हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

गठिया और सामान्य जोड़ों के दर्द में होते हैं ये अंतर

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Nov 28, 2014
जोड़ों का दर्द गठिया का ही एक खास लक्षण है। लेकिन यह लक्षण अक्सर शुरू में नजरअंदाज कर दिया जाता है, क्योंकि लोग जोड़ों के दर्द को बुढ़ापे में होने वाली समस्या समझने की गलती कर देते हैं।
  • 1

    जोड़ों के दर्द और गठिया के लक्षणों में विभेद

    जोड़ों का दर्द गठिया का ही एक खास लक्षण है। लेकिन यह लक्षण अक्सर शुरू में नजरअंदाज कर दिया जाता है, क्योंकि लोग जोड़ों के दर्द को बुढ़ापे की निशानी समझने की गलती करते हैं। ऐसे में वे या तो कोई पेन किलर ले लेते हैं या फिर बाम, स्प्रे को तत्कालिक उपचार के रूम में ले लेते हैं। गठिया की वजह से होने वाले जोड़ों के दर्द को नजरअंदाज करना जटिलताएं पैदा कर सकता है, और आगे चलकर हालात और भी खराब हो सकते हैं। इसीलिये हम आपको कुछ ऐसे लक्षणों के बारे में बता रहे हैं जो आपको गठिया की वजह से होने वाले दर्द और सामान्य जोड़ों के दर्द में अंतर करना सिखाएंगे।
    Images courtesy: © Getty Images

    जोड़ों के दर्द और गठिया के लक्षणों में विभेद
  • 2

    सुबह को अकड़न होना

    गठिया की शीघ्र शुरुआत का एक प्रमुख लक्षण सुबह को जोड़ों में अकड़न होना भी है, जो कि तीस मिनट से लेकर एक घंटे तक हो सकती है। शुरुआत में ये अकड़न दिन चढ़ने और गतिविधि बढ़ने के साथ कम होती जाती है। लेकिन समय बीतने के साथ ये समस्या बढ़ने लगती है। सूजन गठिया का एक प्रमुख लक्षण है। यही सूजन जोड़ों को मुलायम बना देता है। ऐसे में हल्की-हल्की सूजन प्रभावित जोड़ के चारों ओर देखी जा सकती है, जोकि उत्तेजना कम होने के साथ कम होती जाती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    सुबह को अकड़न होना
  • 3

    छूने पर दर्द

    सूजन और उत्तेजना के कारण प्रभावित जोड़ों में दर्द रहने लगता है। दर्द, जलन वाला, कष्टदायी तथा फैलने वाला हो सकता है। अक्सर सूजन वाले जोड़ संवेदनशील हो सकते हैं और एक स्पर्श मात्र से उनमें दर्द होना शुरू हो सकता है। हर जोड़ झुकने और स्ट्रेच करने पर एक निर्धारित सीमा तक मूव कराया जा सकता है। इसे ही रेंज ऑफ मूवमेंट कहा जाता है, जो हमें दैनिक कार्य करने में मदद करता है। अर्थराइटिस की प्रारंभिक स्टेज में यह रेंज ऑफ मूवमेंट बाधित हो जाती है। ऐसा सूजन और उत्तेजना के कारण होता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    इसे भी पढें:-इन घरेलू उपायों से दूर करें गठिया का दर्द

    छूने पर दर्द
  • 4

    जोड़ों का अकड़ना

    यदि सनसनी, झुनझुनी या जोड़ों में चटकने की ध्वनि के साथ थोड़ी उत्तेजना व अकड़न होती है तो यह संभवतः अर्थराइटिस का संकेत हो सकता है। हाथों और पैरों में सूजे हुए स्नायु नसों पर दबाव डालकर अकड़ना और झुनझुनी का कारण बनते हैं। सूजन भी उपास्थि को क्षति पहुंचाने का कारण बनती है। मांसपेशियों या जोड़ों के दर्द के साथ समान्य थकान होना आम बात है। लेकिन गठिया के जल्दी शुरू होने के साथ इसके वास्तविक लक्षणों, जैसे दर्द के साथ सूजन, रेंज ऑफ मोशन के कम होने आदि से पहले ही आपको थकान का अनुभव होता रहता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    जोड़ों का अकड़ना
  • 5

    कुछ सामान्य अंतर

    अर्थराइटिस अचानक से शुरू नहीं होता है। यह आमतौर पर एक से ज्यादा जोड़ो को प्रभावित करता है जैसे, घुटने, टखने पैर और कलाई आदि के जोड़। इसमें लोगों को टखने के पीछे तथा एड़ी के नीचे छूने पर दर्द होता है। इसके लक्षण इस पर भी निर्भर करते हैं कि शरीर के कौन से दूसरे अंग इसके कारण प्रभावित हुए हैं।  
    Images courtesy: © Getty Images

    कुछ सामान्य अंतर
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर