हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

क्या आप एक कोडिपेंडेंट रिलेशनशिप में हैं

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Oct 10, 2014
अगर आपका रिश्ता भी इस एकतरफा प्यार की पटरी पर दौड़ रहा है, तो आपको मायूस होने की जरूरत नहीं है। अपने रिश्ते को कोडिपेंडेंट यानी सहनिर्भर रिश्ते से निकालकर समानता के धरातल पर लाने के कई तरीके मौजूद हैं।
  • 1

    बस आप ही करें बलिदान

    क्या आप अपने साथी की खुशी के लिए छोटे-मोटे सेक्रीफाइज करते रहते हैं। लेकिन, इसके बदले में आपको कुछ नहीं मिलता। अगर आपका रिश्ता भी इस एकतरफा प्यार की पटरी पर दौड़ रहा है, तो आपको मायूस होने की जरूरत नहीं है। अपने रिश्ते को कोडिपेंडेंट यानी सहनिर्भर रिश्ते से निकालकर समानता के धरातल पर लाने के कई तरीके मौजूद हैं।  image courtesy : getty images

    बस आप ही करें बलिदान
  • 2

    क्या होता है कोडिपेंडेंट रिलेशनशिप

    चीजों को सुधारने से पहले आपको यह समझना जरूरी है कि आख‍िर कोडिपेंडेंट रिलेशनश‍िप क्या होता है। जानकारों का कहना है कि यह व्यवहार का वह तरीका है, जिसमें आप स्वयं को एक ऐसे मुकाम पर पाते हैं, जिसमें आपको अपनी स्वयं की कीमत, पहचान और वजूद के लिए किसी दूसरे की सहमति की आवश्यकता महसूस होती है। इनमें से एक लक्षण यह भी है कि आप किसी की खुशी और जरूरतों के लिए हद से आगे बढ़कर त्याग करने लगते हैं। image courtesy : getty images

    क्या होता है कोडिपेंडेंट रिलेशनशिप
  • 3

    क्यों होते हैं साथ

    कोडिपेंडेंट रिलेशनश‍िप वास्तव में वह रिश्ता है जिसमें साथ रहना कुछ हद तक 'चिपके' रहना जैसा होता है। यह स्वस्थ नहीं होता, लेकिन आप उसे छोड़ना नहीं चाहते हैं। इस रिश्ते में एक व्यक्ति के पास आत्मनिर्भरता और स्वायत्तता नहीं होती। इसमें एक साथी या कभी-कभी दोनों एक दूसरे के साथ अपनी जरूरतों की पूर्ति के लिए ही होते हैं। image courtesy : getty images

    क्यों होते हैं साथ
  • 4

    कौन बन सकता है कोडिपेंडेंट

    कोई भी कोडिपेंडेंट बन सकता है। कुछ शोधों में यह बात सामने आयी है कि जिन बच्चों के अभ‍िभावक उन्हें किशोरावस्था में भावनात्मक रूप से दुत्कारते हैं  या उनकी उपेक्षा करते हैं उनके कोडिपेंडेंट रिलेशनशिप में पड़ने की आशंका अधिक होती है। ऐसे बच्चों को अपने माता-पिता की जरूरतों के लिए अपनी खुशी को छोड़ना सिखाया जा सकता है। और फिर मुश्क‍िल या चुनौतीपूर्ण इनसान से प्यार और सुरक्षा पाने के लिए उन्हें यही रास्ता समझ में आने लगता है। और यह उनकी जीवनशैली का हिस्सा बन जाता है। image courtesy : getty images

    कौन बन सकता है कोडिपेंडेंट
  • 5

    क्या उसके बिना आप असहज हो जाते हैं

    जब वह व्यक्ति आपके आसपास नहीं होता, तो आप असहज हो जाते हैं। आपको संतोष नहीं मिलता। भले ही आपके साथ कितने ही लोग क्यों न हों। आप हर समय उसी को तलाश करते रहना चाहते हैं। अगर वह आपके करीब नहीं होता, तो आपको सब कुछ अजीब और बेकार लगने लगता है। आपका व्यवहार भी अजीब हो जाता है। आपको अपूर्णता का अहसास होता है। लगता है वो नहीं है, तो बहुत कुछ कमी है। image courtesy : getty images

     क्या उसके बिना आप असहज हो जाते हैं
  • 6

    बुरा है, पर मेरा है

    आप जानते हैं कि उसका व्यवहार सही नहीं है। आप यह भी जानते हैं कि वह आपके साथ बुरा व्यवहार करता है। कई मामलों में तो यह उसकी आदत बन चुका है। लेकिन, बावजूद इसके आप उसे छोड़ना नहीं चाहते। आप उससे अलग नहीं होना चाहते। आप उसके साथ ही रहना चाहते हैं। तो समझ जाइये कि कहीं न कहीं आप कोडिपेंडेंट रिलेशनश‍िप से गुजर रहे हैं। image courtesy : getty images

    बुरा है, पर मेरा है
  • 7

    सब कुछ लुटाकर है साथ

    क्या आप अपने साथी को हर कीमत पर सपोर्ट कर रहे हैं। ऐसा होना भी चाहिये। लेकिन क्या आप इसके लिए अपने मानसिक, भावनात्मक और शारीरिक स्वास्थ्य की अनदेखी कर रहे हैं। क्या आप इन सब पहलुओं की परवाह किये बिना भी अपने साथी का साथ पाने के लिए कुछ भी कर सकते हैं। तो यह ठीक नहीं। image courtesy : getty images

    सब कुछ लुटाकर है साथ
  • 8

    करीबियों की सुनें

    अगर आपके करीबी लोग आपको बार-बार यह सलाह देते हैं कि आप हर फैसले के लिए अपने साथी पर निर्भर हैं या कई बार उनकी चाहत उन्हें अपनी राह चुनने के लिए कहती है, तो अपने साथी के खिलाफ जाने के खयाल भर से ही वे डर जाते हैं। तो आप कोडिपेंडेंट रिलेशनश‍िप से गुजर रहे हैं। image courtesy : getty images

    करीबियों की सुनें
  • 9

    हर बार चिंता

    अपने रिश्ते में उन्हें किसी अन्य भावना से ज्यादा चिंता का अहसास होता है। वे रिश्ते में प्यार या गुस्से के तड़के का आनंद नहीं ले पाते। उन्हें तो बस फिक्र होती है। वे अपनी अध‍िकतर ऊर्जा या तो अपने साथी को बदलने में लगाते हैं या फिर अपने साथी की मर्जी को पूरा करने में। image courtesy : getty images

    हर बार चिंता
  • 10

    कोडिपेंडेंट रिलेशनश‍िप का प्रभाव

    कोडिपेंडेंट रिलेशनश‍िप के चलते आप बर्नआउट हो सकते हैं। आप स्वयं को निचड़ा हुआ महसूस कर सकते हैा। आपको अहसास हो सकता है कि आपकी उपेक्षा की जा रही है।  और अगर आप अपने साथी की खुशी के लिए कुछ भी कर गुजरने को तैयार हैं, तो एक मायने में आप उन्हें जीवन की वास्तविकताओं से दूर कर रहे हैं। image courtesy : getty images

    कोडिपेंडेंट रिलेशनश‍िप का प्रभाव
  • 11

    कोड‍िपेंडेंट रिलेशनश‍िप को कैसे बदलें

    रिश्ता तोड़ना इसका कोई हल नहीं है। बेहतर होगा कि आप अपने रिश्ते में मौजूद खामियों को दूर करने का प्रयास करें। हर किसी के लिए सीमायें तय होना जरूरी है। और हर किसी को हक है कि वह अपनी खुशियां तलाश करे। और आपको भी यह हक हैं। image courtesy : getty images

    कोड‍िपेंडेंट रिलेशनश‍िप को कैसे बदलें
  • 12

    बात करें

    विशेषज्ञ मानते हैं कि जरूरी है कि आप अपने साथी के बैठकर बात करें। आप उसे बतायें कि आपके रिलेशनश‍िप में क्या परेशानियां आ रही हैं। उससे इस बारे में चर्चा करें कि रिश्ते को बेहतर बनाने के लिए क्या साझा प्रयास किये जाने की जरूरत है। image courtesy : getty images

    बात करें
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर