हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

छाती में दर्द देता है कई समस्याओं के संकेत

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Aug 06, 2014
चैस्ट पेन होते ही लोग सोचते हैं कि यह हार्ट अटैक का संकेत है, लेकिन ऐसा नहीं है चैस्ट पेन अर्थात छाती का दर्द कई अन्य कारणों जैसे फेफड़े, ग्रासनली, मांसपेशियों, पसलियों, या नसों में समस्याओं की वजह से भी हो सकता है।
  • 1

    कई कारणों से हो सकता है सीने में दर्द

    छाती दर्द अर्थात चैस्ट पेन का नाम सुनते ही लोगों के दिल में एक ही बात आती है, कहीं हार्ट अटैक तो नहीं'! लेकिन स्वास्थ्य समस्याओं की एक लंबी-चौड़ी लिस्‍ट से सीने में दर्द हो सकता है। सकता है। कई मामलों में तो इसका कारण दिल के साथ जुड़ा ही नहीं होता। सीने में दर्द फेफड़े, ग्रासनली, मांसपेशियों, पसलियों, या नसों में समस्याओं की वजह से भी हो सकता है। क्योंकि अधिकतर कारण गंभीर रूप ले सकते हैं, निश्चित रूप से सीने में दर्द की अनदेखी कभी नहीं करनी चाहिए। तो चलिये जानें की चैस्ट पेन के क्या-क्या कारण हो सकते हैं।

    Image courtesy: © Getty Images

    कई कारणों से हो सकता है सीने में दर्द
  • 2

    मायोकार्डियल इन्फर्कशन (हार्ट अटैक)

    दिल की रक्त वाहिकाओं के माध्यम से रक्त के प्रवाह में कमी हृदय की मांसपेशी कोशिकाओं को मार देती है। हालांकि एनजाइना के सीने के दर्द के समान हो ने वाला ये दर्द दिल के दौरे में आमतौर पर अधिक गंभीर हो जाता है। इसमें आराम करने से भी राहत नहीं मिलती। इसमे होने वाले दर्द के साथ पसीना, मतली, या गंभीर कमजोरी हो सकते हैं।
    Image courtesy: © Getty Images

    मायोकार्डियल इन्फर्कशन (हार्ट अटैक)
  • 3

    मायोकार्डिटिस

    सीने में दर्द के अलावा मायोकार्डिटिस (हृदय की मांसपेशियों में सूजन) बुखार, थकान, और सांस लेने में कठिनाई पैदा कर सकती है। हालांकि इसमें रक्त वाहिकाओं में कोई रुकावट नहीं होती है, फिर भी मायोकार्डिटिस के लक्षण दिल का दौरा पड़ने के समान लग सकते हैं।
    Image courtesy: © Getty Images

    मायोकार्डिटिस
  • 4

    पेरिकार्डिटिस

    पेरिकार्डिटिस दिल के आसपास थैली की सूजन या संक्रमण होता है। इसका दर्द एनजाइना के कारण छाती में होने वाले दर्द के समान ही हो सकता है। हालांकि यह अक्सर ऊपरी गर्दन और कंधे की मांसपेशी में तेज व स्थिर दर्द का कारण बनता है। कभी - कभी सांस लेने, भोजन निगलने या पीठ के बल लेटने पेरिकार्डिटिस के कारण होने वाला चैस्ट पेन असहनीय हो जाता है।  
    Image courtesy: © Getty Images

    पेरिकार्डिटिस
  • 5

    हाइपरट्रोफिक कार्डियोमायोपैथी

    हार्ट फेल्योर हृदय की मांसपेशी के और ज़्यादा मोटा हो जाने पर होता है। इसके कारण हृदय का रक्त पंप करना कठिन हो जाता है। सीने में दर्द के साथ-साथ कार्डियोमायोपैथी के इस प्रकार से चक्कर आना, कमज़ोरी, सांस की तकलीफ तथा कुछ अन्य लक्षण होते हैं।
    Image courtesy: © Getty Images

    हाइपरट्रोफिक कार्डियोमायोपैथी
  • 6

    मिट्रल वॉल्व प्रोलैप्स

    मिट्रल वॉल्व प्रोलैप्स एक ऐसी स्थिति है जिसमें दिल में मोजूद एक वॉल्व ठीक से बंद नहीं हो पाता। इस स्थिति में कई प्रकार के लक्षण दिखाई देते हैं, जैसे सीने में दर्द, घबराहट, और चक्कर आना आदि। हलांकि ऐसा भी हो सकता है कि इसके कोई लक्षण दिखाई न दें। खासकर अगर वॉल्व प्रोलैप्स हल्का हो। Image courtesy: © Getty Images

    मिट्रल वॉल्व प्रोलैप्स
  • 7

    कोरोनरी धमनी विच्छेदन (कोरोनरी आर्टरी डिसेक्शन)

    जब कोरोनरी धमनी में कोई छेद या खरोंच पैदा हो जाती है तो इसे कोरोनरी आर्टरी डिसेक्शन कहते हैं। यह दुर्लभ हालत कई प्रकार के कारकों के कारण पैदा हो सकते हैं। यह अचानक सनसनी के साथ गंभीर दर्द का कारण बन सकता है जो कि गर्दन, पीठ या पेट तक चला जाता है। Image courtesy: © Getty Images

    कोरोनरी धमनी विच्छेदन (कोरोनरी आर्टरी डिसेक्शन)
  • 8

    छाती की अंदरूनी दिवारों में सूजन (प्ल्यूराइटिस)

    छाती में दर्द छाती की अंदरूनी दिवारों में सूजन के कारण भी हो सकता है। दरअसल जब फेफ़डे की ऊपरी सतह पर स्थित झिल्ली में सूजन आ जाती है तो छाती की अंदरूनी दीवार की सूजी हुई सतह से सांस लेते वक्त हवा रगड़ खाने लगती है। जिस कारण असहनीय दर्द होता है। इस अवस्था को मेडिकल भाषा में प्ल्यूराइटिस कहते हैं। ज्यादातर प्ल्यूराइटिस का कारण टीबी का इंफेक्शन या निमोनिया होता है। ऐसे में जल्द किसी थोरेसिक सर्जन यानी चेस्ट सर्जन से परामर्श लेना चाहिए। Image courtesy: © Getty Images

     छाती की अंदरूनी दिवारों में सूजन (प्ल्यूराइटिस)
  • 9

    पेट के रोग

    पेट रोग होने की वजह से भी छाती में दर्द हो सकता है। पेट में अल्सर और गैस्टिक इस समस्या के कारण बन सकते हैं। जब पीत्त की थैली में गैस बनती है और वह छाती की तरफ जाती है तो छाती में दर्द होता है। यदि छाती में जलन हो और सोने पर दर्द बढ़ जाय तो यह पेट की समस्या के कारण होता है।

    Image courtesy: © Getty Images

    पेट के रोग
  • 10

    पेरिफेरल वैस्कुलर डिजीज

    दिल की धमनियों के दर्द को पेरिफेरल वैस्कुलर डिजीज (पीवीडी) कहाते हैं। हृदय से जुड़ने वाले शरीर के आंतरिक अंग और दिमाग़ को खून पहुंचाने वाली धमनियों में ख़ून का संचरण बाधित होने से छाती का दर्द होता है। केवल दिल में ही नहीं, शरीर के किसी भी हिस्से में धमनियां अवरुद्ध होने पर हृदयघात हो सकता है।
    Image courtesy: © Getty Images

    पेरिफेरल वैस्कुलर डिजीज
  • 11

    एनजाइना

    दिल की रक्त वाहिकाओं में रुकावट होने पर ये हृदय की मांसपेशियों को रक्त प्रवाह और ऑक्सीजन कम कर देती है। जिस कारण छाती में दर्द होता है, लेकिन दिल को किसी प्रकार की स्थायी क्षति नहीं होती। एनजाइना से हुआ सीने में दर्द हाथ, कंधे या जबड़े तक फाल सकता है। एंजाइना से होने वाला सीने का दर्द व्यायाम, उत्साह या किसी भावनात्मक आघात से शुरू हो सकता है और आराम करने से चला जाता है।
    Image courtesy: © Getty Images

    एनजाइना
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर