हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

एड्स के प्रति जागरुक करने वाली फिल्‍में

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Dec 01, 2012
एड्स के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए बॉलीवुड में कई फिल्‍में बनी हैं। इन फिल्मों के बारे में विस्तार से पढ़ें।
  • 1

    माई ब्रदर … निखिल

    इस फिल्‍म का नायक निखिल (संजय सूरी) एचआईवी का शिकार है। वह गोवा में परिवार के साथ रहता है। निखिल को सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य अधिनियम के तहत अलगाव का सामना करना पड़ता है। ऐसे में निखिल की बहन अनामिका (जूही चावला) और दोस्‍त निगेल (पूरब कोहली) एड्स संक्रमित लोगों खिलाफ भेदभाव मिटाने के लिए लड़ते हैं। निगेल और अनामिका तो अपनी जंग जीत जाते हैं, लेकिन निखिल जिंदगी की जंग हार जाता है।

    माई ब्रदर … निखिल
  • 2

    फिर मिलेंगे

    फिल्‍म की हीरोइन तमन्‍ना (शिल्‍पा शेट्टी) को एचआईवी से ग्रस्‍त होने के चलते विज्ञापन एजेंसी की अपनी नौकरी गंवानी पड़ती है। तमन्‍ना को यह बीमारी रोहित (सलमान) के साथ असुरक्षित यौन संबंध बनाने के कारण मिली। इसी के चलते उसे सामाजिक बहिष्‍कार का सामना करना पड़ता है। उसकी नौकरी भी चली जाती है। लेकिन अपनी जॉब और आत्‍मसम्‍मान वापस पाने के लिए वह कानूनी लड़ाई लड़ती है, जिसमें उसे सफलता मिलती है।

    इसे भी पढ़ें- इस पेन ड्राइव से बस 30 मिनट में करें एचआईवी टेस्ट

    फिर मिलेंगे
  • 3

    निदान

    इस फिल्‍म में अस्‍पतालों में एचआईवी ग्रस्‍त मरीजों के प्रति अस्‍पताल और लोगों के विचारों को दर्शाया गया। महेश मांजरेकर के निर्देशन में बनी इस फिल्‍म में एचआईवी की शिकार मुंबई की एक लड़की की मुश्किलों के बारे में दिखाया गया है। लेकिन लड़की समाज के तानों से हार मानने की बजाए उनसे लड़ने का निश्‍चय करती है। अपनी दृढ इच्‍छाशक्ति के दम पर वह सम्‍मान के साथ एक सामान्‍य नागरिक का जीवन जीती है।

    निदान
  • 4

    ब्‍लड ब्रदर्स

    इस फिल्‍म में एचआईवी ग्रस्‍त नौजवान की जिंदगी को पर्दे पर दिखाया गया। फिल्‍म में एचआईवी से जुड़े मिथकों और भ्रांतियों पर कुठाराघात किया गया। और एड्स के बारे लोगों को जागरुक करने की कोशिश की गई। विशाल भारद्वाज की इस फिल्‍म को इसके लिए कई अवॉर्ड भी मिले।

    इसे भी पढ़ें- एचआईवी ग्रस्त बच्चे की परवरिश के तरीके

    ब्‍लड ब्रदर्स
  • 5

    प्रारंभ

    इस फिल्‍म का निर्देशन संतोष शिवम ने किया। फिल्‍म ट्रक चालक (प्रभुदेवा) पर केंद्रित थी। उसके ट्रक में एक बच्‍चा मिलता है जो एचआईवी ग्रस्‍त है। उसकी मां से उसे एड्स हुआ है। फिर भी वह उस बच्‍चे का पालन-पोषण करता है।

    प्रारंभ
Load More
X