हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

दुनियाभर की इन नैचुरल थेरेपी के बारे में जानकर आप हमेशा इन्‍हें ही आजमायेंगे

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Sep 17, 2015
वैकल्पिक चिकित्सा कई गंभीर बीमारियों को दूर करने के साथ तन और मन को स्‍वस्‍थ रखता है, इस स्‍लाइडशो में हम आपको दुनियाभर में मौजूद थेरेपी और उनकी उपयोगिता के बारे में बता रहे हैं।
  • 1

    रबड़ नेति, नाक की सफाई के लिए

    योग की इस तकनीक को भारत में कई जगह उपयोग किया जाता है। इसमें एक गिली कपास की डोरी को नाक के छिद्रों में डाल कर मुंह के रास्ते बाहर निकाला जाता है। नेति की मदद से नाक के छिद्रों को ठीक से साफ किया जाता है। लेकिन ध्यान रहे कि इसे केवल और केवल किसी पेशेवर के दिशा-निर्देश में ही किया जाना चाहिए।

    Images source : © Getty Images

    रबड़ नेति, नाक की सफाई के लिए
  • 2

    घातक रोगों के लिए मधुमक्खी का विष

    चीन में लोग जीवन के लिये घातक कई रोगों के उपचार के लिये मधुमक्खी के विष से एक्यूपंक्चर करने के लिए एक्यूपंक्चर क्लीनिकों में जाते हैं। चीनियों ने इस तकनीक का इस्तेमाल कैंसर और गठिया के रोगियों का इलाज करने के लिए भी इस्तेमाल किया है।  
    Images source : © Getty Images

    घातक रोगों के लिए मधुमक्खी का विष
  • 3

    दमा के लिए कच्ची मछली


    हैदराबाद में बठिनी गौड़ ब्रदर्स के अनुसार उनके पास एक ऐसी मछली वाली दवा है है जिससे सांस की बीमारियों व अस्थमा का इलाज होता है। इसके तरह एक छोटी ज़िंदा मछली के मुंह में गौड़ ब्रदर्स द्वारा तैयार दवा (जिसे फिश प्रसादम कहा जाता है) डाल कर रोगी को निगलवाया जाता है।
    Images source : odditycentral

    दमा के लिए कच्ची मछली
  • 4

    गठिया, जोड़ों के दर्द और बांझपन के लिये सेंड बेरीअल

    सेंड बेरीअल अर्थात रेत में दफन करना, सुनने में डरावना लगता है, लेकिन ये है दरअसल इजिप्ट का एक उपचार है जिसके तरह गठिया, जोड़ों के दर्द और बांझपन आदि के रोगियों को उपचार के लिये रेगिस्तार की गरम रेत में गर्दन तक दबाया जाता है।
    Images source : julestorti.wordpress

    गठिया, जोड़ों के दर्द और बांझपन के लिये सेंड बेरीअल
  • 5

    डिप्रेशन के लिये पप्‍पी थेरेपी


    अमरीका में किए गए अध्ययनों के मुताबिक डिप्रेशन से निजात पाने के लिये बेबी डोग्स की मदद से दी गई थेरपी, जिसे पप्‍पी थेरेपी कहा जाता है, बेहद प्रभावी होती है। तो यदि आप दफ्तर के काम से थक चुके हैं तो बेबी डोग्स के साथ थोड़ा वक्त गुज़ारें।

    Images source : © Getty Images

    डिप्रेशन के लिये पप्‍पी थेरेपी
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर