हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

पुरुषों के लिए गुस्‍सा कम करने के टिप्‍स

By:Bharat Malhotra, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jun 19, 2014
गुस्‍से के नुकसान हम जानते हैं, लेकिन इसके बावजूद यह हमें गाहे-बगाहे परेशान करता ही रहता है। आइए जानें पुरुष कैसे अपने गुस्‍से को काबू कर सकते हैं। ऐसा करके आप अपने मानसिक और शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य को स्‍वस्थ रख सकते हैं।
  • 1

    गुस्‍से को कैसे करें काबू

    एक पल का क्रोध आपका भविष्‍य बिगाड़ सकता है। यह बात हम सब जानते हैं, लेकिन इसके बावजूद हम सब गुस्‍सा करते हैं। गुस्‍सा आना बुरी बात नहीं, लेकिन इसका गुलाम हो जाना अच्‍छी बात नहीं। आइए जानें, आप कैसे अपने गुस्‍से को काबू कर सकते हैं। Image Courtesy- Getty Images

    गुस्‍से को कैसे करें काबू
  • 2

    गहरी सांस लें

    जब कभी आपको गुस्‍सा आए, तो गहरी सांस लें। खुद से सकारात्‍मक बातें करें। गुस्‍सा पैदा करने वाले अपने विचारों को काबू करें। अपने गहरे डायाफ्रॉम से सांस लें। धीरे-धीरे खुद को शांत करने के लिए 'रिलेक्‍स' या 'शांति' शब्‍द बोलें। गहरी सांस की प्रक्रिया को तब तक दोहरायें जब तक आपका गुस्‍सा कम न हो जाए। Image Courtesy- Getty Images

    गहरी सांस लें
  • 3

    गुस्‍सा जाहिर करना बेहतर

    कई बार गुस्‍सा जाहिर करना उसे अपने भीतर रखने से बेहतर होता है। लेकिन, गुस्‍से को सही प्रकार से जाहिर करना भी एक कला है। नियमित रूप से गुस्‍सा आना आपके निजी और व्‍यावसायिक जीवन को नुकसान पहुंचा सकता है। इसके साथ ही गुस्‍सा आपकी सेहत को भी नुकसान पहुंचाता है। सही तरीके से गुस्‍सा जाहिर कर आप अपनी जरूरत, भावनाओं और प्राथमिकताओं को सही प्रकार जाहिर कर सकते हैं। गुस्‍से की जगह दबंग बनकर रहना आपके लिए ज्‍यादा फायदेमंद हो सकता है। Image Courtesy- Getty Images

    गुस्‍सा जाहिर करना बेहतर
  • 4

    रिकॉर्ड रखें

    अगर आपको यह जानने में परेशानी होती है कि आपको कब गुस्‍से वाले विचार आते हैं, तो आप इसका एक रिकॉर्ड रखना भी शुरू कर सकते हैं। इससे आपको अपने विचारों पर नजर रखने में मदद मिलेगी। Image Courtesy- Getty Images

    रिकॉर्ड रखें
  • 5

    नजरिया बदलें

    गुस्‍सा तब आता है, जब कोई चीज या घटना हमारी पसंद के हिसाब से नहीं होती। तो, इसके लिए जरूरी है कि हम चीजों को देखने का अपना नजरिया बदलें। हम खुद को दूसरों की जगह रखकर देखें और सोचें कि अगर हम उस जगह होते तो हम क्‍या करते। या दूसरे हमारी जगह होकर ऐसे ही गुस्‍सा करते तो हमें कैसा लगता। दूसरों के नजरिये से सोचने से हमारा गुस्‍सा गायब हो जाता है। Image Courtesy- Getty Images

    नजरिया बदलें
  • 6

    खुद पर हंसना सीखें

    यह एक बहुत काम की कला है। खुद अपनी गलती पर हंसने का हुनर किसी-किसी के पास होता है। किसी मजाकिया परिस्थिति में अगर आप अपने ऊपर हंस सकते हैं, तो आपके लिए दूसरों की गलती को माफ करना भी आसान होगा। Image Courtesy- Getty Images

    खुद पर हंसना सीखें
  • 7

    अच्‍छे श्रोता बनें

    अच्‍छे श्रोता बनें। अगर आप दूसरों की बात अच्‍छी तरह सुनते हैं, तो झगड़े और गुस्‍से की आशंका कम हो जाती है। संवाद किसी भी विवाद को खत्‍म करने का सर्वोत्‍तम उपाय है। इससे आप दूसरों की भावनाओं को बेहतर तरीके से समझ सकते हैं। संवाद से विश्वास बहाली होती है, जो गुस्‍से को कम करती है। Image Courtesy- Getty Images

    अच्‍छे श्रोता बनें
  • 8

    बात कहने का हुनर सीखें

    अपनी बात सही प्रकार से कहने का हुनर सीखें। शांत चित्‍त और स्‍पष्‍ट बात करें। इसके लिए आपको रक्षात्‍मक रवैया अपनाने की जरूरत नहीं है। और ही भावनात्‍मक रूप से उग्र होने की ही जरूरत है। इसके लिए आप किताबों की भी जरूरत रहती है। Image Courtesy- Getty Images

    बात कहने का हुनर सीखें
  • 9

    योग और ध्‍यान का सहारा

    योग और ध्‍यान आपको मानसिक रूप से शांति प्रदान करते हैं। ध्‍यान आपको एकाग्र और सुकून प्रदान करते हैं। कई वैज्ञानिक शोध भी इस बात को प्रमाणित कर चुके हैं कि योग और ध्‍यान क्रोध को नियंत्रित करने में सहायक होते हैं। Image Courtesy- Getty Images

    योग और ध्‍यान का सहारा
  • 10

    विशेषज्ञ की मदद लें

    कभी-कभार गुस्‍सा आना मानवीय स्‍वभाव का हिस्‍सा है। इसमें कोई बड़ी बात नहीं। लेकिन, नियमित रूप से गुस्‍सा आना कहीं न कहीं बड़ी परेशानी की ओर इशारा करता है। यदि आप अपनी तमाम कोशिशों के बावजूद अपने गुस्‍से पर काबू नहीं कर पा रहे हैं, तो आपको किसी मनोचिकित्‍सक या मनोवैज्ञानिक की मदद लेनी चाहिये। Image Courtesy- Getty Images

    विशेषज्ञ की मदद लें
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर