हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

डायबिटीज न्यूरोपैथीः इन जरूरी तेलों का प्रयोग है बेहद लाभदायक

By:Devendra Tiwari , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Oct 03, 2016
डायबिटिक न्यूरोपैथी में पैरों की नसें काम करना बंद कर देती हैं, ऐसे में इसका उपचार करने के लिए इसेंशियल ऑयल कितना प्रभावी है, जानने के लिए यह लेख पढ़ें।
  • 1

    क्या है डायबिटिज न्यूरोपैथी

    डायबिटीज के कारण उत्पन्न होने वाली नसों की विकृति को डायबिटिक न्यूरोपैथी कहा जाता है। इसमें नसों की शक्ति कमजोर हो जाती है। मुख्य रूप से यह पैरों को प्रभावित करता है। इसमें पैरों में झुनझुनाहाट और सुन्नता का आभास होता है। समय व्यतीत होने के साथ पैरों की संवेदनशीलता समाप्त हो जाती है। अगर इसका समय पर उपचार न किया जाये तो पैरों को काटने की नौबत तक आ सकती है।
    Image Source-Getty

    क्या है डायबिटिज न्यूरोपैथी
  • 2

    इसेंशियल ऑयल के फायदे

    रिसर्च में भी यह बात प्रमाणित हो चुकी है कि इसेंशियल ऑयल बहुत फायदेमंद होता है। किसी भी प्रकार के कटने, संक्रमण होने पर इसका प्रयोग कर सकते हैं। इसके अलावा इससे तनाव, चिंता और थकान दूर होती है। यह हार्मोन को भी नियमित करता है। इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह एक प्राकृतिक उपाय है। जिनको न्यूरोपैथी की समस्या है यह उनके लिए बहुत कारगर है, क्योंकि इससे दर्द दूर होता है और यह पाचन को भी सुधारता है।
    Image Source-Getty

    इसेंशियल ऑयल के फायदे
  • 3

    पेपरमिंट

    पेपरमिंट का तेल नयूरोपैथी में बहुत फायदेमंद है। यह मांसपेशियों को रिलैक्स करता है, यह दर्द को दूर करता है। 2002 में हुए शोध में यह बात सामने आई है कि पेपरमिंट के प्रयोग से एक 76 साल की महिला की बीमारी न्यूरेल्जिया का उपचार हुआ था।
    Image Source-Getty

    पेपरमिंट
  • 4

    रोमन चमेली

    2014 में हुए एक शोध की मानें तो रोमन कैमोमाइल से मांसपेशियों का दर्द आसानी से दूर हो जाता है। यह सूजन को दूर करने में भी सहायक है। ऐसे में डायबिटिक न्यूरोपैथी के उपचार में इसका प्रयोग फायदेमंद माना जा सकता है।
    Image Source-Getty

    रोमन चमेली
  • 5

    इसेंशियल ऑयल का मिश्रण

    अगर एक ऑयल से आराम नहीं मिल रहा तो आप दूसरे अन्य इसेंशियल ऑयल को एक साथ मिलाकर प्रयोग कर सकते हैं, यह मिश्रण अधिक फायदेमंद और प्रभावी होता है। 2010 में हुए एक शोध में इस बात का खुलासा भी हो चुका है। इस मिश्रण में पेपरमिंट, लैवेंडर, टी ट्री और यूकालिप्टस आदि के तेल मिला सकते हैं।
    Image Source-Getty

    इसेंशियल ऑयल का मिश्रण
  • 6

    कैसे करें प्रयोग

    दर्द से राहत पाने के लिए आप एक आउंस जैतून या नारियल तेल के साथ के साथ 12 बूंद इसेंशियल ऑयल का प्रयोग कर मिश्रण बनायें। इससे त्वचा पर जलन और सूजन नहीं होगी। आप चाहें तो इसमें अपना मसाज करने वाला तेल भी मिला सकते हैं या फिर कुछ नहाने वाला पानी भी मिला सकते हैं। इसेंशियल ऑयल सीधे त्वचा पर लगाने से समस्या हो सकती है, इसलिए इसमें दूसरे मिश्रण मिलाना जरूरी है। इससे दर्द, अनिद्रा, तनाव आदि समस्याएं दूर होंगी।
    Image Source-Getty

    कैसे करें प्रयोग
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर