हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

जानें स्‍वास्थ्‍य के लिए कितना फायदेमंद है हरसिंगार

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Dec 08, 2015
हरसिंगार के फूल ईश्वर की आराधना में महत्वपूर्ण स्थान रखते है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि इसके फूल, पत्ते और छाल का उपयोग औषधि के रूप में किया जाता है।
  • 1

    स्‍वास्‍थ्‍य गुणों से भरपूर है हरसिंगार

    हरसिंगार जिसे नाइट जैस्मिन भी कहते हैं, एक सुन्दर झाड़ीनुमा छोटा पेड़ है, जिस पर सुन्दर व सुगन्धित फूल लगते हैं। हरसिंगार उन प्रमुख पेड़ों में से एक है, जिसके फूल ईश्वर की आराधना में महत्वपूर्ण स्थान रखते है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि इसके फूल, पत्ते और छाल का उपयोग औषधि के रूप में किया जाता है। यह लगभग पूरे भारत में पाया जाता है। इसके पत्तों में टेनिक एसिड, मैथिल सिलसिलेट और ग्लूकोसाइड होता है ये द्रव्य औषधीय गुणों से भरपूर हैं। इसके पत्तों का सबसे अच्छा उपयोग सायटिका रोग को दूर करने में किया जाता है। आइए इस स्‍लाइड शो के माध्‍यम से हरसिंगार के औषधीय गुणों की जानकारी लेते हैं।
    Image Source : nihsarg.com

    स्‍वास्‍थ्‍य गुणों से भरपूर है हरसिंगार
  • 2

    सायटिका का इलाज करें

    दो कप पानी में हरसिंगार के 5-6 पत्तों के छोटे-छोटे टुकड़े करके डालकर, इस पानी को धीमी आंच पर आधा रह जाने तक पकाएं। ठंडा हो जाने पर इसे छानकर पियें।  इस काढ़े को दिन में दो बार यानी प्रात खाली पेट एवं शाम को भोजन के एक डेढ़ घंटा पहले पियें। इस प्रयोग से सायटिका रोग जड़ से चला जाता है। इस काढ़े का प्रयोग कम से कम 8 दिन तक अवश्य करना चाहिए।

    सायटिका का इलाज करें
  • 3

    अर्थराइटिस के दर्द को दूर करें

    हरसिंगार के पांच पत्तों को पीसकर पेस्ट बना लें, इस पेस्ट को एक गिलास पानी में मिलाकर धीमी आंच पर पकाएं। जब पानी आधा रह जाये तब इसे पीने लायक ठंडा करके पियें। इस काढ़े का सेवन सुबह खाली पेट करें। इससे वर्षों पुराने अर्थराइटिस के दर्द में भी निश्चित रूप से लाभ होता है।

    अर्थराइटिस के दर्द को दूर करें
  • 4

    बबासीर की रामबाण औषधि

    बबासीर के लिए हरसिंगार के बीज रामबाण औषधि की तरह काम करते हैं। इसके एक बीज का सेवन प्रतिदिन करने से बवासीर ठीक हो जाता है। या हारसिंगार के बीज 10 ग्राम तथा कालीमिर्च 3 ग्राम को मिलाकर पीस लें और चने के बराबर आकार की गोलियां बनाकर खायें। रोजाना 1-1 गोली गुनगुने जल के साथ सुबह-शाम खाने से बवासीर ठीक होती है। यदि गुदाद्वार में सूजन या मस्से की समस्‍या है तो हरसिंगार के बीजों का लेप बनाकर गुदे पर लगाने से लाभ मिलता है।

     बबासीर की रामबाण औषधि
  • 5

    रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये

    हरसिंगार के सेवन से आप अपनी रोगप्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ा सकते हैं। माना जाता है कि एक स्वस्थ व्यक्ति अगर सर्दियों में एक सप्ताह तक हरसिंगार के पत्तों का काढ़ा पियें तो उसकी शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता बढती है एवं शरीर में होने वाला किसी भी प्रकार का संक्रमण समाप्त हो जाता है।
    Image Source : Getty

    रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर