हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

सोफे पर बैठने के स्‍वास्‍थ्‍य खतरे

By:Shabnam Khan , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Feb 11, 2015
आपको ये तो मालूम है कि काउच पर बैठकर आपको गजब का आलस आता है लेकिन शायद आपको ये नहीं मालूम है कि काउच आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक भी साबित हो सकता है।
  • 1

    सोफे पर वक्त बिताना पसंद करते हैं लोग

    आपके घर की फर्नीचर लिस्ट काउच के बिना पूरी हो ही नहीं सकती। आपके ड्राइंग रूम की जान होता है आपका काउच। पूरे दिन दफ्तर में दौड़भाग और माथापच्ची करके जब आप घर पहुंचते हैं तो अपने काउच पर ही ढंस जाना चाहते हैं। वीकेंड पर काउच पर लेटकर टीवी देखते हुए अपना दिन बिताना आपको बहुत पसंद है। आपको ये तो मालूम है कि काउच पर बैठकर आपको गजब का आलस आता है लेकिन क्या आपको ये भी मालूम है कि काउच आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक भी साबित हो सकता है?  

    Image Source - Getty Images

    सोफे पर वक्त बिताना पसंद करते हैं लोग
  • 2

    सिर्फ 'काउच पटैटो' ही नहीं बनाता काउच

    आपने काउच पर बैठने के फायदे और नुकसान के बारे में सुना ही होगा। लेकिन फिर भी, आपने इस बात को अधिक गंभीरता से नहीं लिया होगा। बहुत से लोग जानते हैं कि काउच पर बैठे रहने से इंसान 'काउच पटैटो' बन जाते हैं। काउच पटैटो उन लोगों को कहा जाता है जो लोग बिल्कुल एक्सरसाइज नहीं करते और बहुत अधिक टीवी देखते हैं। लेकिन, काउच पर वक्त बिताने से आप सिर्फ काउच पटैटो ही नहीं बनेंगे बल्कि आपकी सेहत को बहुत सी अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं।

    Image Source - Getty Images

    सिर्फ 'काउच पटैटो' ही नहीं बनाता काउच
  • 3

    दिल की बीमारी का बढ़ता खतरा

    काउच आपकी दिल की सेहत के लिए खराब साबित हो सकता है। विशेषज्ञों के मुताबिक जो लोग काउच पर अधिक वक्त बिताते हैं उन्हें हाई ब्लड प्रेशर का 35 प्रतिशत अधिक जोखिम होता है। वहीं जहां बात दिल के दौरे और दिल की अन्य बीमारियों की आती है तो ये जोखिम 50 प्रतिशत तक बढ़ जाता है। इसलिए आपको इस आदत को छोड़ देना चाहिए।

    Image Source - Getty Images

    दिल की बीमारी का बढ़ता खतरा
  • 4

    कैंसर का खतरा

    आपके काउट में बहुत से फ्लेम-रिटार्डेंट केमिकल्स होते हैं। ये केमिकल जहरीले होते हैं और इनसे कैंसिर व हार्मोन चक्र में रूकावट का खतरा बढ़ जाता है। इन केमिकल्स की वजह से सीखने की क्षमता भी धीमी हो सकती है। दुर्भाग्य से, इन केमिकल्स की पहचान करना और ये पता लगाना कि फर्नीचर में किस जगह इनका इस्तेमाल किया गया, मुमकिन नहीं है।

    Image Source - Getty Images

    कैंसर का खतरा
  • 5

    आंखों और गले को नुकसान

    काउच बनाने में लड़कियों को जोड़ने के लिए फॉर्मल्डेहाईड (Formaldehyde) का इस्तेमाल किया जाता है। यह एक वाष्पशील ऑर्गैनिक केमिकल होता है जिससे आखों और गले में जलन की समस्या हो सकती है। समस्या बढ़ने पर आंखों से पानी आना, मतली होना और सांस लेने में दिक्कत जैसी स्थिति का सामना करना पड़ सकता है।

    Image Source - Getty Images

    आंखों और गले को नुकसान
  • 6

    फेफड़ों को नुकसान

    काउच और अन्य फर्नीचर में ऐसे बहुत से केमिकल्स होते हैं, जो जलाए जाने पर जहरीला धुंआ छोड़ते हैं। काउच में पैडिंग के लिए पॉलियूरेथेन (Polyurethane) फोम का इस्तेमाल किया जाता है, जब इसे जलाया जाता है तो इससे आइसोसाइनेट्स केमिकल निकलता है। इस केमिकल से फेफड़ों को बहुत नुकसान पहुंचता है। जो बाद में जाकर अस्थमा में बदल सकता है।

    Image Source - Getty Images

    फेफड़ों को नुकसान
  • 7

    नेचुरल या लेबल्ड फर्नीचर का रूख करें

    काउच के नुकसान से बचना इतना मुश्किल भी नहीं है। नेचुरल फर्नीचर का इस्तेमाल आपको काउच के खतरों से बचा सकता है। नेचुरल मटीरियल जैसे कि लकड़ी, वुल, ऑर्गेनिक फेदर्स, नेचुरल लेटेक्स आदि से बने काउच लें। फर्नीचर लेते समय काउच का लेबल जरूर देखें। उनमें ये जानकारी होती है कि वो फ्लेम रेसिस्टेंट नहीं हैं और उनमें केमिकल्स का इस्तेमाल भी नहीं हुआ है।

    Image Source - Getty Images

    नेचुरल या लेबल्ड फर्नीचर का रूख करें
  • 8

    काउच की सफाई

    अपने काउच की साफ सफाई का खास खयाल रखें। उसपर जमने वाली धूल व मिट्टी आपको काफी नुकसान पहुंचा सकती है। काउच का इस्तेमाल करने के बाद अपने हाथों को भी अच्छी तरह से धोएं। बच्चों को काउच से अधिक समस्या होनी की आशंका रहती है इसलिए उनका खास खयाल रखें।

    Image Source - Getty Images

    काउच की सफाई
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर