हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

शारीरिक गतिविधियों से दूर करें अवसाद

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Sep 19, 2014
अवसाद से निपटने का सबसे प्रभावी और प्राकृतिक तरीका शारीरिक गतिविधि है। शारीरिक गतिविधियों के रूप में एक्‍सरसाइज, वर्कआउट और अन्‍य गतिविधियां अवसाद से निपटने में बेहतर तरीके से मदद करती है।
  • 1

    अवसाद

    अवसाद सबसे आम मानसिक बीमारियों में से एक है, लेकिन फिर भी एक गंभीर समस्‍या है। अवसाद का असर केवल मन पर ही नहीं होता अपितु यह एक ऐसी दशा है कि जो पूरे शरीर पर अपना प्रभाव डालती है। image courtesy : getty images

    अवसाद
  • 2

    शारीरिक गतिविधियां और अवसाद

    डिप्रेशन तनाव, चिंता और उदासी का बहुत बड़ा कारण बनता है, जो जल्‍द ही आपके जीवन पर असर करना शुरू कर देता है। इससे पहले की यह गंभीर रूप धारण कर लें डिप्रेशन निपटने के उपाय करने चाहिए। अवसाद से निपटने का सबसे प्रभावी और प्राकृतिक तरीका शारीरिक गतिविधि है। image courtesy : getty images

    शारीरिक गतिविधियां और अवसाद
  • 3

    क्‍या कहता है शोध

    स्‍कॉटलैंड स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ एडिनबर्ग के वरिष्‍ठ अध्‍ययनकर्ता डॉक्‍टर गिलियन मीड के अनुसार, ऑफिस में काम और दिनभर की भागदौड़ के बढ़ते दबाव के कारण डिप्रेशन की समस्‍या बहुत तेजी से फैल रही है। उन्‍होंने कहा कि हमें अवसाद की समस्‍या के बारे गंभीर रूप से सोचना होगा और इससे बचाव के उपाय तलाशने होंगे। मीड ने बताया कि दवाओं के मुकाबले शारीरिक गतिविधियां अवसाद से निपटने में ज्‍यादा कारगर स‍ाबित होती है। image courtesy : getty images

    क्‍या कहता है शोध
  • 4

    शारीरिक गतिविधियां से दूर करने अवसाद

    हाल ही के वर्षों में, कई अध्‍ययनों ने अवसाद और शारीरिक गतिविधि के बीच की कड़ी पर शोध किया है। इन अध्‍ययनों में कई कारणों से यह बात साबित हुई कि शारीरिक गतिविधियों के रूप में एक्‍सरसाइज, वर्कआउट और अन्‍य गतिविधियां मरीज को बेहतर तरीके से अवसाद से निपटने में मदद करती है। यहां उन कारणों में से कुछ दिये गये है। image courtesy : getty images

    शारीरिक गतिविधियां से दूर करने अवसाद
  • 5

    एंडोर्फिन की विज्ञप्ति

    एंडोर्फिन, प्राकृतिक केमिकल है जिसकी उत्‍पति व्‍यायाम के दौरान मस्तिष्‍क में होती है। एक्‍सरसाइज के बाद यह एंडोर्फिन हमें परम आनंद का अनुभव कराता है। कार्डियोवैस्कुलर एक्‍सरसाइज जैसे रानिंग, विशेष रूप से एंडोर्फिन के उत्‍पादन का बढ़ा देता है। इस तरह की सकारात्‍मक भावनाएं निश्चित रूप से अवसाद के लक्षणों से राहत देने में मदद करता है। image courtesy : getty images

    एंडोर्फिन की विज्ञप्ति
  • 6

    सेरोटोनिन का स्तर बढ़ता है

    सेरोटोनिन एक और स्‍वाभाविक रूप से उत्‍पदित होने वाला केमिकल है जो आपके मूड, नींद और भूख को प्रभावित करता है। सेरोटोनिन का निम्‍न स्‍तर अवसाद का कारण बनता है। लेकिन, एक्‍सरसाइज और अन्‍य शारीरिक गतिविधियां इस स्‍तर को आसानी से बढ़ा कर, तुरंत अवसाद से लड़ने में मदद करती है। image courtesy : getty images

    सेरोटोनिन का स्तर बढ़ता है
  • 7

    नींद में सुधार

    एक्‍सरसाइज से सेरोटोनिन के स्‍तर के बढ़ जाने से नींद पर सकारात्‍मक प्रभाव पड़ता है। और अच्‍छी नींद आपको अवसाद के प्रमुख लक्षण अनिद्रा से दूर रहने में मदद करता है। इसके लिए आपको एक्‍सरसाइज और नींद के बीच संतुलन बनाना होगा ताकी यह दोनों कारक अवसाद को कम करने में मदद कर सकें। image courtesy : getty images

    नींद में सुधार
  • 8

    ध्यान भंग करने में मददगार

    कहते है न कि खाली दिमाग शैतान का होता है। डिप्रेशन का शिकार व्‍यक्ति भी विचारों के जाल में फंसता ही चला जाता है, और उसके विचार अक्‍सर नकारात्‍मक होते हैं। कई अध्‍ययनों के अनुसार, स्‍वयं को एक्‍सरसाइज और वर्कआउट के माध्‍यम से सक्रिय बनाये रखने आपका दिमाग भरा रहता है, और ऐसा करने से अवसादग्रस्तता विचारों पर आपका ध्‍यान नहीं जाता। image courtesy : getty images

    ध्यान भंग करने में मददगार
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर