हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

यौनिक सूखापन के कारण

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Aug 07, 2014
योनि में लुब्रिकेशन की कमी के बहुत से कारण है जैसे भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक कारण, हार्मोनल परिवर्तन या दवा दुष्प्रभाव आदि। आइए ऐसे ही कुछ कारणों के बारें में जानें।
  • 1

    योनि सूखापन

    योनि में सूखेपन के कारण जलन और बेचैनी हो सकती है। इसके साथ ही इससे सेक्स के दौरान तेज दर्द भी हो सकता है। यह समस्‍या किसी भी आयु वर्ग की महिला को हो सकती है। इस समस्‍या से बचने के लिए इसके कारणों को समझना बहुत जरूरी है। योनि में लुब्रिकेशन की कमी भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक कारणों से हो सकती है। साथ ही हार्मोनल परिवर्तन या दवाओं के साइड-इफेक्‍ट के कारण भी इस तरह की समस्‍या हो सकती है। आइए ऐसे ही कुछ कारणों के बारें में जानें। image courtesy : getty images

    योनि सूखापन
  • 2

    रजोनिवृत्ति

    एस्‍ट्रोजन का स्‍तर योनि में लुब्रिकेशन को बनाये रखने में मदद करता है लेकिन रजोनिवृत्ति के कारण इस हार्मोंन के स्‍तर में गिरावट आने लगती है। यह योनि में सूखेपन और जलन का कारण बनता है। इसे योनि शोष के नाम से जाना जाता है। image courtesy : getty images

    रजोनिवृत्ति
  • 3

    महिलाओं से संबंधित स्वास्थ्य मुद्दे

    महिलाओं में प्रसव, स्तनपान, अंडाशय के हटाने और एंडोमेट्रिओसिस के लिए दवा से एस्‍ट्रोजन के स्‍तर में कमी आने लगती है। इससे योनि में सूखापन आने लगता है। image courtesy : getty images

    महिलाओं से संबंधित स्वास्थ्य मुद्दे
  • 4

    ऑटोइम्यून रोग

    शरीर के रोग प्रतिरोधक तंत्र में विकार आने से ऑटोइम्यून रोग पैदा होते हैं। यह विकार कोशिकाओं पर हमला कर नमी को छीन लेते हैं। परिणाम- स्‍वरूप योनि में सूखापन आ जाता है। image courtesy : getty images

    ऑटोइम्यून रोग
  • 5

    दवायें

    कुछ विरोधी अवसाद और एलर्जी दवाओं योनि में सूखापन का कारण बनती है। अस्‍थमा, एलर्जी और कोल्‍ड के उपचार के लिए ली जाने वाली दवाओं में एंटीथिस्टेमाइंस होता है, इसमें मौजूद सुखाने वाला प्रभाव शरीर में नमी को कम कर योनि में सूखेपन का कारण बनता है। इसके अलावा कैंसर में ली जाने वाली कीमोथेरेपी और रेडिएशन भी योनि में सूखेपन का कारण बनती है। image courtesy : getty images

    दवायें
  • 6

    अपर्याप्त कामोत्तेजना

    कुछ मामलों में, योनि में सूखापन कम कामेच्छा या साथी के साथ यौन समस्याओं के कारण भी हो सकता है। डायरेक्टर ऑफ सेक्सुअल मेडिसिन डॉ. गोल्डस्टीन के अनुसार, "साथी के खराब प्रदर्शन और जल्दी स्खलन होना योनि में सूखेपन को बढ़ा सकता हैं।"image courtesy : getty images

    अपर्याप्त कामोत्तेजना
  • 7

    एलर्जी

    कुछ महिलाओं को साबुन, स्वच्छता उत्पादों, रंग, और इत्र में पाये जाने वाले केमिकल से एलर्जी होती है। गोल्डस्टीन कहते हैं कि "कई महिलाओं डिटर्जेंट और साबुन से एलर्जी होती है," उन्‍हें अंडरवियर या तौलिए जैसे चीजे भी परेशानी में डाल सकती है।" अन्य एलर्जी कारक लुबिकेंट और योन‍ि में रखने वाली वस्‍तुएं होती है। जो योनि में सूखेपन का कारण बनती है। image courtesy : getty images

    एलर्जी
  • 8

    तनाव

    किसी भी प्रकार का तनाव भी एस्ट्रोजन के स्तर को प्रभावित करता है। इस तरह से तनाव और चिंता के रूप में मनोवैज्ञानिक और भावनात्मक कारक योनि में सूखापन उत्पन्न कर सकते हैं। गोल्‍डस्‍टीन के अनुसार,  महिला के परेशान होने से योनि में पर्याप्‍त रक्त प्रवाह नहीं होता। इससे योनि में सूखापन आ जाता है। image courtesy : getty images

    तनाव
  • 9

    योनि सूखापन के लिए उपचार

    वैसे तो योनि में परेशानी को कम करने के लिए कई प्रकार की दवायें उपलब्ध हैं। लेकिन स्वयं दवा लेने बचें और अपनी शारीरिक जरूरतों के हिसाब से सही दवा के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करें। image courtesy : getty images

    योनि सूखापन के लिए उपचार
  • 10

    अन्‍य उपाय

    एस्ट्रोजन चिकित्सा के अलावा, तनाव में कमी, हाइड्रेटेड रहने के लिए पानी का भरपूर उपभोग और आहार योनि में सूखापन को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। इसके अलावा यौन संबंध बनाने से पहले लंबे समय तक फोरप्‍ले करना भी योनि को लुबिकेंट करके सूखेपन को रोकता है। image courtesy : getty images

    अन्‍य उपाय
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर