हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

जानें सामान्य एलर्जी से जुड़े मिथ

By:Aditi Singh , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Aug 17, 2015
दूध पीने से एलर्जी होने जैसे मिथ से आज भी कई लोग ग्रस्‍त दिखाई देते हैं, ऐसे कई और भी मिथ हैं जिसके बारे में लोगों में जागरुकता की कमी है, आइए इन मिथ के बारे में हम आपको बताते हैं।
  • 1

    एलर्जी से जुड़े मिथ

    स्वास्थ्य को लेकर लोगों में कई तरह की मान्यतायें और अपने तरीके भी होते हैं। लेकिन कई ऐसी मान्‍यतायें होती हैं जो सिर्फ किसी मिथ से कम नहीं हैं। लेकिन इन मिथ के बारे में आपको जानकारी ऱखनी जरूरी है वरना ये आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकती हैं। आपने स्वास्थ्य से जुड़े इन गलतफहमियों के बारे में जानें और स्वास्थ्य पर उनके प्रभावों को भी जानें।
    Image Source-Getty

    एलर्जी से जुड़े मिथ
  • 2

    दूध से नहीं है दमा या मुंहासों का संबंध

    हालांकि दूध से एलर्जी रखने वाले बच्चों में भविष्य में दमा की आशंका ज्यादा रहती है, लेकिन फिर भी इसका कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है कि डेयरी उत्पादों का प्रयोग करने से दमा होता ही हो। विज्ञान से ऐसे भी कोई प्रमाण नहीं मिले हैं कि दूध का मुहांसों से कोई संबंध हो। दूध तो विटामिन ए और डी का स्रोत है, जो त्वचा को खूबसूरत बनाने में मददगार होता है।
    Image Source-Getty

    दूध से नहीं है दमा या मुंहासों का संबंध
  • 3

    अस्थमा के मरीज नहीं खा सकते खट्टा और सामान्य ठंडा

    अस्थमा के मरीज को खट्टा और सामान्य ठंडा नहीं खाना चाहिए, यह मिथ है। आमतौर पर एलर्जी के शिकार जल्दी बनते हैं। इसलिए इन्हें उन चीजों से दूर रहने की सलाह दी जाती है, जिनसे एलर्जी हो सकती हैं, जैसे कि अंडा, मछली या तीखी महक वाली चीजें। हालांकि हर किसी की एलर्जी हो, यह जरूरी नहीं है। इसलिए यह जानना जरूरी हो जाता है कि अस्थमा के मरीजों के स्वास्थ्य के ऐसे कौन से आहार उपयोगी है जिससे उनका स्वास्थ्य सकारात्मक रूप से प्रभावित हो सके।
    Image Source-Getty

    अस्थमा के मरीज नहीं खा सकते खट्टा और सामान्य ठंडा
  • 4

    डायबिटीज के रोगी भी कर सकते है मीठे का सेवन

    डायबिटीज के लिए यह माना जाता है, कि इसके रोगियों को मीठी चीजों का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। लेकिन हकीकत यह है, कि कभी-कभी मीठी चीजें खाने में कोई हर्ज नहीं है। बल्कि ऐसा डेजर्ट खाना चाहिए, जिसमें फायबर की मात्रा ज्यादा हो, और  ग्लाइकेमिक इंडेक्स कम हो।
    Image Source-Getty

    डायबिटीज के रोगी भी कर सकते है मीठे का सेवन
  • 5

    जंकफूड से नहीं होते है मुंहासे

    कुछ लोगों को लगता है, कि चॉकलेट या फ्रेंच फ्राइज जैसे जंक फूड का सेवन करने से मुहांसों की समस्या पैदा होती है। लेकिन डर्मेटोलॉजिस्ट का मानना है, कि किसी भी प्रकार के फूड का मुहांसों से सीधा संबंध नहीं होता। डाइट में अत्यधि‍क तली हुई चीजें खाने से त्वचा की तैलीय ग्रंथि‍यां सक्रिय हो सकती है, जिससे मुहांसे होते हैं। हां, हेल्दी डायट लेने से त्वचा स्वस्थ एवं सुंदर जरूर बनती है।
    Image Source-Getty

    जंकफूड से नहीं होते है मुंहासे
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर