हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

लू के साथ दूसरी समस्‍याओं में फायदेमंद है गुलकंद

By:Aditi Singh , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Apr 23, 2015
गुलकंद के मीठेपन से तो आप सभी वाकिफ होंगे, पर क्या आपने कभी सोचा है कि यही मीठा गुलकंद आपकी किसी सेहत से जुड़ी कई समस्‍याओं का उपचार भी कर सकता है, तो अब गुलकंद का फायदा उठायें और बीमारियों से बचाव करें।
  • 1

    मीठे गुलकंद के मीठे गुण

    गुलाब की पंखुडियों से बना ये गुलकंद सेहत के लिए फायदेमंद होता है। गर्मियों के मौसम में गुलकंद कई तरह के फायदे पहुंचाता है। गुलकंद में विटामिन सी, ई और बी पाया जाता है। भोजन के बाद गुलकंद का सेवन भोजन को पचाने के लिए किया जा सकता है और इसके सेवन से पाचन संबंधी समस्याएं भी दूर रहती हैं। 2 चम्मच गुलकंद खाने से लू से राहत मिल जाती है। आइये विस्तार से जानें इसके सभी फायदों के बारे में।
    Image Source - Getty image

    मीठे गुलकंद के मीठे गुण
  • 2

    दिल का दोस्त गुलकंद

    दिल की बीमारी में अर्जुन की छाल और देसी गुलाब मिलाकर उबालें और पी लें, हृदय की धड़कन अधिक हो तो इसकी सूखी पंखुडियां उबालकर पियें। आंतों में घाव हो तो 100 ग्राम मुलेठी, 50 ग्राम सौंफ, 50 ग्राम गुलाब की पंखुड़ियां तीनों को मिलाकर 10 ग्राम की मात्रा में लें। इसका 100 ग्राम पानी में काढ़ा बनाकर पीएं।
    Image Source- Getty image

    दिल का दोस्त गुलकंद
  • 3

    डीहाइड्रेशन में फायदेमंद

    गुलाब से बने गुलकंद में गुलाब का अर्क होता है जो शरीर को ठंडक पहुंचाता है। यह शरीर को डीहाइड्रेशन से बचाता है और तरोताजा रखता है। यह पेट को भी ठंडक पहुंचाता है। गर्मी के दिनों में गुलकंद स्फूर्ति देने वाला एक शीतल टॉनिक है, जो गर्मी से उत्पन्न थकान, आलस्य, मांसपेशियों का दर्द और जलन आदि कष्टों से बचाता है।
    Image Source- Getty image

    डीहाइड्रेशन में फायदेमंद
  • 4

    एसिडिटी से बचाए

    गुलकंद रक्त को शुद्ध करता है, हाजमा दुरुस्त रखता है और आलस्य दूर करता है। गुलकंद शरीर के तापमान को नियंत्रित करता है और एसिडिटी को भी दूर करता है। रोजाना 1-2 चम्मच गुलकंद खाने से एसिडिटी की समस्या दूर होती है। पीरियड के दौरान गुलकंद खाने से पेटदर्द में आराम मिलता है।
    Image Source- Getty image

    एसिडिटी से बचाए
  • 5

    टॉक्सिन की छुट्टी

    गुलकंद की तासीर ठंडी होती है। इसे खाने से शरीर में जमा अतिरिक्त टॉक्सिन (विषैले पदार्थ) निकल जाते हैं। इससे शरीर साफ रहता है और विषैले पदार्थो का जमाव नहीं होता है। गुलकंद में आमाशय, आंत और यकृत की कमजोरी दूर करके इनमें शक्‍ति का संचार करने की क्षमता है।
    Image Source- Getty image

    टॉक्सिन की छुट्टी
  • 6

    संवारे आपकी रंगत

    गुलकंद, आपकी सावंली रंगत को साफ करता है। दरअसल गुलकंद शरीर से टॉक्सिन निकालता है और खून की सफाई करता है। जिससे चेहरे का रंग निखारता है और पिंपल्स, वाइटहैड्स जैसी समस्याओं से राहत मिलती है। इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण हैं जो त्वचा हाइड्रेट रखता है।
    Image Source- Getty image

    संवारे आपकी रंगत
  • 7

    तनाव से राहत

    आधुनिक लाइफस्टाइल में तनाव होना सामान्य है, लेकिन तनाव के चलते कई तरह की समस्या पैदा होने लगती है। ऐसे में गुलकंद आपके नर्वस सिस्टम को सामान्य करता है, जिससे तनाव कम होता है और दिमाग शांत रहता है। पंखुडियों को उबालकर इसका पानी ठंडा कर पीने से तनाव में राहत मिलती है और मांसपेशियों की अकड़न दूर होती है।
    Image Source- Getty image

    तनाव से राहत
  • 8

    मुंह के छालों में आराम

    अगर आपके मसूड़ों में सूजन रहती है तो सुबह-शाम एक-एक चम्मच गुलकंद खाए। इससे मसूड़ों की सूजन या खून आने की समस्या दूर हो जाती है। साथ ही मुंह के छाले भी दूर करने के लिए भी गुलकंद खाना फायदेमंद होता है। गुलाब के फूल, लौंग, अकरकरा और शीतल चीनी को पीसकर गुलाब जल के साथ गोलियां बनाकर चूसने से मुंह की दुर्गंध दूर होती है।
    Image Source- Getty image

    मुंह के छालों में आराम
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर