हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

बच्‍चों को सुलाने से पहले कहानी सुनाने से होते हैं ये फायदे

By:Gayatree Verma , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Oct 29, 2015
पहले अधिकतर बच्चे रात को सोने का बेसब्री से इंतजार करते थे, क्योंकि सोते वक्त दादा-दादी की कहानियां सुनने को मिलती थीं। ये कहानियां मनोरंजन के साथ बच्चों के मस्तिष्क विकास में मदद करती थीं। कहानियों के ऐसे ही अन्य फायदे इस स्लाइडशो में पढ़ें।
  • 1

    कहानियों के फायदे

    आज के समय में भले ही पूरी दुनिया मीडिया और टेक्नोलॉजी से जुड़ी हुई है। लेकिन फिर भी बच्चे मां-बाप से, दोस्त एक-दूसरे से, भाई-बहन एक-दूसरे से दूर हो रहे हैं। जुड़ने के साधन जितने ज्यादा हो गए हैं रिश्तों के बीच उतनी ही अधिक दूरी आ गई है। सबसे ज्यादा दूरी आई है बच्चों और दादा-दादी के बीच। आज तो मुश्किल से ही बच्चे दादी मां की कहानियां सुनते हैं। जबकि ये कहानियां बच्चों के लिए कई तरह से फायदेमंद हैं। सोते समय कहानी सुनने के कई लाभ हैं।

    कहानियों के फायदे
  • 2

    शब्दकोश का ज्ञान

    कहानियां सुन कर बच्चों को नये-नये शब्दों का ज्ञान होता था। एक तरह से कहानियां बच्चों के शब्दकोश के ज्ञान को बढ़ाती हैं। कहानियां सुनने के दौरान बच्चे कई सवाल भी पूछते जिनका जवाब आप उदाहरण समेत देते हैं। आप के द्वारा दिए गए जवाब बच्चे सोने से पहले सुनते हैं और उसके बाद सोते हैं। ऐसे में ये जवाब और शब्द बच्चों की स्मृति में लंबे समय के लिए रह जाती हैं।

    शब्दकोश का ज्ञान
  • 3

    क्रिएटिविटी बढ़ती है

    कंप्युटर या लैपटॉप पर बैठकर कहानी सुनने से आंखों में जोर  पड़ता है। साथ ही ये डिजिटल माध्यम बच्चों की कल्पनाशक्ति पर रोक लगा देते हैं। जबकि कहानी सुनने के दौरान हर बच्चा अपनी कल्पना में खो जाता है जिससे उनकी क्रिएटिविटी बढ़ती है।

    क्रिएटिविटी बढ़ती है
  • 4

    संस्कृति से जुड़ाव

    अधिकतर बच्चे इंग्लिश मीडियम स्कूल में पढ़ रहे हैं। ऐसे में वे स्कूल और दोस्तों से अपनी भाषा में कम ही बात करते हैं। इससे उन्हें अपनी भाषा और संस्कृति का कम ज्ञान होता है। कहानी सुनाने की परंपरा बच्चों में अपनी भाषा के प्रति जिज्ञासा और जागरूकता दोनों बनी रहती है। उनमें अपनी मातृभाषा के प्रति प्रेम विकसित होता है और वे कहानियां सुनने में रुचि दिखाते हैं।

    संस्कृति से जुड़ाव
  • 5

    बच्चे का आप से जुड़ाव

    कहानी सुनाना कोई काम नहीं बल्कि एक लंबी प्रक्रिया है जिससे बच्चे और आपके बीच में एक जुड़ाव पैदा होता है। यही जुड़ाव बड़े होने पर भी आपके बच्चे को आपसे दूर नहीं जाने देगा।

    बच्चे का आप से जुड़ाव
  • 6

    जल्दी सीखते हैं

    कहानी सुनने के दौरान बच्चे सवाल करते हैं। उनका यही सवाल पूछना, कुछ नया सीखने और बार-बार सवाल पूछने की आदत को विकसित करता है। इससे बच्चे जल्दी सीखते हैं।

    जल्दी सीखते हैं
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर