हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

5 बॉलीवुड स्टार्स: फर्श से अर्श तक पहुंचने की कहानी

By:Gayatree Verma , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Nov 16, 2016
फर्श से अर्श तक पहुंचना... एक प्रसिद्ध कहावत है जो कुछ विशेष तरह की शख्सियत के लिए ही इस्तेमाल होती है। ऐसी शख्सियत जो रोड से करोड़पति बनने तक का सफर तय करती है और जिसकी कहानी पूरी तरह अविश्वसनीय लगती है। लेकिन होती पूरी सौ फीसदी सच है।
  • 1

    रजनीकांत: बस कंडक्टर से मेगास्टार बनने की कहानी

    मेगास्टर रजनीकांत को आज बच्चा-बच्चा तक जानता है। आज रजनीकांत की पूरे साल की कमाई है 50 मीलियन डॉलर है। लेकिन क्या आपको मालुम है रजनीकांत का बचपन काफी गरीबी में गुजरा है और वो पहले बस में कंडक्टर का काम करते थे। लेकिन वे ये काम भी पूरी खुशी से और अपने स्टाइल से करते थे जिसके कारण वे दूसरे बस कंडक्टरों के बीच काफी प्रसिद्ध हो थे। लेकिन एक दिन एक्टिंग के शौक के कारण उन्होंने अपना काम छोड़ कर चेन्नई के अद्यार फिल्म इंस्टिट्यूट में दाखिला ले लिया। जहां उनपर मशहूर फिल्म निर्देशक के. बालाचंदर की नज़र पड़ी और फिर उन्हें अपूर्व रागांगल में एक छोटा सा किरदार करने का मौका मिला। उस छोटे किरदार को रजनीकांत ने इतनी अच्छी तरह से निभाया कि हर कोई उनकी तारीफ करने लगा और फिर इसके बाद रजनीकांत ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

    रजनीकांत: बस कंडक्टर से मेगास्टार बनने की कहानी
  • 2

    अमिताभ बच्चन: रिजेक्ट होने के बाद महानायक बनने तक का सफर

    अगर आप कोई काम शुरू करते हैं और आपको लगातार रिजेक्शन मिले तो आप क्या करेंगे?
    उम्मीद खो देंगे। हर कोई रिजेक्शने के बाद टूट जाता है। लेकिन जो नहीं टूटता है वो महानायक बन जाता है।
    अमिताभ बच्चन को उनकी आवाज के लिए सबसे पहले ऑल इंडिया रेडियो ने रिजेक्ट किया। फिर उनकी एक के बाद एक... कई फिल्में फ्लॉप हुई। यहां तक की कई लोगों ने उन्हें फिल्मी लाईन छोड़ने की भी सलाह दी। लेकिन अमिताभ ने हार नहीं मानी और फिर एक लास्ट ट्राय जंजीर फिल्म में मारा। और फिर उनकी ये अंतिम कोशिश ही पहली हिट गई जो सदी के महानायक बनने की पहली सीढ़ी साबित हुई।

    अमिताभ बच्चन: रिजेक्ट होने के बाद महानायक बनने तक का सफर
  • 3

    अक्षय कुमार: वेटर से स्टार बनने की कहानी

    सिम्पल चेहरा, सामान्य कद-काठी, ना कोई फिल्मी बैकग्राउंड, ना कोई फिल्म व थियेटर की पढ़ाई... लेकिन फिर भी स्टार बनने का सपना।
    अगर ऐसा सपना आज कोई आपका दोस्त देखे तो आप उसे पागल और फेंकू कहेंगे। लेकिन ये सपना नब्बे के दशक में बैंकाक में काम करने वाले एक वेटर ने देखा और बॉलीवुड का रुख किया। आज वो वेटर बॉलीवुड का स्टार अक्षय कुमार बन गया है और अपनी हर फिल्म के लिए 40 से 50 करोड़ रूपए लेता है।

    अक्षय कुमार: वेटर से स्टार बनने की कहानी
  • 4

    धर्मेश येलेनड़े: चपरासी से बेस्ट डांसर बनने तक का सफर

    चपरासी कैसे होते हैं... काले और सामान्य। जो ऑफिस आने वाले लोगों को सलाम ठोकने का काम करते हैं। लेकिन जब इसी चपरासी को बॉलीवुड के डांसर और गीता मां जैसी फेमस कोरियोग्राफर भी सलाम करे तो आप क्या कहेंगे।
    फिर तो कहने के लिए कुछ बाकी ही नहीं रह जाएगा और बोलती अपने आप बंद हो जाएगी। ये बोलती बंद करने वाला शख्स है बॉलीवुड का बेस्ट डांसर धर्मेश येलेनड़े जिन्होंने कई सारे डांस रियलिटी शो में पार्टिसीपेट किया और एबीसीडी फिल्म में बतौर लीड कैरेक्टर काम किया।

    धर्मेश येलेनड़े: चपरासी से बेस्ट डांसर बनने तक का सफर
  • 5

    जॉनी लीवर: पेन बेचने से लेकर बेस्ट कॉमेडियन बनने तक की कहानी

    आज हंसने के लिए केवल जॉनी लीवर का नाम सुनना ही काफी होता है। लेकिन क्या आपको मालुम है, जो ये, शख्स आज दूसरों को हंसा रहा है उसका खुद का बचपन काफी अंधेरों में गुजर चुका है।
    जॉनी लीवर के बचपन में पैसों की तंगी इतनी अधिक थी की उन्हें पैसों की कमी के कारण बीच में ही पढ़ाई छोड़नी पड़ी और फिर बसों में पेन बेचना शुरू किया। लेकिन आज उनकी गिनती बॉलीवुड के बेस्ट कॉमेडियन में होती है और उन्होंने 4 बार बेस्ट कॉमेडियन का ख़िताब भी जीता है।

    जॉनी लीवर: पेन बेचने से लेकर बेस्ट कॉमेडियन बनने तक की कहानी
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर