हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

आपको हेल्‍दी रखते हैं ये 7 नारंगी रंग के आहार

By:Aditi Singh , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jul 02, 2015
प्रकृति के रंग अलग-अलग उर्जा से जुड़े रहते हैं जो फलों और सब्जियों के रूप में हमारे शरीर में पोषक तत्वों को पहुंचाते हैं, रंगों में शरीर का इलाज करने की अद्भुत शक्ति होती है। इस स्लाइडशो मे पढ़ें कि नारंगी रंग के आहारों से आपके स्वास्थ्य को क्या फायदा मिलता है।
  • 1

    नारंगी रंग के फल और सब्जियां

    रंग हमारे शरीर के अंदर आशा और परिवर्तन का निर्माण करते हैं और यह आपके दुख और पेरशानी को दूर करते हैं। यह तनाव को भी कम करता है और प्रजनन प्रणाली का पोषण करता है। नारंगी रंग के फलों और सब्जियों में विटामिन-सी जैसे एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बनाए रखने में सहयोग देते हैं और पाचन क्रिया बेहतर बनाते हैं। इसमें कीनू, पपीता, संतरा, बेल, रसभरी आदि मुख्य हैं।
    ImageSource-GettyImages

    नारंगी रंग के फल और सब्जियां
  • 2

    गाजर

    गाजर को आँखों के लिए सूपरफूड माना जाता है। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा, एक मध्यम आकार का गाजर विटामिन ए के 200% रोजाना ज़रूरत को पूरा कर सकती है। इसलिए आप डायट में इसको शामिल करना न भूलें। आपको गाजर से कई विटामिन व मिनरल्स मिलते हैं। इसमें एंटीऑक्सिडेंट बीटा कैरोटिन, अल्फा कैरोटिन, कैल्शियम, विटामिन ए, बी1, बी2, सी और ई भी है। एंटीऑक्सिडेंट से स्किन में चमक आती है।
    ImageSource-GettyImages

    गाजर
  • 3

    कद्दू

    गाजर की तरह कद्दू भी विटामिन ए के प्रधान स्रोतों में एक है। जो लोग हेल्दी तरीके से वज़न घटाना चाहते हैं, उनके लिए तो यह सबसे अच्छा विकल्प बन सकता है, क्योंकि 100 ग्राम में सिर्फ 26 कैलोरीज़ होती हैं। इस सब्जी में 'पेट' से लेकर 'दिल' तक की कई बीमारियों के इलाज की क्षमता है। जहां यह हृदयरोगियों के लिए बहुत लाभदायक होती है, वहीं कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी सहायक होती है।
    ImageSource-GettyImages

    कद्दू
  • 4

    संतरा

    एक मध्यम आकार के संतरे में रोजाना के विटामिन सी के ज़रूरत के 72% को पूरा करने की क्षमता होती है। इसमें जो विटामिन सी होता है वह स्किन, हृदय और प्रतिरक्षी तंत्र  के लिए अच्छा होता है। संतरा दांतो के लिए बेहद फायदेमंद होता है यह मसूड़ों और दांतों की बीमारी को भी खत्म करता है। शहद में संतरे का रस को मिलाकर पीने से दिल के रोगी को बेहद फायदा होता है।
    ImageSource-GettyImages

    संतरा
  • 5

    पपीता

    पपीता विटामिन सी के प्रधान स्रोतों में एक है। इसमें पपेअन नाम का डाइजेस्टिव एन्जाइम होने के साथ-साथ फाइबर भी होता है जो पेट के लिए अच्छा होता है। इसको खाने से कब्ज़ से कुछ हद तक राहत मिलती है। केवल एक पपीते में इतना विटामिन सी होता है जो आपके प्रतिदिन की विटामिन सी की आवश्यकता का 200 प्रतिशत होता है। ज़ाहिर तौर पर ये आपके प्रतिरोधक तंत्र को मज़बूत करता है।  
    ImageSource-GettyImages

    पपीता
  • 6

    आम

    लोगों का यह मानना है कि आम साधारणतः पीले रंग के होते हैं। लेकिन आम के कुछ किस्म नारंगी रंग के भी होते हैं। आम गर्मी के मौसम में ही पाये जाते हैं और ये स्वादिष्ट होने के साथ-साथ विटामिन ए और सी से भरपूर होते हैं। आम शरीर में वसा को कम करने और शकर्रा को नियंत्रित करने में मददगार होता है।
    ImageSource-GettyImages

    आम
  • 7

    ऐप्रकाट

    ऐप्रकाट में पोटैशियम, फाइबर, विटामिन ए, विटामिन सी बीटा कैरोटीन और लाइकोपीन अच्छी मात्रा में पाया जाता है। इसे खाने से हमें बहुत सारे रोगों से बचा जा सकत हैं जैसे लीवर कैंसर।सूखी खूबानी लोहे का एक बहुत अच्छा स्रोत है जो एनीमिया से लड़ने में उपयोगी है। इसमें लोहे को अवशोषित करता तांबा भी मौजूद है। अपने दैनिक आहार में सूखी खूबानी को शामिल करने से हीमोग्लोबिन उत्पादन में वृद्धि होती है
    ImageSource-GettyImages

    ऐप्रकाट
  • 8

    रसभरी

    रसभरी में सेपोनिन रसायन अधिक होने से इसका उपयोग कब्जी दूर करने और शरीर पर होने वाले फोड़े-फुंसियां को ठीक करने में होता है। इससे ब्लड प्योरिफाई भी होता है।इसकी जड़ों में एंटी कैंसर प्रॉपर्टी होती है। रसभरी का रस पीलिया रोग को दूर करने में सहायक है।
    ImageSource-GettyImages

    रसभरी
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर