हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

ऑर्गेज्‍म के इन फायदों के बारे में नहीं जानतीं होंगी आप

By:Pradeep Saxena, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Apr 05, 2014
आर्गेज्‍म का अहसास न सिर्फ मिलन को सफल बनाता है, बल्कि इससे आप कई तरह की मानसिक और शारीरिक बीमारियों से भी बचे रह सकते हैं। आइए इस स्‍लाइड शो के जरिये जाने आर्गेज्‍म के और क्‍या-क्‍या फायदे है।
  • 1

    ऑर्गेज्‍म के फायदे

    एक अध्ययन के अनुसार, आर्गेज्‍म का अहसास न सिर्फ मिलन को सफल बनाता है, बल्कि इससे आप कई तरह की मानसिक और शारीरिक बीमारियों से भी बचे रह सकते हैं। रटगर्स विश्वविद्यालय के अध्ययन में मगदालेना सालामांसा की इस बात की पुष्टि करते हुए कहते हैं कि शारीरिक और मानसिक सेहत का यौन क्रिया के दौरान आर्गेज्‍म से सीधा संबंध होता है। आइए इस स्‍लाइड शो के जरिये जाने आर्गेज्‍म के और क्‍या-क्‍या फायदे है।

    ऑर्गेज्‍म के फायदे
  • 2

    रक्त प्रवाह बेहतर

    सेक्स के दौरान ऑर्गेज्म हासिल करने से शरीर में रक्त में ऑक्‍सीजन की मात्रा बढ़ जाती है जिससे रक्त प्रवाह बेहतर होता है और सभी अंगों तक पहुंचता है। यूसीएलए के फीमेल सेक्सुअल मेडिसिन सेंटर की सह-संस्थापक डॉ. जेनिफर बरमैन के अनुसार, आर्गेज्‍म से जननांगों के क्षेत्र में रक्त प्रवाह तेज हो जाता है। इस कारण से आपके शरीर के टिश्‍यू स्वस्थ बने रहते हैं।

    रक्त प्रवाह बेहतर
  • 3

    दिल के लिए व्‍यायाम

    ऑर्गेज्‍म दिल के लिए सुखद व्‍यायाम की तरह काम करता है। यह कार्डियो अभ्यास का ही एक रूप है, हालांकि इसे प्रतिदिन व्यायाम का विकल्प नहीं माना जा सकता है, लेकिन यह कार्डियोवैस्कुलर व्यायाम की तरह ही काम करता है। क्‍योंकि यह कई मामलों में दौड़ने की तरह है इसलिए इस दौरान शरीर एंडोरफिन्स पैदा होता है। दिल के लिए इससे ज्यादा सुखद व्यायाम और कोई नहीं हो सकता।

    दिल के लिए व्‍यायाम
  • 4

    मस्तिष्‍क को स्‍वस्‍थ रखता है

    ऑर्गेज्‍म से न केवल आपके दिल की एक्‍सरसाइज होती है बल्कि यह मस्तिष्‍क को स्‍वस्‍थ रखने में भी मदद करता है।  अमरीका में न्यू जर्सी के रटगर्स यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने पाया कि चरम सुख की स्थिति में मस्तिष्‍क के 80 अलग अलग हिस्से सक्रिय हो जाते हैं। इससे आपका मस्तिष्क भी स्वस्थ रहता है। क्‍योंकि ऑर्गेज्‍म के दौरान मस्तिष्क में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन पहुंचती है।

    मस्तिष्‍क को स्‍वस्‍थ रखता है
  • 5

    सुखद नींद में सहायक

    हाल ही में हुए एक अध्‍ययन में पाया कि लगभग 30 प्रतिशत से अधिक महिलाओं आर्गेज्‍म का उपयोग एक प्राकृतिक शांतिदायक औषधि के रूप में प्रयोग किया। ऑर्गेज्‍म के बाद नींद बहुत अच्‍छी आती है और आपको अधिक सोने में मदद मिलती है। जिससे आप तारोताजा महसूस करते हैं।

    सुखद नींद में सहायक
  • 6

    मूड में बदलाव

    सेक्स से संबंधित मनोविज्ञान की विशेषज्ञ स्पेन की मगदालेना सालामांसा ने बीबीसी के अनुसार, यौन सुख की अनुपस्थिति में कई तरह की बीमारियां और मानसिक विकृतियां पैदा हो सकती हैं। लेकिन ऑर्गेज्‍म आपकी नकारात्मक विचार को सकारात्मक में बदल देता है। ऑर्गेज्‍म के दौरान एंडोर्फिन्‍स के अलावा डोपामाइन और ऑक्‍सीटोसिन नामक तीन हार्मोंस निकलते हैं। इन तीनों हार्मोन्‍स को असर मूड पर पड़ता हैं और आपका मूड अच्‍छा रहता हैं।

    मूड में बदलाव
  • 7

    प्राकृतिक पेनकिलर

    ऑर्गेज्‍म एक प्राकृतिक पेनकिलर भी है। डॉक्‍टरों को मानना है कि ऑर्गेज्म से कुछ शारीरिक और मानसिक दर्दों से छुटकारा मिलता है। इससे माइग्रेन और मासिक धर्म के दौरान होने वाली पीड़ा से भी छुटकारा मिलता है।

    प्राकृतिक पेनकिलर
  • 8

    स्वस्थ व्यक्तितत्व

    अमेरिकी मनोवैज्ञानिक अना लुना का मानना है कि ऑर्गेज्‍म स्वस्थ व्यक्तितत्व का अहम हिस्सा है। उनके अनुसार, यौन सुख न मिलने से व्यक्ति में चिड़चिड़ापन, उदासी, तुनकमिजाजी बढ़ती हैं और यहां तक उसे मुस्कराने के लिए भी प्रयास करना पड़ता है। लेकिन ऑर्गेज्‍म की प्राप्ति करने वाला इंसान खुश रहता हैं।

    स्वस्थ व्यक्तितत्व
  • 9

    मासिक धर्म में फायदेमंद

    वैज्ञानिकों के अनुसार, सामान्य की तुलना में ऑर्गेज्‍म के दौरान महिलाओं के मस्तिष्क में अधिक ऑक्सीजन का उपयोग होता है। इसके अलावा बेरमैन का कहना है कि ऑर्गेज्म के दौरान होने वाले संकुचन से मासिक धर्म के दौरान बनने वाले रक्त के थक्कों को हटाने में मदद मिलती है, जिससे महिलाएं कुछ समय के लिए राहत महसूस करती हैं।

    मासिक धर्म में फायदेमंद
  • 10

    तनाव दूर करें

    आजकल की भागदौड़ भरे जीवन में हम सहज और स्‍वाभाविक होने की कल्‍पना भी नहीं कर सकते हैं। मनोवैज्ञानिक अना लुना के अनुसार, मिसाल के तौर पर, चिंता ऐसी विकृति है जो ऑर्गेज्‍म न मिलने से जुड़ी होती है। लेकिन ऑर्गेज्‍म हमें दोहरा लाभ देता है एक ओर इसके दौरान निकलने वाले हार्मोंन अपना काम करते हैं। दूसरी ओर सेक्‍स करने से हमारे दिमाग को भी एक ब्रेक मिल जाता है। सेक्स के दौरान ध्यान मात्र एक बात पर केंद्रित होने के कारण अनावश्यक तनाव से छुटकारा मिल जाता है।

    तनाव दूर करें
  • 11

    स्वस्थ और कांतिमय त्‍वचा

    ऑर्गेज्‍म से आप स्‍वस्‍थ आभा भी पा सकती हैं। ऑर्गेज्‍म के दौरान निकालने वाला डीएचईए यानि डिहाइड्रोएपियनड्रोस्टेरोन (dehydroepiandrosterone)  का स्‍तर बढ़ जाता है और इससे त्‍वचा को अधिक स्वस्थ और कांतिमय हो जाती है।

    स्वस्थ और कांतिमय त्‍वचा
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर