्स लें।
    Image courtesy: © Getty Images

    कम वसा व चीनी के उत्पाद
  • 5

    हाइड्रेट रहें और यूरिया साफ करें

    दिवाली की भागदौड़ के चलते हम अक्सर पानी पीना भूल जाते हैं। लेकिन कम पानी पीने से हमारी एनर्जी में कमी आती है और थकान महसूस होती है। क्योंकि हमारे शरीर में पानी की कमी से अन्य स्थूल पोषक तत्वों का अवशोषण रुकता है। यूरिया शरीर के लिए विषाक्त होता है, तो शरीर में अतिरिक्त यूरिया होने से ऊर्जा का हृास होगा। और शरीर में ऊर्जा का निम्न स्तर, चीनी की लालसा को बढ़ाता है। तो इस त्यौहार के दौरान अधिक से अधिक पानी पियें और अन्य पौष्टिक पेय जैसे, जूस नींबू पानी आदि पीते रहें।
    Image courtesy: © Getty Images

    हाइड्रेट रहें और यूरिया साफ करें
  • 6

    भोजन के प्रति सचेत रहें

    आप त्योहारों के दौरान खाये गये भो जन के प्रति जागरूक होने का प्रयास करें, ताकि आपको पता रहे कि आपने क्या और कितना खाया है। ऐसा कर आप बाद में अपनी डाइट को मैनेज कर पाएंगे और अतिरिक्त व्यायाम कर ज्यादा ली गयी कैलोरी बर्न कर सकेंगे। साथ ही तेल की सीमित मात्रा का उपयोग करते हुए अपना खाना पकाएं। आप कभी कभी तेल युक्त खाद्य पदार्थ खाते हैं, तो आप सामान्य से अधिक तैलीय भोजन खा लेते हैं। तो कम तेल का इस्तेमाल करें और कम ही खाएं।
    Image courtesy: © Getty Images

    भोजन के प्रति सचेत रहें
  • 7

    प्री-दिवाली पार्टी

    दिवाली की रात को बाहर पार्टी में जाने से पहले ही पौष्टिक सा आहार ले लें। इससे न सिर्फ आप अनावश्यक और हानिकारक खाद्य पदार्थ खाने से बचेंगे बल्कि, एल्कोहॉल के अतिरिक्त सेवन से भी बचेंगे। लेकिन पहले किया जाना वाला भोजन पौष्टिक ही होना चाहिए।
    Image courtesy: © Getty Images

    प्री-दिवाली पार्टी
  • 8

    व्यायाम

    सबसे महत्वपूर्ण बात, दिवाली के त्योहार की भीग-दौड़ के चलते व्यायाम से साथ समझोता न करें। यहां तक कि दीवाली के दौरान और इसके एक महीने के बाद, 15 मिनट तक अपने व्यायाम की अवधि में वृद्धि कर दें। इससे आप त्योहार के दौरान बदले खान-पान और थकावट से फिट रहते हुए सामना कर पाएंगे।
    Image courtesy: © Getty Images

    व्यायाम
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर