हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

गंदे टॉयलेट के कारण हो सकती हैं ये इंफेक्‍शन

By:Aditi Singh , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jul 18, 2015
गंदे शौचालयो के प्रयोग से हेपेटाइटिस ए जैसी बीमारियाँ फैल सकती हैं। जब भी आप इन शौचालयों का इस्तेमाल करें तो अच्छे सैनिटाइजर से हाथ धो लें। इस बारे मे विस्तार से जानने के लिए ये स्लाइडशो पढ़े।
  • 1

    गंदे शौचालयों से बीमारी

    सार्वजनिक सुविधाओं का इस्तेमाल करते हैं तो साफ बाथरूम काम में लें। गंदा बाथरूम इस्तेमाल न करें क्यों कि इनमें बहुत से संक्रमण होते हैं। आपको इनमें सावधानी रखने की आवश्यकता है, खासतौर पर बच्चों को। यदि आप जानना चाहते हैं कि गंदे शौचालयों से कितने प्रकार के इन्फेक्शन फैल सकते हैं तो आगे लिस्ट देखें।
    Image Source- Getty

    गंदे शौचालयों से बीमारी
  • 2

    स्ट्रेप्टोकोकस संक्रमण

    इसे स्ट्रेप के रूप में जाना जाता है और एक प्रकार का बैक्टीरिया है। यह गंदे शौचालयों के इस्तेमाल से फैल सकता है। इससे स्ट्रेप थ्रोट (गले में संक्रमण), स्कार्लेट फीवर (लाल सुर्ख बुखार) और त्वचा का संक्रमण आदि हैं। इनसे मूत्र मार्ग में संक्रमण, रक्त में संक्रमण और निमोनिया भी पैदा सकता है।
    Image Source- Getty

    स्ट्रेप्टोकोकस संक्रमण
  • 3

    हेपेटाइटिस ए संक्रमण

    यह इन गंदे शौचालयों से होने वाला मुख्य संक्रमण है। बुखार, उल्टी और पेट में ऐंठन आदि इसके लक्षण हैं। ये संक्रमित लोगों के मल से फैलते हैं। एक ही बाल्टी या मग इस्तेमाल करने से भी ये फैलते हैं।
    Image Source- Getty

    हेपेटाइटिस ए संक्रमण
  • 4

    सर्दी जुकाम

    यह भी गंदे शौचालयों से होने वाला वायरस इन्फेक्शन है। घर पर भी हम देखते हैं कि एक जने को बुखार होने पर सबको हो जाता है। सार्वजनिक शौचालयों के साथ भी ऐसा ही है। सिर दर्द, बुखार और नाक का रुकना और बहना आदि भी इस इन्फेक्शन के लक्षण हैं।
    Image Source- Getty

    सर्दी जुकाम
  • 5

    स्टाफीलोकोकस संक्रमण

    इसे स्टफ इन्फेक्शन के रूप में जाना जाता है। कई बैक्टीरिया हैं जो कि अनेक बीमारियों का कारण बनते हैं। इनसे प्रत्यक्ष संक्रमण होता है जो कि कई महीनों के लिए आपको बीमार कर सकता है। और ये बैक्टीरिया सार्वजनिक शौचालय में मिलते हैं। इसलिए जब आप अगली बार सार्वजनिक शौचालय का इस्तेमाल करें तो ध्यान रखें।
    Image Source- Getty

    स्टाफीलोकोकस संक्रमण
  • 6

    ई-कोलाई इन्फेक्शन

    गंदे शौचालयों से होने वाले इन्फेक्शन में ई-कोलाई बैक्टीरिया इन्फेक्शन भी प्रमुख है। इस प्रकार के इन्फेक्शन में आपको खूनी दस्त, पेट में ऐंठन और उल्टी जैसी समस्याएँ हो सकती हैं। इस तरह के इन्फेक्शन से छुटकारा पाने में आपको एक सप्ताह का समय लगेगा। दरवाज़े के हैंडल पर इन बैक्टीरिया की अधिकता होती है।
    Image Source- Getty

    ई-कोलाई इन्फेक्शन
  • 7

    यौन रोग/एस टी डी

    गंदे टॉयलेट को यदि कोई एस टी डी का रोगी प्रयोग कर ले तो यह रोग फैलने के चांस बढ जाते हैं। यदि आपको इस रोग से बचना है तो टॉयलेट प्रयोग करने के बाद अपने हाथों को धोना बिल्‍कुल ना भूलें। इसके अलावा टॉयलेट की चीजों को केवल टॉयलेट पेपर से ही छुएं।
    Image Source- Getty

    यौन रोग/एस टी डी
  • 8

    साफ टॉय़लेट का ही करे इस्तेमाल

    हमेशा सूखे और साफ शौचालय इस्तेमाल करें। लेकिन इसके साथ ही आपको अपनी स्वच्छता का भी ध्यान रखना है। केवल इस सीट पर बैठने से ही आप बीमार नहीं पड़ते हैं, इसका कोई गलत प्रभाव नहीं पड़ता यदि आपके कोई खुला घाव ना हो।
    Image Source- Getty

    साफ टॉय़लेट का ही करे इस्तेमाल
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर